Showing posts with label Haryana News. Show all posts
Showing posts with label Haryana News. Show all posts

Tuesday, February 21, 2017

कांग्रेस से भी जुड़ा है ये जाट नेता, बोला था  24 घंटे में काट दूंगा मोदी की गर्दन

कांग्रेस से भी जुड़ा है ये जाट नेता, बोला था 24 घंटे में काट दूंगा मोदी की गर्दन

चंडीगढ़ । अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति और हरियाणा सरकार की ओर से गठित कमेटी की बीच सोमवार को करीब 4 घंटे चली बैठक में केवल 2 मांगों पर सहमति बनी। बैठक से मीडिया को दूर रखा गया था और बातचीत के दौरान जाट नेताओं ने वहाँ चाय पानी तक नहीं पिया । बैठक में  सरकार जहां गंभीर रूप से घायलों को 2 लाख रुपये का मुआवजा देने पर सहमत हुई, वहीं कोर्ट में लंबित मामलों को वापस लेने के बारे में 4 सदस्यीय कमेटी के गठन का फैसला लिया गया।

इस कमेटी में 2 सदस्य सरकार के और 2 जाट आरक्षण संघर्ष समिति के होंगे। समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक ने कहा कि बैठक अच्छे माहौल में हुई। हालांकि उन्हाेंने यह भी कहा कि स्थिति वही ढाक के तीन पात है। आंदोलन जारी रहेगा। सरकार को 5-7 दिन का समय दिया गया है। यशपाल मलिक ने सोमवार को कहा कि होली के बाद संसद का घेराव किया जाएगा। बड़ी संख्या में जाट ट्रैक्टर-ट्रालियां लेकर संसद की तरफ कूच करेंगे। उन्होंने ऐलान किया कि हरियाणा के जाटों के समर्थन में 2 मार्च को दिल्ली के जाट प्रदर्शन करेंगे। इसी दौरान संसद के घेराव की तारीख की घोषणा की जाएगी।

वहीं रविवार को जसिया में जाट नेता यशपाल मलिक ने माइक छीन युवा नेता सोमवीर दोहन ने कहा था कि 24 घंटे में मोदी की गर्दन काट देंगे । सोमवीर धरना दे रहे जाटों की तेरह सदस्यीय कमेटी में शामिल है और बताया जा रहा है कि सोमवीर कांग्रेसी नेता भी रह चुका है और अब भी उसके कांग्रेस से सम्बन्ध हैं । पिछले  आंदोलन में कैप्टन अभिमन्यु के घर जलाने वाले मामले में भी सोमवीर दोहन का नाम शामिल है । दोहन की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वाइरल हो रही है जिसमे वो दीपेंद्र हुड्डा के साथ दिखाई पड़ रहा है । भाजपा नेताओं का कहना है ये सब विपक्षी नेता करवा रहे हैं । कई भाजपा नेताओं और मंत्रियों के बयान आ चुके हैं जिसमे कहा गया कि विपक्ष जाटों के कंधे पर बन्दूक रखकर अपनी राजनीति चमकाना चाहता है । सोमवीर दोहन के बयान और उसका कांग्रेस से जुड़ा हुआ होने के कारण भाजपा नेताओं को एक और मुद्दा मिल गया है । 
पुराने रेट पर बेंच रहे थे दिल के उपकरण, सरकार ने शुरू की छापेमारी

पुराने रेट पर बेंच रहे थे दिल के उपकरण, सरकार ने शुरू की छापेमारी

चण्डीगढ़, 21 फरवरी- हरियाणा खाद्य और औषधि विभाग द्वारा गठित की गई टीमों ने कल दिन भर पंचकूला, सोनीपत और गुरुग्राम के अस्पतालों में, जहां कार्डियक स्टेंट इमप्लांट किए जाते हैं, में छापे मारे और यह सुनिश्चित किया कि कोई अस्पताल भारत सरकार द्वारा जारी आदेशों की उल्लंघना न करे और कहीं भी कार्डियक स्टेंट की कमी न रहे। हरियाणा सरकार ने आदेेश जारी किए हैं कि कोई भी अस्पताल भारत सरकार द्वारा जारी आदेशों में निर्धारित दरों से अधिक दाम वसूलता है तो उसके विरूद्ध विभाग द्वारा कड़ी कार्यवाही की जाएगी। 

इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज ने बताया कि भारत सरकार द्वारा नैशनल फामास्यूटिकल प्राइसिंग अथोरिटी द्वारा गत 14 फरवरी को दिल के मरीजों के इलाज को सस्ता करने के उद्देश्य से एक लाख और इससे अधिक मूल्य पर बिकने वाले कार्डियक स्टेंट की कीमत घटाकर 7260 से लेकर 27,000 रुपये तक ड्रग प्राइस कन्ट्रोल ऑडर के तहत फिक्स कर दी थी। उन्होंने बताया कि इन आदेशों के तहत ये दरें मरीजों तक पहुंचे इसे विभाग द्वारा सुनिश्चित किया जा रहा है।  

उन्होंने बताया कि पंचकूला के एलकैमिस्ट अस्पताल, गुडग़ांव के मेदांता द मैडिसिटी, आर्टिमिस हैल्थ इंस्टीट्यूट, पारस अस्पताल, कोलंबिया एशिया अस्पताल, फोर्टीज अस्पताल, सोनीपत के ट्यूलिप अस्पताल इत्यादि अस्पतालों में छापे मारकर कार्डियक स्टेंट की निर्धारित दरों को चैक किया गया। इसके अतिरिक्त, हरियाणा की चार कैथलैब और 10 कैमिस्ट की दूकानों पर भी छापे मारकर जांच की गई। 
स्वास्थ्य मंत्री अनिल ने कहा की केंद्रीय सरकार ने स्टेंट के बहुत  ऊँचे रेट होने के कारण इनके रेट कम कर  दिए है, लेकिन फिर भी कई तरफ से बात आ रही थी कि पुराने दाम पर ही काम किया जा रहा है। हरियाणा में जहां-जहां पर भी स्टंट डालने की सुविधा उपलब्ध है, आज उन सभी अस्पतालों में रेड की गयी है। उनके स्टंट के  स्टॉक को चेक किया गया है, लेकिन कहीं भी ऐसी कोई बात सामने नहीं आई है जहाँ रेट ज्यादा लिए जा रहे हो।
उन्होंने बताया कि जो दाम निश्चित किये गए है, वही दाम लिए जा रहे है। कुछ जगह अफवाह फैलाई जा रही थी की स्टॉक में कमी आ गयी है, तो ऐसा कुछ नहीं है। हरियाणा के हर अस्पताल में जहां-जहां स्टेंट बदलने की सुविधा उपलब्ध है जैसे पंचकूला,करनाल,सोनीपत वहां-वहां रेड की  गयी है। समाचार लिखे जाने तक यह छापों की कार्यवाही जारी थी।

Monday, February 20, 2017

जाट आंदोलन में घायल हुए लोगों को खट्टर सरकार ने आज बांटे 15 लाख

जाट आंदोलन में घायल हुए लोगों को खट्टर सरकार ने आज बांटे 15 लाख

चण्डीगढ़, 20 फरवरी- रोहतक जिले में जाट आरक्षण आन्दोलन 2016 में घायल हुए बेकसूरवार/निर्दोष 22 पीडि़तों को 15 लाख रुपए की राशि के चैक प्रदान कर दिए गए हैं। 
एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि दिलबाग पुत्र भूप सिंह पाकस्मा को एक लाख रुपए, विकास पुत्र राजवीर विजय नगर, रोहतक को एक लाख रुपए, धर्मेश अहलावत पुत्र राजकुमार शिमल नगर, रोहतक व संदीप पुत्र रामकिशन सैक्टर-3, रोहतक को 50-50 हजार रुपए, धर्मवीर पुत्र जिले सिंह रूडक़ी को 50 हजार रुपए, अजय पुत्र हंसराज गद्दी खेड़ी को एक लाख रुपए, अमित पुत्र कृष्ण मदीना व नरेंद्र पुत्र जय सिंह रिठाल को 50-50 हजार रुपए, मोनू पुत्र सत्यवान मकड़ौली कलां को एक लाख रुपए, मनीश पुत्र कर्मवीर मदीना को एक लाख रुपए, कपिल पुत्र समुन्द्र अजायब को एक लाख रुपए, 

रवि पुत्र सतबीर खरकड़ा निवासी, रविन्द्र पुत्र रामफल बलियाणा निवासी, नवीन पुत्र महेंद्र जाट कॉलेज रोहतक को 50-50 हजार रुपए, रोमी (रमेश)पुत्र कर्ण सिंह लाढ़ौत को एक लाख रुपए, प्रमोद पुत्र द्वारका प्रसाद देव कॉलोनी को एक लाख रुपए, मंजित पुत्र महाबीर ब्राöवास 50 हजार रुपए, नरेंद्र पुत्र वजीर चंद मकान नम्बर-210/23 डीएलएफ कॉलोनी को 50 हजार रुपए, दीपक पुत्र सतबीर मोखरा खास 50 हजार रुपए, जसवीर पुत्र तरसेम सिंह गीता कॉलोनी 50 हजार रुपए तथा अशोक कुमार पुत्र कस्तूरी लाल मकान नम्बर-275/25 गांधी नगर रोहतक को 50 हजार रुपए की सहायता राशि के चैक प्रदान किए गए हैं। उन्होंने बताया कि पुनीत पुत्र दलबीर ङ्क्षसह का सहायता राशि का 50 हजार रुपए का चैक झज्जर जिला प्रशासन को भेज दिया गया है। 
एक ब्रेकिंग खबर 
चण्डीगढ़, 20 फरवरी- हरियाणा सरकार ने आज तुरंत प्रभाव से पुलिस मुख्यालय के एडीजीपी (प्रशासन) डॉ० आर.सी.मिश्रा को पंचकूला के पुलिस आयुक्त का अतिरिक्त कार्यभार और अम्बाला रेंज का कार्यभार सौंपा है। 

हरियाणा लाइक घोटाला, एक लाइक का देते थे 5 रू, ठग लिए करोड़ों

हरियाणा लाइक घोटाला, एक लाइक का देते थे 5 रू, ठग लिए करोड़ों

चण्डीगढ़, 20 फरवरी- हरियाणा पुलिस ने गुरुग्राम में प्रोफिट नैटवर्क नामक कम्पनी के निदेशक सहित तीन अन्य लोगों को धोखाधड़ी करने के आरोप में गिरफ्तार किया है और कम्पनी के अभी तक तीन खातों को फ्रीज करवा दिया गया है, जिसमें लगभग 90 लाख रुपये की राशि है।
    इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए आज यहां पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि पकड़े गये व्यक्तियों में राजकुमार शर्मा पुत्र सत्यनारायण निवासी धनौंदा थाना कनीना जिला महेन्द्रगढ हाल फ्लैट नम्बर 103 नेचरवैली अपार्टमैन्ट, गांव कुम्हारिया थाना पर्वतपारिया जिला सूरत गुजरात, दौलत सिंह शेखावत पुत्र बजंरग सिंह शेखावत निवासी लुहाकना थाना विराटनगर जिला जयपुर हाल फ्लैट नम्बर 320-एफ-1, पत्रकार कालोनी मानसरोवर जिला जयपुर राजस्थान और भरतकुमार पुत्र संतोष कुमार निवासी गांव मुननवाडा कलां तहसील व थाना मुण्डावर जिला अलवर राजस्थान तथा अजय पुत्र वेदप्रकाश निवासी  नतां की ढाणी थाना सदर भिवानी जिला भिवानी हाल मकान नम्बर 171 विजयी बोर्ड कालोनी, भिवानी शामिल हैं।

