Showing posts with label Bhiwani News. Show all posts
Showing posts with label Bhiwani News. Show all posts

Sunday, March 19, 2017

जाट हिंसा से दूर रहें वर्ना देश विदेश में बहुत बदनामी होगी, जाट नेता हवासिंह सांगवान

जाट हिंसा से दूर रहें वर्ना देश विदेश में बहुत बदनामी होगी, जाट नेता हवासिंह सांगवान

भिवानी, 19 मार्च:- जाट नेता हवासिंह सांगवान के कहा कि सरकार की तैयारीयों से लगता है कि वे जाट आदोंलन को हिंसा के माध्यम से निपाटाना चाहते है। ऐसे में जाटों को शांति प्रिय रहना होगा वरना हमारा आंदोलन अपने मुद्दो से भटक जाएगा और दूसरे अंन चाहये मुद्दे खड़े हो जाएगे। साथ-साथ जाटो की देश और विदेश में बदनामी होगी। इसलिए जाटो को अपनी साख बचाना भी उतना ही महत्व पूर्ण है जितना महत्व पूर्ण हमारी सरकार से मांगे है।

 इतिहास गवाह है जब जब भी हिंसा होने का अदेंशा हुआ तो महात्मा गांधी ने अपने आंदोलन बिच में ही रोक दिए थे। आज हमारे आजाद देश में प्रत्येक भारतीय नागरिकों को अपने हकों को लेने के लिए आंदोलन करने का एक सवधानिक अधिकार है। लेकिन आंदोलन शंातीप्रिय और अंहिसक होना चाहिए।  जाट धर्मशाला में मीडिया से रुबरु हुए अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व कमांडेंट हवासिंह सांगवान ने कहा कि सरकार की तैयारियां बताती हैं कि सरकार प्रदेश में हिंसा करवाना चाहती है। इसलिए जाट सामज हिंसा से दूर रहें। 
   इस प्रैस वार्ता में उनके साथ सघर्ष समिति भिवानी के जिला अध्यक्ष चौ रघबीर सिंह बूरा, एडवोकेट राजनारायण पंघाल, जोगेन्द्र तालु, वेद धनाना व अनेक पदाधिकारी उपस्थित थे।

Saturday, March 18, 2017

जाट आंदोलन: कोई भी अनहोनी रोकने के लिए प्रशासन की बड़ी तैयारी शुरू

जाट आंदोलन: कोई भी अनहोनी रोकने के लिए प्रशासन की बड़ी तैयारी शुरू

भिवानी, 18 मार्च। उपायुक्त डॉ. अंशज सिंह ने आरक्षण आंदोलन के दौरान नियुक्त ड्यूटी मेजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारियों को आपस में तालमेल के साथ काम करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने निर्देश दिए हैं वे जहां भी जाना हो तो एक साथ व एक ही गाड़ी में जाएं। उन्होंने कहा कि प्रशासन किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है तथा कानून व्यवस्था को किसी भी सूरत में बिगड़ने नहीं दिया जाएगा।

वे आज पंचायती राज प्रशिक्षण संस्थान में ड्यूटी मेजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारियों को आरक्षण आंदोलन के चलते दिशा-निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि पुलिस अधिकारी व ड्यूटी मेजिस्ट्रेट अपनी ड्यटी में किसी भी तरह से कोताही न बरतें। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिले की हर निजी व सरकारी एंबूलेंस गाड़ियों को दुरुस्त हालत में रखें ताकि किसी भी समय जरूरत पड़ने पर उनका प्रयोग किया जा सके। इसी प्रकार से उपायुक्त ने रोडवेज यातायात प्रबंधक को बसों की सुरक्षा व समुचित संख्या में रखने के निर्देश दिए। 
उपायुक्त ने कहा कि बिजली-पेयजल की आपूर्ति किसी भी सूरत में बाधित नहीं होने दी जाएगी। उन्होंने जनस्वास्थ्य विभाग तथा बिजली निगम के अधिकारियों को पेयजल व बिजली की निर्बाध रूप से आपूर्ति करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जरूरी सेवाएं किसी भी तरह से बाधित नहीं होने दी जाएंगी। उन्होंने कहा कि यदि कहीं भी कोई ये सेवाएं बाधित करता है तो उसकी सूचना तुरंत पुलिस-प्रशासन को दें। इसके साथ ही उन्होंने उपमंडल अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने-अपने क्षेत्र के तहत आने वाले गावों के पंचायत प्रतिनिधियों के संपर्क में रहें तथा गांवों से किसी भी हालत में ट्रैक्टर ट्रालियों को सवारी होने के तौर पर प्रयोग न होने दें। उन्होंने कहा कि यदि गांवों से ट्रैक्टर ट्रालियां गांवों से आती हैं तो उसके लिए पंचायत प्रतिनिधि जिम्मेदार होंगे। उन्होंने निर्देश दिए पुलिस व रोड़वेज या अन्य किसी भी विभाग के यूनिफोर्म के कर्मचारी अपनी वर्दी में रहें। इसके साथ ही अधिकारी अपने-अपने कार्यालयों में कर्मचारियों की तैनाती जरूर रखें ताकि सरकारी कार्यालय सुरक्षित रहें।

इस दौरान पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार ने कहा कि ड्यूटी मेजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारी तालमेल के साथ अपना कार्य ेकरें। उन्होंने वे कानून का पालन करते हुए किसी भी स्थिति में शांति भंग न होने दें। उन्होंने कहा कि यदि कहीं भी दंगा भड़कने की आशंका हो तो स्थिति भांपते हुए उनको प्रदत्त शक्तियों को प्रयोग करें। इस मौके पर पुलिस अधिकारियों व ड्यूटी मेजिस्ट्रेट को किसी भी स्थिति से निपटने के बारे में  कानूनी जानकारियां दी गई। इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त धीरेंद्र खड़गटा, नगराधीश महेश कुमार, सभी उपमंडल नागरिक अधिकारी, जिलेभर में तैनान ड्यूटी मेजिस्ट्रेट मौजूद थे। 
जाट आंदोलन, सीमाएं रहेंगी सील, सेना बुलाई गई, इंटरनेट सेवाएं बंद की गईं

जाट आंदोलन, सीमाएं रहेंगी सील, सेना बुलाई गई, इंटरनेट सेवाएं बंद की गईं

भिवानी, 18 मार्च। आरक्षण आंदोलन के मद्देजनर जिले की सीमाएं सील रहेंगी तथा किसी भी सूरत में संसद कूच के लिए लोगों को जाने नहीं दिया जाएगा। इसके लिए टै्रक्टर ट्रालियों में सवार होकर आवागमन पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाया है। आमजन की सुरक्षा के लिए सेना की 18 कॉलम जिले में शीघ्र पहुंच रही हैं, जिसमें एक कॉलम में 100 जवान होंगे। किसी भी तरह की अफवाहों पर लगाम लगाने के लिए जिले में इंटरनेट सेवाएं भी आगामी आदेशों तक बंद कर दी गई हैं। 

यह जानकारी उपायुक्त डॉ. अंशज सिंह ने डीआरडीए हॉल में पत्रकारों को संबोधित करते हुए दी।  आरक्षण आंदोलन के दौरान जिले में अमन चैन कायम रखने के लिए उपायुक्त डॉ. अंशज व पुलिस कप्तान अशोक कुमार ने कानून व्यवस्था व आमजन की सुरक्षा की समीक्षा की। इस दौरान उपायुक्त ने बताया कि जिले में टै्रक्टर ट्रालियों में सवार होकर आवागमन पर पूर्णरूप से प्रतिबंध लगाया गया है। यदि कोई व्यक्ति इन आदेशों की उल्लंघना करते हुए टै्रक्टर ट्राली का प्रयोग सवारी ढ़ोने के लिए करेगा तो उसके खिलाफ मोटर व्हीकल एक्ट की धारा के तहत सख्त कार्रवाई की जाएगी तथा उसके वाहन को जब्त कर लिया जाएगा। उपायुक्त ने बताया कि किसी भी व्यक्ति को आमजन अथवा सरकारी या निजी संपत्ति नुकसान पहुंचाने नहीं दिया जाएगा। उन्होंने जनता से अपील करते हुए कहा कि वे किसी भी तरह  की हिंसात्मक कार्रवाई में संलिप्त न हो। यदि कोई संदिग्ध व्यक्ति इस तरह की गतिविधि में शामिल मिलता है तो उसकी सूचना प्रशासन को दें। 
पत्रकारों द्वारा पूछे गए एक प्रश्र के उत्तर में उन्होंने कहा कि आंदोलन से जुड़े  मौजिज व्यक्तियों के साथ-साथ प्रशासन पंचायत प्रतिनिधियों के साथ लगातार संपर्क में है तथा उनसे शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की जा रही है। किसी भी सूरत में मुख्य राजमार्गों व रेलवे मार्गों को रोकने नहीं दिया जाएगा। भिवानी व तोशाम जैसे संवेदनशील इलालों में शराब की बिक्री पूर्णतया बंद रहेगी। सभी अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने-अपने कार्यालयों में कर्मचारियों की उपस्थिति सुनिश्चत रख्रें।
इसके अलावा टै्रक्टर ट्रालियों में किसी भी प्रकार का तेजधार हथियार, ज्वलनशील पदार्थ व अन्य खाद्य सामग्री भी यदि मिलती है तो उनके खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि पैट्रोल पंप मालिकों को खुला डीजल किसी को भी किसी सूरत में न देने के साथ-साथ ट्रैक्टर में तेल नहीं डालने के आदेश दिए हैं। उन्होंने पैट्रोल-डीजल का पूरा विवरण अपने पास रखने को कहा है। उन्होंने कहा कि पैट्रोल पंप संचालकों को भी किसी भी तरह से परेशानी नहीं आने दी जाएगी। जिलाधीश ने प्राईवेट व्यक्ति द्वारा वाकी-टाकी सेट के उपयोग पर भी पूर्णतय पाबंदी लगा दी है। इस दौरान उन्होंने बताया कि दिल्ली को जाने वाले सभी मुख्य मार्गों पर पुलिस नाके लगाए हैं।  बसों की सुरक्षा को लेकर भी एतिहात बरता गया है।

Tuesday, March 14, 2017

हरियाणा में आयोजित की गई देशी घोडियों की दौड़ प्रतियोगिता

हरियाणा में आयोजित की गई देशी घोडियों की दौड़ प्रतियोगिता

भिवानी,(14 March): आज भी ग्रामीण इलाकों में प्राचीन खेलों को बडें उत्साह के साथ देखा जाता है। भिवानी के गांव दिनोद में देशी घोडियों की दौड़ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें आसपास के गांव की 15 घोडियों ने इस प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। प्रतियोगिता का शुभारंभ मुख्यअतिथि विरेन्द्र फौजी ने रीबन काटकर किया। इस प्रतियोगिता का आयोजन लाला ताखर एंव कालिया मिस्त्री द्वारा आयोजन किया गया था। इस अवसर पर राजेश ठाकुर, विकास सहित सैक ड़ों लोग इस प्रतियोगिता को देखने पहुचें थे। 

घोड़ी दौड़ प्रतियोगिता में पहला स्थान पर गांव बत्तरखेड़ी के मीरसिंह के घोड़े ने 51 सौ रूपये की इनाम राशि को प्राप्त किया तो दूसरे स्थान पर गांव कुहाड़ के रामअवतार की घोड़ी &1 सौ रूपए की इनाम राशि को प्राप्त किया। वहीं तीसरे स्थान पर गांव हालुवास एंव चौथे स्थान पर सुई की घोड़ी ने 21 सौ व 11 सौ रूपए इनाम राशि जीत कर ग्रामीणों का उत्साहवर्धन किया।  

Friday, March 10, 2017

अब घूंघट में नहीं रहेंगी हरियाणा के कई जिलों की महिलायें

अब घूंघट में नहीं रहेंगी हरियाणा के कई जिलों की महिलायें

भिवानी, 10 मार्च।         भविष्य में हम अपने घरों में कभी पर्दा नहीं करेगी और ना ही अपने परिवार में किसी महिला सदस्य को पर्दें के लिए विवश होने देंगी।
    गुजरात में आयोजित विश्व महिला दिवस कार्यक्रम से लौटकर जिले की समाज सेवी, ग्राम सचिव व पंचायत प्रतिनिधि महिलाओं ने यह संकल्प लिया है। आज शुक्रवार को जिला ग्रामीण विकास अभिकरण सभागार में इन महिला प्रतिनिधियों का स्वागत किया गया। अपने अनुभव सांझा करते हुए गांव कारीधारणी निवासी सरपंच कमलेश देवी ने बताया कि गुजरात में प्रवेश करते ही सबसे पहले उन्होंने जिला हिम्मतनगर के गांव वरदाड का दौरा किया। इस गांव में उन्हें महिलाओं के लिए काफी खुला माहौल दिखाई दिया। घरों में किसी महिला ने, चाहे वह छोटी हो या बड़ी, पर्दा नहीं किया हुआ था। यह सामाजिक परिवेश देखकर भिवानी जिले के साथ शामिल फतेहाबाद, गुरूग्राम व फरीदाबाद की महिलाओं ने एक स्वर में यह संकल्प लिया कि वे भी कभी पर्दा नहीं करेंगी और घूंघट प्रथा को दूर करने के लिए पूरी शक्ति से विरोध करेंगी। 

    ग्राम बोहल निवासी मीनू देवी, बाढ़ड़ा ग्राम मुनेश व कारीमोद निवासी सुमन ने बताया कि वरदाड गांव में इंडो-इजराइल के संयुक्त उपक्रम से लगाए पॉलीहाऊस काफी शानदार थे। यहां भिन्न-भिन्न प्रजातियों के पेड़-पौधे व हरी सब्जियां देखने को मिली। उन्होंने भी अपने गांव को हरा-भरा बनाने और पॉलीहाऊस का निर्माण करवाने का निर्णय लिया है। गांव ढ़ाणी माहू की सरपंच सुमन देवी, झुल्ली निवासी उर्मिला देवी ने बताया कि महात्मा गांधी का साबरमती आश्रम देखकर उनका मन शान्ति और श्रद्धा से भर गया। यहां विद्यार्थियों ने बेकार हो चुके सामान से अनेक उपयोगी सामग्री व शो पीस तैयार किए हुए थे। 

    महिला प्रतिभागियों ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का उद्बोधन प्रेरणादायी रहा। साबर नदी के तट पर भी उन्हें मनमोहक नजारा देखने को मिला। गांधीनगर में आयोजित इस कार्यक्रम में डिजीटल प्रदर्शनी लगी हुई थी। अमूल उत्पादन तैयार करने वाली साबर डेयरी में आधुनिक मशीनों से दूध के विभिन्न उत्पाद बनाए जा रहे थे। इस डेयरी के प्रबंधक जेठालाल पटेल से भी मुलाकात हुई। गुजरात से वापिस आने के बाद सभी महिलाओं ने डेयरी उत्पादन को बढ़ावा देने, पर्यावरण संरक्षण व बागवानी को प्रोत्साहन देने का निर्णय लिया है। 
    परियोजना अधिकारी मनोज जैन व महिला प्रतिनिधि मंडल के साथ गए सतीश कुमार ने इस दौरे को महिलाओं के लिए काफी लाभदायी बताया। 

