Saturday, October 1, 2016

चीन ने बंद किया भारत का पानी तो खौला युवाओं का खून, बोले इसके उत्पाद बंद कर सिखाएंगे सबक



फरीदाबाद  01 October:: उड़ी आतंकवादी हमले के बाद जब भारत सरकार ने सिंधु समझौते को रद्द करने के लिए बैठकें कर रही थी तब पाकिस्तान ने एक बयान दिया था कि हम चीन से भारत का पानी बंद करवा देंगे । शनिवार जैसे ही भारतीयों को पता चला कि चीन में ब्रम्हपुत्र नदी की एक सहायक नदी का पानी रोक दिया है तो भारतीय भड़क गए और चीन के खिलाफ प्रदर्शन शुरू हो गया । 

फरीदाबाद के युवा समाजसेवी साहिल नम्बरदार ने शहर की कई बाजारों में जाकर दुकानदारों को जागरूक किया कि वो अपनी दुकानों में चीनी उत्पादों को न बेंचें । साहिल ने कहा कि दिवाली पर फरीदाबाद सहित पूरे देश के लोग खरबों रुपयों का चीनी सामान खरीदते हैं, ऐसे सामान एक हफ्ते भी नहीं चलते हैं और हमारे देश का खरबों रूपया चीन चला जाता है । अगर लोगों ने चीनी  उत्पाद खरीदने बंद कर दिए तो चीन की अक्ल ठिकाने आ जाएगी । 

साहिल ने कहा कि चीन के इस ताजा कृत्य से जाहिर है कि चीन पाकिस्तान में बैठे उन आतंकवादियों और संगठनों का मदद कर रहा है, जो भारत में पठानकोट और उरी जैसे हमले करते है। जो आतंकी भारत में निर्दोष लोगों और सेना के जवानों को शहीद करते है उन्हें चीन का समर्थन है।  साहिल ने कहा कि  भारतीय नागरिकों को अब चीन का सामान खरीदना चाहिए? आज दुनिया में चीन की जो आर्थिक स्थिति है उसके पीछे भारत का विशाल बाजार है। चीन ने हमारे दैनिक जीवन की वस्तुओं का भी उत्पाद कर बेचना शुरू कर दिया है। यानि चीन भारत को दो तरीकों से कमजोर कर रहा है। एक चीन के सामान की वजह से हमारे उद्योग बंद हो रहे है तो दूसरी ओर आतंकी हमलों से भारत बुरी तरह परेशान है। यदि भारतीय नागरिक चीन का सामान खरीदना बंद कर दें तो चीन को करारा जवाब दिया जा सकता है। साहिल ने फरीदाबाद सहित पूरे देश के लोगों से विनम्र निवेदन किया है कि प्लीज चीनी उत्पादों को खरीदकर पाकिस्तानी आतंकवादियों की मदद न करें ।  
SHARE THIS

3 comments: