Previous
Next

Sunday, January 22, 2017

फरीदाबाद क्राइम ब्रांच को बड़ी सफलता, पल भर में दबोच लिए गए हत्यारे

फरीदाबाद क्राइम ब्रांच को बड़ी सफलता, पल भर में दबोच लिए गए हत्यारे

Faridabad 23 January 2017: पुलिस आयुक्त डा. हनीफ कुरैषी के दिषा निर्देष पर व राजेष चेची ए.सी.पी. क्राईम की सुपरविजन में एस.आई. मौहम्मद इलयास प्रभारी क्राईम ब्रांच एन0आई0टी0 की टीम एस.आई. सतबीर, ए.एस.आई. जान मौहम्मद, एच.सी. यषपाल, सिपाही आरिफ व सिपाही मौनू ने ’’एक व्यक्ति का उसकी गाडी सहित अपहरण कर हत्या करने वाले’’ निम्नलिखित चार आरोपीयों को ए.सी.पी. क्राईम के आदेष पर गाॅव मानपुर-बहीन रोड जिला पलवल में नाका लगाकर गिरफतार किया और लूटी हुई वरना गाडी भी बरामद की।

1.    यषबीर पुत्र रणबीर निवासी गाॅव जाजरू बल्लबगढ़ फरीदाबाद।
2.    ब्रिजेश पुत्र विरेन्द्र निवासी गाॅव जाजरू बल्लबगढ़ फरीदाबाद।
3.    भूपेन्द्र उर्फ बोबी पुत्र राजबीर निवासी गाॅव जाजरू फरीदाबाद।
4.    हर्ष पुत्र ओमी निवासी गाॅव जाजरू फरीदाबाद।


           आपकों बताते चले कि दिनांक 21.01.2017 को राम जी पुत्र कमलेष निवासी गाॅव पालिया जिला मऊ यू0पी0 हाल खेडी पुल फरीदाबाद ने थाना सैन्ट्रल फरीदाबाद मे एक दरखास्त दी कि वह 10 दिन से जयबीर शर्मा पुत्र ओमबीर शर्मा निवासी खेडी ब्राहमण जिला पलवल हाल सैक्टर 29 फरीदाबाद के ट्राला पर चालक का काम कर रहा हूॅ। दिनांक 21.01.2017 को समय करीब 9ः30 बजे मैं अपने तेल की पर्ची एस्कोर्ट कम्पनी से लेकर 13/14 के डिवाईडिंग रोड पर अपने मालिक से खर्चा लेने के लिए आ रहा था कि सैक्टर 14 की तरफ मेरा मलिक अपनी वरना गाडी न0 HR51AS-9622 में बैठा हुआ था और रोड की दुसरी मैं तरफ मैं व्हीकल रूकने का इंतजार कर रहा था। इसी दौरान एक आॅटो आकर मेरे मालिक की गाडी के पास रूका जिसमें से तीन लडके उतरेे। एक ने गाडी की खिडकी खोल कर मेरे मलिक को दुसरी तरफ धक्का मारा और खुद चालक वाली सीट पर बैठ गया और दोनो लडके कार में अन्दर बैठ गये और तीनों जबरदस्ती मेरे मालिक का अपहरण कर, कार लूटकर कर बाईपास की तरफ ले गये तथा आॅटो चालक भी अपने आॅटो को बाईपास की तरफ ले गया। जिस पर मुकदमा न0 न0 50/17 धारा 392,365 आई.पी.सी. दर्ज रजिस्टर किया गया था। जिसकी तफतीष का जिम्मा श्रीमान पुलिस आयुक्त ने श्री राजेष चेची ए.सी.पी. क्राईम के नेत्तृव में प्रभारी क्राईम बांच एन0आई0टी0 को सौपा था। जिस पर तुरन्त कार्यवाही करते हुये सुचना ए.सी.पी. क्राईम की सुपरविजन में आरोपीयों को जिला पलवल से धर दबौचा।

          आरोपीयों को शक के आधार पर गिरफतार कर सख्ती से पूछताछ करने पर बताया कि हम चारों ने जयबीर को  गला दबाकर मार दिया था और उसकी लाष को चंदावली पुल के नजदीक आगरा कैनाल नहर में फैक दिया था। आरोपीयों की निषानदेही पर चन्दावली पुल के नजदीक आगरा कैनाल नहर से फायर ब्रिगेड की मदद से काटा डालकर मृतक जयबीर की लाष को निकाला गया। जिसे पोस्ट मार्टम के लिए बी.के. अस्पताल में रख गया है। पोस्ट मार्टम के बाद लाष को परजिनों के हवाले कर दिया जायेगा। आरोपीयों का पाॅच दिन का पुलिस रिमांड लिया गया है। ताकि आरोपीयान के कब्जे से मृतक जयबीर का लूटा हुआ मोबाईल फोन, मृतक के जूते, कपडे, 22260/- रू0 नकद व साफी जिससे गला घोटा गया था को बरामद किये जा सकें।