    प्रवक्ता ने बताया कि 13 फरवरी 2017 को विजय सिंह पुत्र मानसिंह गांव धनाना जिला रेवाडी व अमित कुमार पुत्र महाबीर सिंह निवासी सोनीपत ने पुलिस को एक शिकायत प्रोफिट नैटवर्क  कंपनी के विरूद्ध दी, जिसमें उन्होने आरोप लगाया है कि उन्होने कंपनी में 23.01.2017 को ज्वाइन किया और कंपनी के अकाउन्ट में लगभग 2,50,000 रुपये जमा करवाये जिसके एवज में कंपनी द्वारा प्रतिदिन कुछ लिंक उनको भेजे जाते थे, जिन पर क्लिक करने पर प्रति क्लिक 5 रुपये उन्हें मिलते थे जो कि उनके खाते में ट्रांसफर कर दिये जाते थे। लेकिन 07 फरवरी 2017 के बाद से उनके खाते में पैसे आने बंद हो गये। जब उन्होने कंपनी के पंजीकृत कार्यालय 225, दूसरी मंजिल, विपुल ट्रेड टावर, सैक्टर 48, गुरुग्राम पर जाकर पता किया तो देखा कि वहां पर ताला लगा हुआ है और कंपनी वहां से हजारों लोगों को चूना लगाकर भाग गई है। 

प्रवक्ता ने बताया कि शिकायत के आधार पर गुरुग्राम पुलिस ने 14 फरवरी, 2017 को थाना बादशाहपुर में एफआई नंबर-107 दिनांक 14.02.2017 आईपीसी की धारा 420, 468, 471, 420बी और आईटी एक्ट की 66-डी, हरियाणा प्रोटैक्शन आफ इंटरेस्ट आफ डिपोजिशन एक्ट की धारा 3,32,14 के अंतर्गत अभियोग अंकित किया गया। मामले की गंभीरता को देखते हुये पुलिस एसआईटी का गठन किया और पुलिस टीम ने त्वरित कार्यवाही करते हुये  इस कम्पनी के निदेशक और मैनेजर इत्यादि की डिटेल खंगालनी शुरू की और  19 फरवरी 2017 को गुप्त सूचना के आधार पर इस कंपनी के निदेशक समेत निम्नलिखित व्यक्तियों को राजीव चौक, गुरूग्राम से गिरफ्तार किया जहां से ये लोग यहां से कहीं दूर भागने की फिराक में थे।
उन्होंने बताया कि  आरोपियों से पूछताछ के दौरान इन्होंने खुलासा किया कि इन्होंने जूलाई-2016 से इस कंपनी को शुरू किया था और तब से अब तक लगभग 4800 लोगों को इस कंपनी का सदस्य बनाया गया है, जिनसे करीब 8 करोड रूपये इस कंपनी द्वारा अपने खाता में डलवाये गये है और 4000 से अधिक लोगों के साथ इस कंपनी द्वारा फ्राड किया गया है। कंपनी के अभी तक 3 खातों को फ्रिज करवा दिया गया है, जिसमें लगभग 90 लाख रूपये फ्रिज है।  
अदालत के आदेश को नहीं समझ पाए तो सड़क पर उतर गए

अदालत के आदेश को नहीं समझ पाए तो सड़क पर उतर गए

स्टार हरियाणा (बिलाल अहमद)नूह मेवात। नूह जिले के खंड फिरोजपुर झिरका के दोहा गांव के ग्रामीणों ने गुरुग्राम-अलवर राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित दोहा चौक पर जाम लगा दिया।गांव की महिलाएं व् छोटे बच्चो के साथ रोड पर दोनों और वाहनों की लंबी कतार लग गई।जाम की सूचना पाकर फिरोजपुर झिरका थाना प्रबंधक रतन लाल मौके पर पहुचे।लोगो को समझाने का पूरा पूरा प्रयास किया तथा माननीय अदालतों के आदेशो के बारे में सही बताया तो लोगो ने थाना प्रबंधक रतनलाल के कहने से बड़ी मशक्कत के बाद ग्रामीणों ने जाम खोला।
मिली जानकारी के अनुसार गांव की एक लड़की का मामला अदालत में चल रहा था।अदालत ने आदेश दिया की लड़की अपनी मर्जी से कही पर भी रह सकती है।अदालत के आदेशों को दोहा गांव के ग्रामीणों ने सही प्रकार से नहीं समझा और रविवार को साढ़े बारह बजे दोहा चोक पर जाम लगा दिया।