Thursday, February 2, 2017

ओले के कारण बर्बाद हुई फसलों का अधिकारियों ने लिया जायजा

ओले के कारण बर्बाद हुई फसलों का अधिकारियों ने लिया जायजा

भिवानी, 02 फरवरी।         उपायुक्त पंकज के निर्देशानुसार आज उपमण्डल अधिकारी (ना.)भिवानी सतपाल सिंह की अध्यक्षता में  अधिकारियों की एक टीम ने विभिन्न गांवों में ओलावृष्टि से प्रभावित हुई फसलों के नुकसान का जायजा लिया।
    प्रधानमंत्री फसल योजना के तहत एसडीएम की अध्यक्षता में एक टीम का गठन किया गया है जो प्राकृतिक आपदा से नष्ट हुई फसलों के नुकसान का आंकलन करती है। इस आंकलन के आधार पर योजना के नोडल बीमा एजेंसी किसानों को उनके नुकसान की भरपाई करेंगी। इस टीम के सदस्यों में तहसीलदार संजय बिश्रोई तथा कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के उपनिदेशक डा. आत्माराम गोदारा सहित भिवानी जिला के नोडल बीमा एजेंसी रिलायंस कम्पनी के अधिकारी शामिल थे। उन्होंने आज गांव पुर, जाटु लुहारी, मंढ़ाणा तथा धनाना  में जाकर ओलावृष्टि से नष्ट हुई फसलों का आंकलन किया तथा किसानों के साथ बातचीत की।

    एसडीएम सतपाल सिंह ने बताया कि उपायुक्त के आदेशानुसार अधिकारी आज फसलों का जायजा ले रहे है। इस क्षेत्र में गेहूं एवं सरसों की फसल का जितना नुकसान हुआ है, उसकी रिपोर्ट उपायुक्त को दी जाएगी। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में रबी की  चार फसल गेहूं, जौ, चना और सरसों का बीमा किया गया है। गेहूं पर प्रति एकड़ 333 रूपए 86 पैसे, जौ  व चना पर 151 रूपए 75 पैसे तथा सरसों की फसल पर 166 रूपए 93 पैसे प्रीमियम हैं। इन फसलों में हुए नुकसान की भरपाई इस आंकलन के पश्चात बीमा कम्पनी किसानों को करेगी।        

Saturday, January 28, 2017

जाट आंदोलन, भिवानी में धारा 144 लागू, सख्त हुआ प्रशासन

जाट आंदोलन, भिवानी में धारा 144 लागू, सख्त हुआ प्रशासन

भिवानी, 28 जनवरी। आरक्षण आंदोलन की चेतावनी को देखते हुए जिलाधीश पंकज ने पूरे जिले में धारा 144 लागू कर दी है।
जिलाधीश द्वारा जारी किए गए आदेश में कहा गया है कि जिले में कानून व सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए धारा 144 लगाई गई है और यह आरक्षण आंदोलन से संबंधित मामला समाप्त होने तक जारी रहेगी। जिला प्रशासन को जानकारी मिली थी कि इस दौरान जिले की शांति व्यवस्था बाधित हो सकती है और जिससे आम जन जीवन को भी नुकसान हो सकता है।

 इसीलिए जिलाधीश ने ये आदेश पारित करने का निर्णय लिया है। आदेश के मुताबिक जिले में कहीं भी पांच या पांच से अधिक व्यक्ति एक ही स्थान पर एकत्रित नही होगें। सार्वजनिक स्थान पर कोई भी व्यक्ति हाथ में किसी भी प्रकार का शस्त्र, घातक हथियार, चाकू, जेली, बन्दूक, तलवार तथा लाठी आदि लेकर घूमता हुआ पाया गया तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होगी।
जिलाधीश ने कहा है कि सुरक्षा कर्मियों और कृपाणधारी सिखों पर ये आदेश लागू नही होगा। उन्होंने कहा है कि किसी भी असामाजिक तत्व ने सुरक्षा व्यवस्था या आम जन जीवन को बाधित करने का प्रयास किया तो उसके खिलाफ तुरन्त मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

जाट आंदोलन, उपद्रव मचाने वालों पर बिना किसी का आदेश लिए डंडे बरसा सकेगी पुलिस

जाट आंदोलन, उपद्रव मचाने वालों पर बिना किसी का आदेश लिए डंडे बरसा सकेगी पुलिस

 भिवानी, 28 जनवरी। आरक्षण आंदोलन को मद्देनजर रखते हुए पुलिस विभाग पूरी तरह से भिवानी जिले में मुस्तैद हो चुका है। एसपी अशोक कुमार के नेतृत्व में आज फ्लैग मार्च निकाल कर सुरक्षा बलों ने अपनी चौकसी का प्रमाण दिया।

आरक्षण आंदोलन की घोषणा के बाद भिवानी पुलिस पूरी तरह से अलर्ट हो चुकी है। एसपी अशोक कुमार ने खुद शहर व आस-पास के गांवों में फ्लैग-मार्च किया। एसपी अशोक कुमार ने कहा कि थाना प्रभारी पुलिस टुकडिय़ों के इंचार्ज हैं और मौके की नजाकत को देखते हुए कोई भी कार्रवाई में सक्षम होंगे। फ्लैग मार्च हांसी गेट से होते हुए पूरे शहर और बाद में बामला, गुजरानी, मिताथल, धनाना, तालु, पुर, सिवाड़ा, बवानी खेड़ा, जमालपुर, तोशाम, बीरण व बापोड़ा कस्बे में निकाला गया। फ्लैग मार्च का नेतृत्व खुद एसपी ने किया। मार्च में डीएसपी विजय देशवाल सहित थाना प्रबंधक शामिल रहे।

पुलिस अधीक्षक ने  बताया कि आरक्षण के मामले को लेकर सुरक्षा के लिहाज से पुलिस अपनी तैयारी कर रही है। उन्होंने बताया कि  समाज के किसी भी व्यक्ति को कानून हाथ में नहीं लेने दिया जाएगा। उन्होंने लोगों से भी शांति की अपील की और कहा कि उग्र प्रदर्शन या रास्ता जाम करने वालों के साथ सख्ती से निपटा जाएगा। साथ ही कहा कि कहीं भी कोई भी घटना होती है तो हर टुकड़ी इन्चार्ज और उसके साथ तैनात ड्यूटी मैजिस्ट्रेट बिना आदेशों का इंतजार किए खुद मौके की नजाकत को देख कार्रवाई कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि पुलिस विभाग ने अम्बाला और यमुनानगर से अतिरिक्त सुरक्षा बल बुलवाया है। जिले  में पुलिस की दो और सीआरपीएफ की एक कम्पनी तैनात रहेगीं।

Wednesday, January 25, 2017

पुलिस वालों से बोले ADGP, जाट आंदोलन में कोई रेल, सड़क रोके तो छोड़ना मत

पुलिस वालों से बोले ADGP, जाट आंदोलन में कोई रेल, सड़क रोके तो छोड़ना मत

Jat-andolan-Haryana-news
भिवानी , 25 जनवरी।        जाट आरक्षण आंदोलन को लेकर आज पुलिस लाईन भिवानी में एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर अकिल मोहम्मद ने पुलिस कर्मचारियों को संबोधित किया तथा एडीजीपी ने जवानों को कहा कि सड़क और रेल मार्ग कही भी बाधित नही होने दिया जाएगा। ऐसा करने वालो के साथ सख्ती से निपटा जायेगा। साथ ही एडीजीपी के कहा कि अधिकारी जिला प्रशासन के साथ बेहतर तालमेल रखे तथा अपने अधीन जवानो को स्पष्ट निर्देश दे तथा जो भी असामाजिक तत्व कानून को अपने हाथ में ले तो उससे सख्ती से निपटे किसी को भी कानून हाथ में लेने का अधिकार नही है। उन्होंने कहा कि अधिकारी समाज के मौजिज लोगों के साथ निरतंर सवांद रखते हुये समस्याओं को हल करने का प्रयास करे।

    इस अवसर पर भिवानी पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार, दादरी के पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार, उप पुलिस अधीक्षक चन्द्रपाल, विजय देशवाल, विजयपाल, कुलदीप सिंह, सुरेश कुमार एवं सभी प्रबंधक थाना व अन्य कर्मचारी उपस्थित थे। 

