Previous
Next

Monday, April 24, 2017

इस्लाम में पुरूषों के लिए मजे ही मजे, 4 बीवियां रखो, मन भर जाए तो तलाक दे दो

इस्लाम में पुरूषों के लिए मजे ही मजे, 4 बीवियां रखो, मन भर जाए तो तलाक दे दो

New Delhi 24 April 2017: मुस्लिम महिलाओं के लिए तीन तलाक किसी आफत से कम नहीं है ये आफत कब आ जाए कोई पता नहीं, पति कब बदल जाए और तीन बार तलाक बोलकर जिंदगी तवाह कर दे कोई पता नहीं | सूत्रों की मानें तो अधिकतर महिलाओं को इसलिए तलाक दिए जाते हैं क्यू कि उनके पतियों का दिल उनसे भर जाता है और दूसरी महिला से निकाह करना चाहते हैं कोई न कोई बहाना बना तलाक दे देते हैं | ट्विटर पर न्यूज़ एजेंसी एएनआई ने एक तस्वीर पोस्ट की है जिसमे न्यूज़ एजेंसी ने जानकारी दी है कि दो सगी बहनों को दो सगे भाइयों ने तलाक दे दिया है ये दोनों भाई सऊदी में रहते हैं और ये दोनों बहने उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद की हैं | 

एक भाई ने फोन पर तलाक दे दिया तो दुसरे ने चिट्ठी में तीन तलाक लिखकर भेज दिया और दोनों बहनों की जिंदगी नरक बना दी | कुछ कमेंट्स भी आ रहे हैं जिनमे एक व्यक्ति ने लिखा है कि इस्लाम में पुरूषों के लिए मजे ही मजे है। 4 औरत रखो।औरतों से मन भर जाए तो सीधे तलाक दे दो पढ़ें |