जाम लगाने वाले 13 नामजद सहित कई के खिलाफ केस दर्ज।
दोहा गांव के लोगो द्वारा गुरुग्राम अलवर रोड पर स्थित दोहा चोक पर जाम लगाने व् सरकारी कार्य में बाधा डालने पर दोहा गांव एक महिला सहित 13 लोगो नामजद कर उनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।
क्या कहते हैं थाना प्रबंधक
फिरोजपुर झिरका थाना प्रबंधक रतनलाल का कहना है कि जाम की सूचना मिलते ही हम पुलिस बल को लेकर तुरंत जाम स्थल पर पहुच गए थे।दोहा गांव की एक लड़की का मामला पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय में विचाराधीन था।अदालत ने आदेश दिए की लड़की अपनी मर्जी से कही पर भी रह सकती है। दोहा गांव के लोगो ने अदालत के आदेशों को सही तरह से नहीं समझा और रोड़ जाम लगा दिया।मेरे समझाने के बाद ग्रामीणों ने जाम खोल दिया।
सच्चे दिल और मन से की गयी मेहनत एक दिन जरूर सफल होती है

सच्चे दिल और मन से की गयी मेहनत एक दिन जरूर सफल होती है

चरखी दादरी 20  फरवरी: आज हरियाणा का रंगमंच अपने निराले अंदाज से पूरे भारत में ख्याति पाता नज़र आ रहा है इसका सारा श्रय हमारे हरियाणा के कलाकारों को जाता है कला क्षेत्र में चाहे थिएटर हो या फिल्म हरियाणा के कलाकार अपनी पहचान बना रहे हैं।आज फिल्म निर्देशको की पहली पसंद भी हरियाणा से जुडी हुई देखि जा सकती है ।अच्छे उत्तम एक्टर और डायरेक्टर हरियाणा से हैं।

यहाँ संजय रामफल । और यशपाल शर्मा ने अपनी मेहनत से नाम रोशन किया है।
हरियाणा के कलाकारों से बस यही कहूंगा सच्चे दिल और मन से की गयी मेहनत एक दिन जरूर सफल होती है। जिसने खोजा है उसने पाया है जय हरियाणा
अपने अभिनय के सफर को याद करूँ तो याद आता है मुझे मेरा बचपन।उन दिनों जगह जगह रामलीला का मंचन बड़े जोर शोर से होता था।
मोहल्ले की एक रामलीला को देखने में और परिवार के लोग देखने जाते थे। मुंफली खाते रामलीला का मंचन बड़े चाव के साथ देखते थे।
फिर कुछ ऐसा हुआ की गली के बच्चो ने गली में ही रामलीला मंचन शुरू किया ।खाट चारपाई लगाई साड़ी चादर से ही गली की सड़क पर मंच बना लिया ।जो कुछ घर में मिला चुन्नी साड़ी से ड्रेस का काम हो गया ।मुकट गत्ते की खाली पेटियों से बना लिए ।एक किताब रामलीला स्क्रिप्ट की खरीदी और हर रात मंचन शुरू कर दिया।यही छोटा सा मंच मेरी एक्टिंग लाइन की शुरुआत बना।इस वक़्त में 8 या 9 साल का था ।कई रोल किये मारीच देशरथ कौशल्या जनक तड़का जोकर और जब वक़्त बीतता गया कुछ सालों बाद बड़े स्तर पर यह रामलीला बड़ी रामलीला बन गयी अब गली की जगह एक पार्क में भव्य मंच बनाया जाने लगा रंगबिरंगी कॉस्ट्यूम चमकीले मुकुट मुखोटे अब हमारी रामलीला की शान में जुड़ गये।सब बच्चे बड़े हो गए समझदार भी ।अब मुझे भी कुछ खास रोल मिलने लगे शिव ।सुपर्णखा और निरंतर प्रयास आपको सफल बनाता है
में एक हरियाणा जींद परिवार से हूँ हरियाणा का पारिवारिक माहौल मेरे घर की शान हैं
जय हरियाणा
आज हरियाणा का रंगमंच अपने निराले अंदाज से पूरे भारत में ख्याति पाता नज़र आ रहा है इसका सारा श्रय हमारे हरियाणा के कलाकारों को जाता है कला क्षेत्र में चाहे थिएटर हो या फिल्म हरियाणा के कलाकार अपनी पहचान बना रहे हैं।आज फिल्म निर्देशको की पहली पसंद भी हरियाणा से जुडी हुई देखि जा सकती है ।अच्छे उत्तम एक्टर और डायरेक्टर हरियाणा से हैं।
यहाँ संजय रामफल ।और यशपाल शर्मा ने अपनी मेहनत से नाम रोशन किया है।
हरियाणा के कलाकारों से बस यही कहूंगा सच्चे दिल और मन से की गयी मेहनत एक दिन जरूर सफल होती है।जिसने खोजा है उसने पाया है जय हरियाणा
अपने अभिनय के सफर को याद करूँ तो याद आता है मुझे मेरा बचपन।उन दिनों जगह जगह रामलीला का मंचन बड़े जोर शोर से होता था।
मोहल्ले की एक रामलीला को देखने में और परिवार के लोग देखने जाते थे। मुंफली खाते रामलीला का मंचन बड़े चाव के साथ देखते थे।
फिर कुछ ऐसा हुआ की गली के बच्चो ने गली में ही रामलीला मंचन शुरू किया ।खाट चारपाई लगाई साड़ी चादर से ही गली की सड़क पर मंच बना लिया ।जो कुछ घर में मिला चुन्नी साड़ी से ड्रेस का काम हो गया ।मुकट गत्ते की खाली पेटियों से बना लिए ।एक किताब रामलीला स्क्रिप्ट की खरीदी और हर रात मंचन शुरू कर दिया।यही छोटा सा मंच मेरी एक्टिंग लाइन की शुरुआत बना।इस वक़्त में 8 या 9 साल का था ।कई रोल किये मारीच देशरथ कौशल्या जनक तड़का जोकर और जब वक़्त बीतता गया कुछ सालों बाद बड़े स्तर पर यह रामलीला बड़ी रामलीला बन गयी अब गली की जगह एक पार्क में भव्य मंच बनाया जाने लगा रंगबिरंगी कॉस्ट्यूम चमकीले मुकुट मुखोटे अब हमारी रामलीला की शान में जुड़ गये।सब बच्चे बड़े हो गए समझदार भी ।अब मुझे भी कुछ खास रोल मिलने लगे शिव ।सुपर्णखा और परशुराम जी का रोल किया।परशुराम के रोल को हर साल मुझे ही दिया जाने लगा जिसकी फोटो आज भी मेरे पास हैं।आज भी परशुराम के डायलॉग याद हैं।
बारहवीं कक्षा कम अंको से पास हुई तो कॉलेज में एडमिशन मिलना कठिन हुआ परंतु प्रयास किया 11 कॉलेज में फॉर्म भरे विभिन्न विषयों के लिए सोभाग्यवस देशबंधु कॉलेज दिल्ली विश्वविद्यालय में हिंदी ऑनर्स में दाखिला पा लिया।