Sunday, January 15, 2017

हाथ में लिस्ट लेकर CM ने टटोली पार्षदों की नब्ज, हर पार्षद से मिल पूंछा हालचाल

हाथ में लिस्ट लेकर CM ने टटोली पार्षदों की नब्ज, हर पार्षद से मिल पूंछा हालचाल

भिवानी, 15 जनवरी :पूर्व मंत्री एवं विधायक घनश्याम सर्राफ की अगुवाई में रविवार को नगरपषिद के पार्षदों का प्रतिनिधिमंडल सीएम मनोहर लाल खटर से पानीपत में मिला। विधायक सर्राफ ने 20 पार्षदों की सूची सीएम मनोहरलाल खट्टर को सौंपी। सीएम मनोहरलाल खट्टर ने हाथ में सूची लेकर एक-एक नवनिर्वाचित पार्षदों की नब्ज टटोली। पार्षदों की अच्छी नफरी(संख्या)से खुश होकर सीएम ने विधायक की मांग पर भिवानी का चहुंमुखी विकास करवाने के भरोसा दिलाया।

नवनिर्वाचित पार्षदों का प्रतिनिधिमंडल दोपहर विधायक घनश्याम सर्राफ की अगुवाई में पानीपत पहुंचा। विधायक ने सीएम से मुलाकात की और उनके साथ गए सभी पार्षदों की सूची सीएम मनोहर लाल को सौंपी। इससे पहले विधायक सर्राफ ने उनके साथ गए सभी एक-एक पार्षदों का सीएम के समक्ष परिचय कराया। उसके बाद सीएम ने सूची लेकर प्रत्येक नवनिर्वाचित पार्षद के पास पहुंचे और किसने कितने वोट से जीत हासिल की,इस बारे में जानकारी ली।

सीएम ने प्रत्येक पार्षद से करीब 40 से 45 सेकेंड तक बात की और उनका हालचाल भी जाना। चुनाव में महिलाओं की अच्छी भागीदारी पर सीएम ने विधायक सर्राफ की पीठ थपथपाई और कहा कि यह जीत स्थानीय विधायक की जीत है। इस मौके पर सीएम मनोहर लाल खट्टर ने भिवानी का चहुमुखी विकास कराने का भरोसा दिलाया और कहा कि भिवानी के लिए योजनाओं व घोषणाओं का पिटारा खोला जाएगा। इस दौरान पार्षदों ने एकमत होकर विधायक घनश्याम सर्राफ को दोबारा मंत्रीमंडल में शामिल किए जाने की मांग की तो सीएम सकारात्मक जवाब दिया और बोले यह खुशी जल्द मिलेगी। इस मौके पर भाजपा जिला प्रधान नंदराम धानिया, धीरज सैनी, अनिल सोनी, सोनू सैनी, सियाराम जांगड़ा, पवन बंसल, विक्की काटपालिया, दिन्नू तंवर, हीरालाल के अलावा अनेक कार्यकर्त्ता मौजूद थे। 

Wednesday, January 11, 2017

प्रवासी हरियाणा दिवस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण देखकर गदगद हुए ग्रामीण

प्रवासी हरियाणा दिवस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण देखकर गदगद हुए ग्रामीण

Bhiwani-haryana-news
भिवानी,11 जनवरी। आज देर शाम गांव सूई के ग्रामीण उस समय गदगद हो गए, जब उन्होंने गुरुग्राम में आयोजित प्रवासी हरियाणवी सम्मान समारोह में अपने गांव में हो रहे विकास कार्यों की प्रशंसा सुनी। कार्यक्रम में गांव सुई को सेठ श्रीकिशन द्वारा गोद लिए जाने व गांव में अभूतपूर्व विकास  कार्य करवाए जाने के बारे में बताया गया और उपायुक्त पंकज ने वीडियो कॉंफ्रेंस के माध्यम से गांव में हो रहे विकास कार्यों की विस्तार से जानकारी दी। उपायुक्त महादेवी परमेश्वरी देवी जिंदल ट्रस्ट की मुक्तकंठ से सराहना की। गुरुग्राम में आयोजित इस कार्यक्रम में प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री मनोहरलाल मुख्यतिथि थे। कार्यक्रम का सीधा प्रसारण गांव के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल में दिखाया गया।

उल्लेखनीय है कि गांव सुई निवासी सेठ बनवारी जिंदल के भाई श्रीकिशन द्वारा गांव सुई को गोद लिया गया है। गांव में उनके द्वारा करोड़ों रुपए के विकास कार्य करवाए जा रहे हैं। देश-विदेश में अलग-अलग क्षेत्रों में अपना व प्रदेश का नाम रोशन कर रहे हरियाणा वासियों के सम्मान में आज गुरुग्राम में एक सम्मान समारोह का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्यमंत्री श्री मनोहरलाल मुख्य अतिथि थे। कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों में अपना नाम कमाने वाले प्रवासी हरियाणा वासियों को मुख्यमंत्री ने शॉल ओढ़ाकर व प्रशंसा तथा स्मृति चिन्ह देकर देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम के दौरान मंच से गांव सुई में हो रहे विकास कार्यों की सराहना की गई। उपायुक्त पंकज ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से गुरुग्राम कार्यक्रम में विचार सांझा किए। उपायुक्त ने कहा कि गांव सुई में महादेवी परमेश्वरी जिंदल ट्रस्ट के द्वारा झील, पार्क, खेल परिसर, टूरिस्ट पैलेस व गलियों का निर्माण सहित अनेक विकास कार्य करवाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि ट्रस्ट गांव को एक परिवार की तरह मानकर यहां पर विकास कार्य करवा रहा है तथा ग्रामीणों का भी उनको भरपूर सहयोग मिल रहा है। वीडियो कांफेंंस में गांव के सरपंच डॉ. प्रवीण गहलोत ने भी अपने विचार  प्रकट किए और गांव में चल रहे विकास कार्यों पर जिंदल परिवार का आभार जताया। उन्होंने कहा कि गांव को गोद लिए जाने के बाद उनके गांव की तस्वीर ही बदल गई है।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने विभिन्न क्षेत्र में प्रदेश का नाम रोशन करने वाले प्रवासी हरियाणवी फिजी के पूर्व प्रधानमंत्री महेंद्र पाल चौधरी, फिल्म अभिनेता रणदीप हुड्डा, गायक सोनू निगम, अंतरिक्ष यात्राी कल्पना चावला के परिजन, संदीप चौहान, वंदना लूथरा, बलेंद्र कुुंडू, अलीशा, रवि शमा्र, विकास एवं उनकी पत्नी रीतू, रितेश कुमार व डॉ. राजीव गुप्ता सहित अनेक हस्तियों को शॉल, स्मृति चिन्ह व प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया।  गायक सोनू निगम ने मंच पर गायकी के जलवे बिखरे और गीत, हो किसका है ये तुमको इंतजार मैं हूं यार, देख लो इधर तो मैं हंू ना, गाकर सभी का ध्यान अपनी ओर ध्यान आकर्षित किया। इसी प्रकार रणदीप हुड्डा ने भी एक डॉयलॉग कहकर सभी की तालियां बटौरी। सम्मानित हुए सभी हस्तियों ने हमेशा प्रदेश के लिए समर्पित रहने व हरियाणा का नाम रोशन करते रहने की बात कही। गांव सुई के निवासियों ने ये सब बातें सुनकर व इस कार्यक्रम को देखकर अपने आप को गौरवांवित महसूस किया। इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त धीरेंद्र खड़गटा, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी अश्वीर नैन, डीआईओ पंकज बजाज के अलावा अनेक ग्रामीण मौजूद थे।

Monday, January 9, 2017

भिवानी नगर परिषद् चुनावों में लहराया भाजपा का झंडा

भिवानी नगर परिषद् चुनावों में लहराया भाजपा का झंडा

भिवानी 09 जनवरी : भिवानी नगर परिषद के 31 वार्डों के लिए कल हुए  हुए मतदान में 10 सीटें भाजपा समर्थित उम्मीदवारों के नाम रहीं। कुल 57.3 फीसदी वोट पड़े। भाजपा सहित किसी भी दल ने यह चुनाव सिंबल पर नहीं लड़ा। चुनाव से 4 दिन पहले भिवानी आये प्रदेश के सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर ने कई उम्मीदवारों के साथ बैठक कर उन्हें भाजपा का समर्थन देने की घोषणा की थी। दरअसल विधायक व जिला भाजपा अध्यक्ष नंदराम धानिया पार्टी चिह्न पर चुनाव के हक में नहीं थे। काफी उठा-पटक के बाद अंतिम दौर में कुछ उम्मीदवारों को समर्थन दिया गया। अब चेयरमैन पद के लिए जोड़-तोड़ की कवायद शुरू हो गयी है।


 वार्ड नंबर-1 विजय पचगांवा, वार्ड-2 मुकेश रहेजा (भाजपा समर्थित), वार्ड-3 सुशीला पुनिया, वार्ड-4 रण सिंह (भाजपा समर्थित), वार्ड-5 ईश्वर मान, वार्ड-6 मीनू तंवर, वार्ड-7 मुनिया तंवर (भाजपा समर्थित), वार्ड-8  हर्षदीप डुडेजा, वार्ड-9 मंजू शर्मा, वार्ड-10 रेखा राघव (भाजपा समर्थित), वार्ड-11 कविता यादव, वार्ड-12 पूजा यादव, वार्ड-13 प्रवीण, वार्ड-14  दलबीर, वार्ड-15 कविता (भाजपा समर्थित), वार्ड-16 ललित सैनी, वार्ड-17 ज्योति तंवर (भाजपा समर्थित), वार्ड-18 सचिन जूसवाला, वार्ड-19 किरण बाला, वार्ड-20 सुशीला, वार्ड-21 मुकेश, वार्ड-22 ज्योति कामरा (भाजपा समर्थित), वार्ड-23 राजकुमार, वार्ड-24 गोविंद राम उर्फ बिल्लू बादशाह, वार्ड-25 नरेन्द्र सर्राफ (भाजपा समर्थित), वार्ड-26 मामनंचद, वार्ड-27 आशा रानी (भाजपा समर्थित), वार्ड-28 आकाश मस्ता, वार्ड-29 विजय तंवर (भाजपा समर्थित), वार्ड-30 संदीप भारद्वाज, वार्ड-31 बलवान सिंह।

Saturday, November 26, 2016

28 को भारत बंद का बहिस्कार कर 2 घंटे अधिक दुकाने खोलेगें व्यपारी

28 को भारत बंद का बहिस्कार कर 2 घंटे अधिक दुकाने खोलेगें व्यपारी

Bhiwani Haryana News
भिवानी  :- भारत के प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी द्वारा नोट बंदी को लेकर किए गए फैसले से तिलमिलाऐ भारत के विकास में विरोधी लोगों द्वारा किए गए बंद के अह्वान का दादरी गेट व्यपार मंडल एसोंसिऐश्यिन ने कडा विरोध करते हुए बंद में ना शामिल होने का फैसला लिया है और मोदी जी की इस मुहिम की भुरि भुरि प्रशंसा की है । 

बैठक के बारे में बताते हुए भाजपा के मिडिया प्रभरी सोनु सैनी ने कहा कि दादरी गेट व्यापारी युनियन  ने फैसला लिया है कि वह बंद में शामिल नहीं होगें और मोदी जी की इस मुहिम को आगे बडाने के लिए दो घंटे अधिक प्रतिष्टान  खोल कर अपना स्मर्थन देगें वहीं सोनु सैनी ने दुकानदारों से अपील करते हुए अपने प्रतिष्ठानों पें ई-बैकिं ग व मोबाईल बैकिंग इस्तेमाल करने की अपील की जिससे जहां  उसका पैसा सुरक्षित रहेगा वहीं काले धन पर भी रोक लगेगी ।

 वहीं उन्होने कहा कि आज पुरानी करंसी के बंद करने का दर्द आम आदमी से अधिक विपक्षी दलों के राजनेताओं को है जिनकी रातों की नींद उढ चुकी है  । वहीं  बैठक में मौजुद दादरी गेट व्यपारी संगठन के उप प्रधान कमल किशोर बंधु ने कहा कि जब से केंद्र व प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी है तब से व्यपारी अपने आप को सुरक्षित महसुस कर रहे है । वहीं बैठक में प्रधान डा. राजकुमार नागर , विनोद अरोडा, हरिकिशन, राजबीर यादव , राजकुमार, मोनु , बंटी, गणेश शर्मा,  डा , रजेश कौशिक , प्रदीप तंवर, हुनमान शास्त्री, प्रताप सिंह , सुभाष, कर्नेल यादव , उमेश, राहुल, कृष्ण, रोशन, रमेश सैनी, औमप्रकाश वर्मा, बंधु खट्टर चाय वाला, आदि मौजुद थे । 
नोटबंदी: को दो घंटे अधिक 

Friday, November 18, 2016

नोटबंदी का विरोध करते करते शहीदों का अपमान करने लगी कांग्रेस, BJP

नोटबंदी का विरोध करते करते शहीदों का अपमान करने लगी कांग्रेस, BJP

bjp bhiwani haryana news

भिवानी :-केंद्र सरकार द्वारा पुरानी भारतीय मुद्रा को बंद किए जाने के बाद राजनैतिक पार्टीयों के आ रहे हल्के ब्यानों व बीते दिनों कांग्रेसी नेता गुलाम नबी आजाद द्वारा बैकों की लाईनों में पैसे जमा करवाकर हादसों का शिकार होने वाले लोगों की तुलना ऊरी के शहीदों से करने के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने इसका विरोध जताया और विरोध स्वरूप शहर में रोष प्रर्दशन करते हुए कांग्रेस पार्टी व गुलाम नबी आजाद के खिलाफ नारे बाजी की । भाजपा के जिला अध्यक्ष नंदराम धानियां की अध्यक्षता में बासिया भवन के जिला कार्यालय से चलकर नेहरू पार्क स्थित शहीद मदन लाल ढ़ींगड़ा समारक तक भाजपा कार्यकर्ताओं ने प्रर्दशन किया । जहां मिडियाकर्मीयों को सम्बोधित करते हुए प्रदेशसचिव मुकेश गौड़ ने कहा कि देश की जनता एटीएम व बैंकों क ी लाईनों में लगने को तैयार है और आज देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी की भुरी भुरी प्रशंसा कर रहे है । उन्होने कहा कि गुलाम नबी आजाद ने अपनी छोटी मानसिकता का परिचय देते हुए शहीदों के साथ देश की जनता का भी अपमान किया है । 

 वहीं जिलाध्क्ष नंदराम धानिंया ने कहा कि जिस प्रकार की हल्की ब्यान बाजी कांग्रेस के नेता कर रहे है हकीकत में  उन्हे जनता व देश हित से सरोकार नहीं है बल्कि वह अपने चाहने वालों व अपने द्वारा जमा किए काले धन को सुरक्षित करने के लिए सरकार पर अनावश्यक दबाव बना रहे है जिसके अगे ना तो देश के प्रधानमंत्री झुके है और ना  ही देश की जनता ।  इस अवसर पर डा.रविकंात भीष्म ,औमप्रकााश मान , शंकर धुपड,ठाकुर विक्रम सिंह , विरेद्र कौशिक , सुनिल चौहान, अनिल सोनी ,भगवान दास अहुजा,बद्री प्रसाद बुदेंला,भाजपा मिडिया प्रभारी सोनु सैनी , पवन ठाकुर , बबीता तंवर, रेखा गुप्ता, नीरज रोहीला, नीशा, नंद किशोर आर्य,बंसीधर मखीजा, जगदीश मिताथलीयां , के , के ग्रोवर , संजय दुआ, कृष्ण सिंह नम्बरदार, रमेश सैनी,  सुर्या मान, प्रदीप जोगी, राजेश सोनी, मनोज सोनी,नवीन गुप्ता, सदींप कु मार , सतीश कुमार, कुलदीप,अंकित नागर ,जर्मन ,रामकिशन शर्मा ,कमल किशोर बंधु , जयबीर बडेसरा, सतबीर गुर्जर, रेाशनलाल,कुलदीप नेहरा, विक्रम गुर्जर, प्रवीन गोलगढ, प्रवीन ढाणा,अरविंद पुंडीर,अजय शेखावत,आदि मौजुद थे ।  

