Tuesday, November 15, 2016

नोटबंदी के बाद जमकर सोना बेंचने, खरीदने वालों को जेल भेजने की तैयारी शुरू



New Delhi 15 November 2016: नोटबंदी के एलान के बाद देश में जिस तरह से सोने का रेट बढ़ा उसे लेकर सरकार ने बड़ा कदम उठाया है जिसे लेकर स्वर्णकारों के होश उड़ गए हैं । आठ नवम्बर के बाद अचानक सोना दो गुणा से अधिक मंहगा हो गया । सूत्रों के मुताबिक़ काला धन रखने वालों ने उस दौरान जमकर आभूषण खरीदे जिसे लेकर सरकार सख्त हो गई है और अब ज्वैलर्स के दुकानों के सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं । एक रिपोर्ट के मुताबिक़ दिल्ली के कई बड़े ज्वैलर्स के दुकानों की सीसीटीवी फुटेज को जब्त कर लिया गया है । सरकार के मुताबिक़ इन फुटेज से पता चल जाएगा कि दुकानदार ने कितना सोना किसको बेंचा फिर दोनों पर कार्यवाही की जाएगी । 


दूसरी ओर, आयकर विभाग की इस बात को लेकर नजर है कि कहीं बिना पैन दर्ज किये बड़ी संख्या में पुराने नोटों से दो लाख रुपये से कम की कई किस्तों में आभूषणों की बिक्री तो नहीं की जा रही है। सरकार के पुराने बड़े मूल्य वर्ग के नोटों को अमान्य करने के बाद अवैध धन को खपाने का सोना, चांदी की खरीद को सबसे उपयुक्त तरीका माना जा रहा है। पिछले सप्ताह जैसे ही सरकार ने यह फैसला किया सोना 50,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के भाव तक बिकने के समाचार हैं जबकि बाजार मूल्‍य 31,000 रुपये के आसपास बना हुआ है। कालेधन को खपाने के लिये अवैध राशि में 20 से 40 प्रतिशत कटौती की भी बात सामने आई है।

CBDT के चेयरमैन के अनुसार, दो लाख रुपये से अधिक के आभूषण खरीदने पर खरीदार का स्थायी खाता संख्या (पैन) दर्ज करना जरूरी है। हम इस मामले में सर्राफा कारोबारियों पर नजर रखे हुए हैं कि पैन का उल्लेख नहीं करने के लिये कहीं वह आभूषणों की बिक्री दो लाख रुपये से कम रखने के लिये कई टुकड़ों में तो नहीं कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जहां कहीं भी इस नियम का उल्लंघन होता दिखेगा उन पर जरूरी कारवाई की जाएगी और जुर्माना लगाया जाएगा। अगर दुकानदार और खरीददार जुर्माना नहीं अदा करते हैं तो संभव है जेल की रोटियां खाएं । 
SHARE THIS

0 comments: