Showing posts with label Bhiwani News. Show all posts
Showing posts with label Bhiwani News. Show all posts

Thursday, February 2, 2017

ओले के कारण बर्बाद हुई फसलों का अधिकारियों ने लिया जायजा

ओले के कारण बर्बाद हुई फसलों का अधिकारियों ने लिया जायजा

भिवानी, 02 फरवरी।         उपायुक्त पंकज के निर्देशानुसार आज उपमण्डल अधिकारी (ना.)भिवानी सतपाल सिंह की अध्यक्षता में  अधिकारियों की एक टीम ने विभिन्न गांवों में ओलावृष्टि से प्रभावित हुई फसलों के नुकसान का जायजा लिया।
    प्रधानमंत्री फसल योजना के तहत एसडीएम की अध्यक्षता में एक टीम का गठन किया गया है जो प्राकृतिक आपदा से नष्ट हुई फसलों के नुकसान का आंकलन करती है। इस आंकलन के आधार पर योजना के नोडल बीमा एजेंसी किसानों को उनके नुकसान की भरपाई करेंगी। इस टीम के सदस्यों में तहसीलदार संजय बिश्रोई तथा कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के उपनिदेशक डा. आत्माराम गोदारा सहित भिवानी जिला के नोडल बीमा एजेंसी रिलायंस कम्पनी के अधिकारी शामिल थे। उन्होंने आज गांव पुर, जाटु लुहारी, मंढ़ाणा तथा धनाना  में जाकर ओलावृष्टि से नष्ट हुई फसलों का आंकलन किया तथा किसानों के साथ बातचीत की।

    एसडीएम सतपाल सिंह ने बताया कि उपायुक्त के आदेशानुसार अधिकारी आज फसलों का जायजा ले रहे है। इस क्षेत्र में गेहूं एवं सरसों की फसल का जितना नुकसान हुआ है, उसकी रिपोर्ट उपायुक्त को दी जाएगी। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में रबी की  चार फसल गेहूं, जौ, चना और सरसों का बीमा किया गया है। गेहूं पर प्रति एकड़ 333 रूपए 86 पैसे, जौ  व चना पर 151 रूपए 75 पैसे तथा सरसों की फसल पर 166 रूपए 93 पैसे प्रीमियम हैं। इन फसलों में हुए नुकसान की भरपाई इस आंकलन के पश्चात बीमा कम्पनी किसानों को करेगी।        

Saturday, January 28, 2017

जाट आंदोलन, भिवानी में धारा 144 लागू, सख्त हुआ प्रशासन

जाट आंदोलन, भिवानी में धारा 144 लागू, सख्त हुआ प्रशासन

भिवानी, 28 जनवरी। आरक्षण आंदोलन की चेतावनी को देखते हुए जिलाधीश पंकज ने पूरे जिले में धारा 144 लागू कर दी है।
जिलाधीश द्वारा जारी किए गए आदेश में कहा गया है कि जिले में कानून व सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए धारा 144 लगाई गई है और यह आरक्षण आंदोलन से संबंधित मामला समाप्त होने तक जारी रहेगी। जिला प्रशासन को जानकारी मिली थी कि इस दौरान जिले की शांति व्यवस्था बाधित हो सकती है और जिससे आम जन जीवन को भी नुकसान हो सकता है।

 इसीलिए जिलाधीश ने ये आदेश पारित करने का निर्णय लिया है। आदेश के मुताबिक जिले में कहीं भी पांच या पांच से अधिक व्यक्ति एक ही स्थान पर एकत्रित नही होगें। सार्वजनिक स्थान पर कोई भी व्यक्ति हाथ में किसी भी प्रकार का शस्त्र, घातक हथियार, चाकू, जेली, बन्दूक, तलवार तथा लाठी आदि लेकर घूमता हुआ पाया गया तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होगी।
जिलाधीश ने कहा है कि सुरक्षा कर्मियों और कृपाणधारी सिखों पर ये आदेश लागू नही होगा। उन्होंने कहा है कि किसी भी असामाजिक तत्व ने सुरक्षा व्यवस्था या आम जन जीवन को बाधित करने का प्रयास किया तो उसके खिलाफ तुरन्त मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

जाट आंदोलन, उपद्रव मचाने वालों पर बिना किसी का आदेश लिए डंडे बरसा सकेगी पुलिस

जाट आंदोलन, उपद्रव मचाने वालों पर बिना किसी का आदेश लिए डंडे बरसा सकेगी पुलिस

 भिवानी, 28 जनवरी। आरक्षण आंदोलन को मद्देनजर रखते हुए पुलिस विभाग पूरी तरह से भिवानी जिले में मुस्तैद हो चुका है। एसपी अशोक कुमार के नेतृत्व में आज फ्लैग मार्च निकाल कर सुरक्षा बलों ने अपनी चौकसी का प्रमाण दिया।

आरक्षण आंदोलन की घोषणा के बाद भिवानी पुलिस पूरी तरह से अलर्ट हो चुकी है। एसपी अशोक कुमार ने खुद शहर व आस-पास के गांवों में फ्लैग-मार्च किया। एसपी अशोक कुमार ने कहा कि थाना प्रभारी पुलिस टुकडिय़ों के इंचार्ज हैं और मौके की नजाकत को देखते हुए कोई भी कार्रवाई में सक्षम होंगे। फ्लैग मार्च हांसी गेट से होते हुए पूरे शहर और बाद में बामला, गुजरानी, मिताथल, धनाना, तालु, पुर, सिवाड़ा, बवानी खेड़ा, जमालपुर, तोशाम, बीरण व बापोड़ा कस्बे में निकाला गया। फ्लैग मार्च का नेतृत्व खुद एसपी ने किया। मार्च में डीएसपी विजय देशवाल सहित थाना प्रबंधक शामिल रहे।