Thursday, November 10, 2016

SYL: हरियाणा की जीत के बाद प्रदेश में बंटने लगे लड्डू

SYL: हरियाणा की जीत के बाद प्रदेश में बंटने लगे लड्डू


भिवानी, हरियाणा पजांब का सुप्रीम कोर्ट  में विचाराधीन एसवाई एल के मुद्वे पर माननिय सुप्रीम कोर्ट की खंड पीठ द्वारा हरियाणा के हित में फैसला दिए जाने पर फैसले का स्वागत करते हुए भाजपा के कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यालय लड्डु बांट कर में खुशी मनाई साथ ही प्रदेश के मुख्यमंत्री व केंद्र भाजपा सरकार क ा हरियाणा की जनता व किसानों के हितों को न्याय दिलवाने के लिए आभार वयक्त किया । कार्यालय में मौजुद कार्यकर्ताओं क ो सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष नंद राम धानियां ने कहा कि यह हकीकत में प्रदेश की जनता की जीत है जिनकी बदोलत प्रदेश सरकार संघर्ष कर पाई और उनकी जीत सभंव हो पाई । 

वहीं उन्होने कहा कि प्रदेश की जनता के विश्वास पर खरे उतरते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री अब जल्द ही इस नहर पर कार्य शुरू करवाऐगें जो आज तक पुर्व की सरकारे नहीं कर पाई उन्होने कहा कि पडोसी राज्य के साथ मिलक र आज तक पुर्व सरकारें केवल चुनावी लाभ उठा क र प्रदेश की जनता को बरगलाने का काम करती रही । सता में आने से पुर्व भाजपा ने एसवाईएल का पानी हरियाणा प्रदेश में लाने की बात कही थी जिसका सीधा फायदा आज प्रदेश की जनता को खासकर दक्षिण हरियाणा की जनता को होगा जहां टेल तक पानी उपल्बध होगा । और हरियाणा के  जिन हिस्सों में पानी की कमी के चलते फसलें नहीं हो पा रही थी । 

उस इलाके में जहां पानी की पुर्ती होने से ऊ पजाऊ भूमि में फसले लहराऐंगी वहीं उन इलाकों के किसान भी खुशहाल होगें । इस अवसर पर बैठक  में जिला मिडिया प्रभारी सोनु सैनी , डा.रवि कांत भीष्म , डा.एन कें चौधरी , बद्री प्रसाद बुदेंला , नवीन कौशिक शिक्षा मंत्री के निजि सचिव , प्रो. सुनिल कुमार, सुुंदर अत्री , भगवान दास , रमेश सैनी , कमल किशोर बंधु , रमेश रेडु, कुलदीप नेहरा, रमन धानियां , औमप्रकाश वर्मा ,पवन ठाकुर, आदि मौजुद थे । 

Monday, November 7, 2016

तन पेट काट पैसा जुटाया, 1 लाख में कोलकता से दूल्हन लाया, 10 मिनट में फुर्र

तन पेट काट पैसा जुटाया, 1 लाख में कोलकता से दूल्हन लाया, 10 मिनट में फुर्र


Chandigarh 07 November 2016: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के बाद हरियाणा में लिंगानुपात पहले से बढा है लेकिन प्रदेश के छोरों को अब भी जीवन संगिनी नहीं मिल पा रहीं हैं । हरियाणा में वो दलाल अब भी चांदी कूट रहे हैं जो बिहार बंगाल से कुछ हजार रुपयों में दूल्हन खरीदकर यहाँ के छोरों से लाखों वसूलते हैं । खरीदकर लाई गई दुल्हनें अधिकतर पश्चिम बंगाल की होती हैं कुछ बिहार ही होतीं हैं जो जिले बंगाल के आस पास से जुड़े हैं । प्रदेश के भिवानी जिले के गांव लोहारी जाटू में एक ऐसा ही मामला आया है जहाँ का जोगेंद्र कोलकता से एक लाख में अपने लिए बहु लाया था लेकिन दस मिनट में ही बेचारे की नई नवेली बहु फुर्र हो गई । जोगेन्दर उसे ब्याह कर लाया था बदले में दलालों को एक लाख चुकाया था लेकिन दस मिनट में ही घर वीराना हो गया । 

बचपन में पिता की मौत के बाद इसी साल उसकी माँ भी भगवान् को प्यारी हो गई थी तबसे वो घर पर अकेला रहता था । ट्रांसपोर्ट की नौकरी छोड़ उसने गाय खरीद ली और दूध बेंचकर गुजारा करने लगा, माँ की मौत के बाद काफी  अकेला महसूस कर रहा जोगेन्दर ने घर बसाने का फैसला किया । कुछ दलालों के संपर्क में आ गया और इन दलालों के माध्यम से उसे कोलकता में बहू मिल गई जिसे पिछले महीने 15 अक्टूबर को ब्याह कर लाया और 24 अक्टूबर को दस मिनट के लिए उसे अकेला छोड़ कहीं चला गया वापस लौट तो होश उड़ गए उसकी दुल्हनिया घर से गायब थी । 

अब जोगेन्दर दलालों के चक्कर काट रहा है पुलिस के पास गया तो पुलिस शादी के सर्टीफिकेट मांगने लगी । जोगेंद्र ने बड़ी मुश्किल से एक लाख जमा किये थे जो दलालों को दिए इसके अलांवा शादी का पूरा खर्च उठाया कोलकता में शादी की जो रस्में होतीं हैं साले सालियों को जो नेग दिए जाते हैं सब कुछ दिया था लेकिन उसे नहीं पता था कि वो किसी ठग के गिरोह का शिकार हो रहा है । हरियाणा में कई ऐसे मामले आ चुके हैं जहाँ बाहर से लाइ गई दूल्हन फुर्र हो चुकी हैं । जोगेन्दर की तरह न जाने कितने भागी बीवी के लिए दर दर की ठोकरें खा रहे हैं जोगेंद्र का तो कहना है कि मैंने समझा था कि मेरे घर लक्ष्मी आ गई है और दीवाली अच्छी तरह से मनाऊंगा लेकिन दीवाली के पहले ही वो भाग गई मेरे घर में अँधेरा कर गई । 

Monday, October 31, 2016

हिन्दू पंजाबी को वोट न दें हरियाणा के लोग, सांगवान

हिन्दू पंजाबी को वोट न दें हरियाणा के लोग, सांगवान

Jat Leader Hawa Singh Sangwan
भिवानी। अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के प्रदेश अध्यक्ष पूर्व कमांडेंट हवासिंह सांगवान ने आज जाट धर्मशाला में पत्रकार वार्ता में बताया कि प्रथम नवम्बर को हरियाणा प्रदेश की स्वर्ण जयंती है। हम सभी जानते है कि हरियाणा व पंजाब का बटवारा भाषा के आधार पर हुआ था। पंजाबियों के लिए पंजाब व हरियाणवी के लिए हरियाणा दिया गया था। अभी करनाल के सांसद अश्विनी चौपड़ा पंजाबियों को एक होने का आह्वान कर रहे हैं और कह रहे कि सभी पंजाबी एक हो जाएंगे तो अगली बार एक की जगह पांच सांसद हरियाणा से बनेंगे। इस सम्बंध में हमारा स्पष्ट कहना है कि यदि हरियाणवी एक हो जाते है तो हरियाणा से कोई एक विधायक भी हिंदु पंजाबी समाज से नहीं बन पाएगा। इसलिए प्रत्येक हरियाणवी का कर्तव्य है कि वह किसी हिंदु पंजाबी को वोट न देकर किसी भी हरियाणवी को वोट दें, चाहे व किसी भी पार्टी से सम्बंध रखता हो। तत्कालीन जनसंघ ने हरियाणा के अलग होने का तत्कालीन जनसंघी नेता डॉ. मंगल सेन की अगुवाई में विरोध किया था, लेकिन बड़े अफसोस की बात है कि आज वही पार्टी अर्थात् जनसंघ उर्फ भारतीय जनता पार्टी हरियाणा पर राज कर रही है, जो किसी भी तरह से नैतिक व सैद्धांतिक तौर पर उचित नहीं है।

   इससे भी बढक़र हिंदु पंजाबी नेता मनोहर लाल खट्टर जी हरियाणा के मुख्यमंत्री होते हुए बयान देते है कि हरियाणवी दिमागी तौर पर कमजोर है। ये केवल हरियाणवी लोगों का ही अपमान नहीं, बल्कि 30 प्रतिशत हरियाणवियों का जो राष्ट्रीय खेलों में तथा 20 प्रतिशत हरियाणवी लोगों का देश के लिए शहादत में योगदान है, उनका भी बहुत बड़ा अपमान है कि उनके दिमाग कमजोर थे। सबसे बड़ी अफसोस की बात ये है कि मनोहर लाल खट्टर जी और अश्विनी चौपड़ा के बयानों का किसी भी हरियाणवी नेता ने बयान का विरोध नहीं किया, जब मैने बयान दिया तो मेरी ही मानसिकता पर सवाल उठाने लगे। जबकि सच्चाई यह है कि हरियाणवी नेताओं ने अपना आत्मसम्मान व स्वाभिमान वोट के लिए गिरवी रख दिया है। नहीं तो वरना किस प्रकार से पंजाब के उग्रवाद के समय सन् 1982 से लेकर 1992 तक एक दशक में पंजाब से लगभग 10 प्रतिशत हिंदु अम्बाला से लेकर सोनीपत तक राष्ट्रीय मार्ग के साथ-साथ बस गये और सुना यहां तक है कि ये लोग दोनों जगह अपना ठिकाना बनाए हुए हैं और इसी कारण पंजाब और हरियाणा से दोनों जगह नौकरियों आदि के फायदे उठाते रहे हैं। जबकि हरियाणा राज्य एक बहुत छोटा राज्य है, जिसके साधन व स्त्रोत बहुत सीमित है और इतनी बड़ी बाहरी जनसंख्या को अपने में समाए रखना बहुत बड़ा बोझ है। इस सच्चाई को जानने के लिए एक जांच आयोग बैठाना चाहिए। इसी प्रकार हम बार-बार सुनते है कि अभी जो पाकिस्तान से हिंदु आ रहे है और कश्मीर से जो पण्डित आए हैं, उन्हे हरियाणा में बसाने की तैयारी की जा रही है, जिसका हम जोर-शोर से विरोध करेंगे। 

Monday, October 24, 2016

15-20 दिन बाद आंदोलन कर सकते हैं जाट, बोले जाने को तैयार रहें खट्टर, सैनी की भी उड़ाएंगे नींद

15-20 दिन बाद आंदोलन कर सकते हैं जाट, बोले जाने को तैयार रहें खट्टर, सैनी की भी उड़ाएंगे नींद

Jat Andolan Again In Haryana

भिवानी 24, अकटुबर अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के प्रदेश अध्यक्ष पूर्व कमांडेंट हवा सिंह सांगवान ने जारी एक बयान में कहा कि सांसद राजकुमार सैनी कि मैडिकल जाँच और लैब की रिपोर्ट से पूर्णतया साफ़ हो चूका है कि सांसद को मारने को न तो कोई हमला था न ही हानिपहुचाने वाला कोई केमिकल फेंका गया इसिलये पुलिस को  धारा 307 हटानी पड़ी। सांसद पर स्याही मामले की जांच के बाद आरोपी युवकों पर लगी धारा 307 हटने के बाद भिवानी में जाट नेता हवासिंह सांगवान ने सरकार से जीरो टोलरेंस के तहत सांसद राजकुमार सैनी व उनके समर्थकों पर कानून हाथ में लेने का मामला दर्ज करने की मांग की है। साथ ही कार्रवाई ना होने की सुरत में आंदोलन व कोर्ट का सहारा लेने तथा सांसद सैनी को चेन से ना बैठने देने की चेतावनी दी है। सांसद पर स्याही मामला ठंडा होने का नाम नहीं ले रहा है। 

जहां पहले, जाट नेता सांसद पर स्याही मामले में आरोपी युवकों पर लगी धारा 307 हटाने की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे थे, वहीं अब जांच के बाद धारा 307 हटाए जाने के बाद सांसद राजकुमार सैनी व उनके समर्थकों पर कानून हाथ में लेने का मामला दर्ज करने पर उतारु हो गए हैं। जाट नेता हवासिंह सांगवान ने सरकार से मांग की है कि कानून सबसे लिए बराबर है। कानून हाथ में लेने का हक सांसद को भी नहीं है। उन्होने कहा कि जो नेता या सरकार कानून का पालन नहीं करती वह सत्ता से कही दूर चली जाती है। 

उन्होने अंग्रेजों का उदाहरण व जीरो टोलरेंस की दुहाई देते हुए सरकार से सांसद व उनके समर्थकों के खिलाफ जल्द कार्रवाई करने की मांग की। हवासिंह सांगवान ने कहा कि सरकार ने जल्द ही 15-20 दिनों में सांसद व उनके समर्थकों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की तो जाट समुदाय आंदोलन करेगा। क्योंकि आंदोलन करना उनका अधिकार है। साथ ही उन्होने कहा कि वो अपने संगठन की तरफ से कार्रवाई ना होने पर कार्ट भी जाएंगे और सांसदसैनी को चैन से नहीं बैठने देंगे।

Wednesday, October 12, 2016

अडानी, अम्बानी, रामदेव, बालकृष्ण के ही अच्छे दिन ला रही है बीजेपी सरकार, हुड्डा

अडानी, अम्बानी, रामदेव, बालकृष्ण के ही अच्छे दिन ला रही है बीजेपी सरकार, हुड्डा


भिवानी, 12 अक्टूबर। कांग्रेस सांसद दीपेन्द्र सिंह हुड्डा आज भिवानी पहुंचे और अनेक सामाजिक कार्यक्रमों में शिरकत की। बामला गाँव में सांसद ने स्वतंत्रता सेनानी और संविधान सभा के सदस्य चौ. रणबीर सिंह जी की मूर्ति का अनावरण कर श्रद्धासुमन अर्पित किये। इसके बाद बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू कर किसानों को लागत पर 50 फीसदी मुनाफा जोड़कर देने का वादा कर सत्ता में आई भाजपा के राज में लगातार तीसरे साल भी किसानों की दुर्गति हो रही है और सरकार सो रही है। बाजरा की सरकारी खरीद में किसानों को हो रही दिक्कतों पर उन्होंने कहा कि मंडियों में अपनी फसल बेचने पहुंचे किसानों पर भाजपा सरकार मनमानी शर्तें थोप रही है। बाजरा किसान से चार क्विंटल प्रति एकड़ फसल ही खरीदने जैसी शर्तों के कारण किसान मंडियों में अपनी फसल कौडि़यों के भाव पर बेचने को मजबूर हो रहा है। हर तरफ किसान त्राहि-त्राहि कर रहा है। दीपेन्द्र ने सरकार से मांग की, कि बाजरा किसान पर थोपी गयी मनमानी शर्तें तुरंत खत्म की जायें, न्यूनतम समर्थन मूल्य पर हर हाल में फसलों की खरीद शुरु की जाये और किसानों को मौके पर ही भुगतान सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने यह भी जोड़ा कि समाचार पत्रों में भाजपा नेताओं का बयान छपा है कि स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू करना या नहीं करना सरकार की मनमर्जी पर है। इससे यह साफ हो जाता है कि सरकार किसानों के हितों पर कुठाराघात करने पर तुली है और मनमर्जी थोप रही है। यही कारण है कि मौजूदा सरकार की किसान विरोधी नीतियों को सीजन दर सीजन कोसने पर मजबूर है।

सांसद दीपेन्द्र ने भाजपा सरकार की किसान विरोधी नीयत पर प्रहार करते हुए कहा कि पिछले साल का धान खरीद घोटाला इस बार भी सरकारी संरक्षण में मंडियों में शुरु हो गया है। किसान को न तो फसल का सही भाव मिल रहा है और न ही उसकी फसल मंडियों में खरीदी जा रही है। नमी की आड़ में धान की फसल औने-पौने दाम पर मंडियों में दिन दहाड़े लूटी जा रही है। मंडियों में अपनी कड़ी मेहनत की फसल दिन दहाड़े लुटते देखकर किसानों की आंखें नम हैं। सरकार ने एमएसपी तो 1510 रुपया तय किया है लेकिन किसानों को 1250 से 1300 का भुगतान किया जा रहा है। उन्होंने सवाल किया कि आखिर प्रति क्विंटल 210 से 260 रुपया किसकी तिजोरियों में भरा जा रहा है? उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री चौ. भूपेन्द्र सिंह हुड्डा के समय किसानों को 5000 से 6000 का भाव मिलता था, वो आज 1510 रुपये के समर्थन मूल्य से भी नीचे गिर गया है। इतने कम भाव पर तो महंगाई के इस जमाने में किसान की लागत भी नहीं निकाल पा रही है और किसान बर्बाद हो कर कर्जदार बन रहा है।

कांग्रेस सांसद ने आगे कहा कि एक तरफ प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के नाम पर किसान के खाते से जबरन पैसा काटकर पूरे देश से 18000 करोड़ रुपया निजी कंपनियों की तिजोरियों में भर दिया गया, दूसरी तरफ आयकर विभाग द्वारा करीब 18000 किसानों को इनकम टैक्स नोटिस देकर सरकार उनका गला घोंटने पर तुली है। उन्होंने यह भी दोहराया कि पिछले दो वर्षों में किसान बदहाल हुआ है जबकि अडानी, अम्बानी जैसे पूंजीपतियों की संपत्ति में भारी इजाफा हुआ है। सरकार की कृपादृष्टि से रामदेव जी के सहयोगी बालकृष्ण जैसों के ही‘अच्छे दिन’ आये और 5 वर्ष पहले तक कोई संपत्ति या बैंक खाता तक नहीं होने की बात करने वाले बालकृष्ण आज देश के 50 सबसे अमीर लोगों की सूची में शामिल हो गये हैं। कांग्रेस सांसद ने कहा कि आजादी के बाद ऐसा पहली बार हुआ है कि सरकार पूंजीपतियों और जमाखोरों को छोड़कर किसानों के घर में काला धन ढूंढने के लिये दमनकारी नीति पर चल रही है। भाजपा राज में किसानों की इनकम तो नहीं बढ़ी मगर उनको इनकम टैक्स नोटिस जरुर मिल गया।



कांग्रेस सांसद हुड्डा ने हरियाणा की भाजपा सरकार के दो साल पूरे होने पर सरकार द्वारा जश्न के आयोजन पर तीखी टिप्पणी देते हुए कहा कि यह तो खुद की परीक्षा में खुद को पास कर खुद ही जश्न मनाने वाली बात है। अगर सरकार प्रदेश की जनता से अपने दो वर्ष के कार्यकाल का मूल्यांकन करवाये तो निश्चित तौर पर भाजपा को जमीनी हकीकत का अन्दाजा हो जाएगा और सरकार हर विषय में फेल साबित होगी।

उन्होंने आगे कहा कि जहां एक तरफ केन्द्र सरकार का आधा कार्यकाल और प्रदेश सरकार का दो साल का कार्यकाल पूरा हो रहा है वहीं अब तक भाजपा सरकारों ने अपना एक भी वादा ईमानदारी से पूरा नहीं किया है। सांसद ने आगे कहा कि आज देश की जनता सरकार से पूछ रही है कि क्या किसान को उसकी फसल का भाव बढ़ के मिला? लोगों के खाते में 15-15 लाख आये? क्या युवाओं को हर साल 2 करोड़ नौकरियां मिलीं? क्या 9 हजार रुपया बेरोजगारी भत्ता मिला? क्या स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू हो पायी? जहाँ जनता चुनाव से पहले भाजपा द्वारा किये गए158 वादों का हिसाब मांग रही है वहीं भाजपा के शीर्ष नेता अपने ही किये वादों को कहीं ‘जुमला’ तो कहीं ‘गले की हड्डी’ कह कर अपना पल्ला झाड़ने की कोशिश में जुटे हैं। लेकिन लोग सब समझते हैं और अपने साथ किये गये झूठे वादों का हिसाब सही समय आने पर वोट की चोट से सूद समेत चुकता कर लेंगे।

Friday, September 23, 2016

पूर्व मंत्री की ललकार, इजाजत से सरकार तो  सीमा पर पाक से लड़ने को हूँ तैयार

पूर्व मंत्री की ललकार, इजाजत से सरकार तो सीमा पर पाक से लड़ने को हूँ तैयार

भिवानी 23 September 2016:  शहिदी दिवस के उपलक्ष्य में सर्वपंथ सम्मलेन के दौराना एक तरफ इकलौती बेटी संतान व पूर्व सैनिकों को सम्मानित किया वहीं पूर्व मंत्री एवं विधायक घनश्याम सर्राफ ने उडी हमलें पर पाक को दो टूक शब्दों में कडी नसिहत दे डाली। पूर्व मंत्री ने कहा कि यदि सरकार उन्हें इजाजत दें तो वे खुद भी देश की सिमा पर दुश्मानों के खिलाफ हथियार उठाने को तैयार हैं। 

उन्होनें कहा कि ऐसे दुश्मन से दो-दो हाथ करना ही जीने से बेहतर है। हालाकिं केंद्र सरकार जल्द ही मुँहतोड जवाब देने के लिए पाक को सबक सिखाने वाली है। सत्संग व भण्डारे के दौरान गांव की सबसे अधिक पढी-लिखी संरपच बेटी को सम्मान व इकलोैती बेटी संतान तथा पूर्व सैनिकों को पूर्व मंत्री एवं विधायक घनश्याम सर्राफ ने मुख्यअतिथि के तौर पहुंचकर सम्मानित किया। गांव ढाणालाडनुर में आर्चाय दलबीरानन्द के आयोजन में आयोजित कार्यक्र्रम में गांव में इकलौती बेटी संतान व उनके परिजनों को सम्मानित किया। पूर्व मंत्री एवं विधायक घनश्याम सर्राफ ने पूर्व सैनिकों को भी फूलमालाएं पहनाकर सम्मान दिया। 

इस मौके पर पूर्व मंत्री एवं विधायक घनश्याम सर्राफ ने कहा कि हिंदूस्तान की आन-बान-शान पर आंच नहीं आने देंगे। उडी क्षेत्र में शहिद हुए जांबाज सैनिकों के साथ पूरा देश खड़ा है। पाकिस्तान की नापाक हरकतों को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए केंद्र सरकार जल्द ही सबक सिखाने वाली है। उन्होनें कहा कि पाकिस्तान के किसी भी षड्यंत्र व आंतकवादी हरकतों को देश स्वीकार नहीं करेगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में जल्द ही पाक की कुटिल चालों को ध्वस्त कर एक आजाद लोकतंत्र का परिचय देगा। इस मौके पर पूर्व चेयरमैन भवानी प्रताप सिंह, विश्व हिंदू परिषद के पूर्व जिला अध्यक्ष सूरजमल तंवर, मुख्य अध्यापक जयबीर सिंह नाफरिया, ढाणा लाडनपुर संरपच सुनिता देवी, सुरेश कुमार, राजबीर बराड़, मा. हरिसिंह के अलावा करीब दो दर्जन पूर्व सेैनिक व बेटियों के परिजन शामिल थे।