पुलिस अधीक्षक ने  बताया कि आरक्षण के मामले को लेकर सुरक्षा के लिहाज से पुलिस अपनी तैयारी कर रही है। उन्होंने बताया कि  समाज के किसी भी व्यक्ति को कानून हाथ में नहीं लेने दिया जाएगा। उन्होंने लोगों से भी शांति की अपील की और कहा कि उग्र प्रदर्शन या रास्ता जाम करने वालों के साथ सख्ती से निपटा जाएगा। साथ ही कहा कि कहीं भी कोई भी घटना होती है तो हर टुकड़ी इन्चार्ज और उसके साथ तैनात ड्यूटी मैजिस्ट्रेट बिना आदेशों का इंतजार किए खुद मौके की नजाकत को देख कार्रवाई कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि पुलिस विभाग ने अम्बाला और यमुनानगर से अतिरिक्त सुरक्षा बल बुलवाया है। जिले  में पुलिस की दो और सीआरपीएफ की एक कम्पनी तैनात रहेगीं।

Wednesday, January 25, 2017

पुलिस वालों से बोले ADGP, जाट आंदोलन में कोई रेल, सड़क रोके तो छोड़ना मत

पुलिस वालों से बोले ADGP, जाट आंदोलन में कोई रेल, सड़क रोके तो छोड़ना मत

Jat-andolan-Haryana-news
भिवानी , 25 जनवरी।        जाट आरक्षण आंदोलन को लेकर आज पुलिस लाईन भिवानी में एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर अकिल मोहम्मद ने पुलिस कर्मचारियों को संबोधित किया तथा एडीजीपी ने जवानों को कहा कि सड़क और रेल मार्ग कही भी बाधित नही होने दिया जाएगा। ऐसा करने वालो के साथ सख्ती से निपटा जायेगा। साथ ही एडीजीपी के कहा कि अधिकारी जिला प्रशासन के साथ बेहतर तालमेल रखे तथा अपने अधीन जवानो को स्पष्ट निर्देश दे तथा जो भी असामाजिक तत्व कानून को अपने हाथ में ले तो उससे सख्ती से निपटे किसी को भी कानून हाथ में लेने का अधिकार नही है। उन्होंने कहा कि अधिकारी समाज के मौजिज लोगों के साथ निरतंर सवांद रखते हुये समस्याओं को हल करने का प्रयास करे।

    इस अवसर पर भिवानी पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार, दादरी के पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार, उप पुलिस अधीक्षक चन्द्रपाल, विजय देशवाल, विजयपाल, कुलदीप सिंह, सुरेश कुमार एवं सभी प्रबंधक थाना व अन्य कर्मचारी उपस्थित थे। 

Sunday, January 15, 2017

हाथ में लिस्ट लेकर CM ने टटोली पार्षदों की नब्ज, हर पार्षद से मिल पूंछा हालचाल

हाथ में लिस्ट लेकर CM ने टटोली पार्षदों की नब्ज, हर पार्षद से मिल पूंछा हालचाल

भिवानी, 15 जनवरी :पूर्व मंत्री एवं विधायक घनश्याम सर्राफ की अगुवाई में रविवार को नगरपषिद के पार्षदों का प्रतिनिधिमंडल सीएम मनोहर लाल खटर से पानीपत में मिला। विधायक सर्राफ ने 20 पार्षदों की सूची सीएम मनोहरलाल खट्टर को सौंपी। सीएम मनोहरलाल खट्टर ने हाथ में सूची लेकर एक-एक नवनिर्वाचित पार्षदों की नब्ज टटोली। पार्षदों की अच्छी नफरी(संख्या)से खुश होकर सीएम ने विधायक की मांग पर भिवानी का चहुंमुखी विकास करवाने के भरोसा दिलाया।

नवनिर्वाचित पार्षदों का प्रतिनिधिमंडल दोपहर विधायक घनश्याम सर्राफ की अगुवाई में पानीपत पहुंचा। विधायक ने सीएम से मुलाकात की और उनके साथ गए सभी पार्षदों की सूची सीएम मनोहर लाल को सौंपी। इससे पहले विधायक सर्राफ ने उनके साथ गए सभी एक-एक पार्षदों का सीएम के समक्ष परिचय कराया। उसके बाद सीएम ने सूची लेकर प्रत्येक नवनिर्वाचित पार्षद के पास पहुंचे और किसने कितने वोट से जीत हासिल की,इस बारे में जानकारी ली।

सीएम ने प्रत्येक पार्षद से करीब 40 से 45 सेकेंड तक बात की और उनका हालचाल भी जाना। चुनाव में महिलाओं की अच्छी भागीदारी पर सीएम ने विधायक सर्राफ की पीठ थपथपाई और कहा कि यह जीत स्थानीय विधायक की जीत है। इस मौके पर सीएम मनोहर लाल खट्टर ने भिवानी का चहुमुखी विकास कराने का भरोसा दिलाया और कहा कि भिवानी के लिए योजनाओं व घोषणाओं का पिटारा खोला जाएगा। इस दौरान पार्षदों ने एकमत होकर विधायक घनश्याम सर्राफ को दोबारा मंत्रीमंडल में शामिल किए जाने की मांग की तो सीएम सकारात्मक जवाब दिया और बोले यह खुशी जल्द मिलेगी। इस मौके पर भाजपा जिला प्रधान नंदराम धानिया, धीरज सैनी, अनिल सोनी, सोनू सैनी, सियाराम जांगड़ा, पवन बंसल, विक्की काटपालिया, दिन्नू तंवर, हीरालाल के अलावा अनेक कार्यकर्त्ता मौजूद थे।