कॉलेज के दिनों कॉलेज में एक सिनिर लड़की मिथलेश ने कुछ लोगो को लेकर देहबन्धु नाट्य मंच नाम से कॉलेज की नाट्य टीम बना ली।जिसके नाटक श्री संजय शर्मा और राजेश गौतम निर्देशित करने लगे।मुझे टीम के पहले नाटक गिरगिट में ही लिड रोल मिल गया एक पुलिश हवलदार का।इस रोल ने मुझे काफी पॉपुलर कर दिया दिल्ली विश्विद्यालय के कई कॉलेज के कॉम्पिटिशन में मुझे बेस्ट एक्टर अवॉर्ड मिला मेरा अभिनय हर किसी को पसंद आता था।मुझे लगता है वो रोल ही इस कदर लिखा गया है जिसका असर दिलो दिमाग में घर कर लेता है।इसका असर मुझ पर ज्यादा हुआ मेरी चालढाल बोलना चलना देखना सब कुछ एक पुलिस वाले की तरहा हो गया।इस रोल के ऐसे असर से मुझे नए नाटक में खूब डाँट फटकार मिलती जब मुझे नया रोल मिलता नये रोल में भी वही पुलिस वाली चाल फिट नहीं बैठती।निर्देशक ने खूब समझाया और धीरे धीरे कई अच्छे नाटको में अलग अलग रोल में अलग अलग तरह से प्रयास करके में पुलिस वाली छवि के किरदार से बहार आया।
फिर ऐसा एक दौर आया की एक अखबार में थिएटर अर्टिस के रिक्वयर्मेंट का एक विज्ञापन मेरी नज़र में आया विज्ञापन आदर्श कला मंच थिएटर का था में और मैरे कॉलेज के कुछ साथी निर्देशक मो युशुफ़ खान से मिले और हम लोग आदर्श कला मंच के आर्टिस्ट हो गए।यहाँ भी मुझे शुरूआती दौर में ही लीड रोल मिला ये रोल मेरे लिए अहम् भी था क्योंकि इस किरदार की उम्र लगभग 75 साल के बूढ़े की थी और मेरी उम्र 21 साल की थी फिर भी 4 महीने इस रोल की रिहसर्ल में लग गये इसका भी एक कारण था ग्रुप के पास नाटक करने के पैसे नहीं हो पा रहे थे फिर भी निरंतर प्रयास करते रहे की कभी तो ये नाटक करेंगे ही । थिएटर में पैसे की समस्या तो आती ही रहती है।चाहे वो दिल्ली हो या हरियाणा।पंजाब हो या मुम्बई हर जगह थिएटर में पैसे की समस्या लेकिन थिएटर के लोग हजारों समस्याओं के बावजूद थिएटर करते हैं क्योंकि वो कलाकार पहले हैं हिम्मत कैसे हार सकते हैं।यही जज्बा आज भी थिएटर को जिन्दा रखता है।
मेरे रास्तों में कई बड़े थिएटर निर्देशकों के नाटक नज़र आने लगे जैसे तैसे बात करके उनके नाटकों में काम किया अभिनेता और बैकस्टेज आर्टिस्ट के रूप में पर कोई पैसे नहीं देता था।पैसे मिलना तो दूर बस रोल मिल जाये ऐसी फ़िराक में हमेशा लगा रहता फिर ऐसा संजोग बैठा की एक के बाद एक कई बड़े निर्देशकों के नाटकों में अभिनय करने का मौका लगा जिनमे नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा के निर्देशक थे हेमा सिंह बापी बॉस लोकेंद्र त्रिवेदी सुरेंद्र शर्मा हिमांशु बी जोशी वागीश कुमार सिंह पता ही नहीं चला की कब 19 साल बीत गए
रंगमंच की धरती पर अभिनय करते करते अभिनेता से निर्देशक भी बन गया।

थिएटर के कोर्स के लिए एनएसडी अप्लाय किया पर एडमिशन नहीं मिला फिर  लखनऊ के भारतेंदु नाट्य अकादेमी गया यहाँ भी एडमिशन नहीं हुआ पर प्रयास जारी रहा और
2004 में मेरा सलेक्शन डिपार्टमेंट ऑफ इंडियन थिएटर के मास्टर ऑफ़ आर्ट इन इंडियन थिएटर में हो गया जहाँ थिएटर की मजबूत नीव पड़ी।अभिनय और रंगमंच की बारीकियां यहाँ प्रोफ़ेसर श्री महेंद्र कुमार जी श्री जी कुमार वर्मा जी स्वेता महेन्द्रा जी नीलाम मानसिंग चौधरी जी अंजाला महृषि जी प्रोफ़ेसर रानी बलबीर कोर जी से सीखी।
प्रोफ़ेसर महेंद्र कुमार सर और स्वेता महेंद्र मम से बहुत कुछ सीखा माता पिता के समान हैं ये दोनों अगर कहूं कि इंडियन थिएटर डिपार्टमेंट को किसीं ने मजबूत बनाय रखा है तो महेंद्र जी और स्वेता जी ने ।रानी बलबीर मेम ने थिएटर डिपार्टमेंट को नयी ऊंचाई प्रदान कर अपना कर्तव्य निभाया और अंजाला जी और जी कुमार वर्मा जी बेहतरीन शिक्षक।
चंडीगढ़ में शिक्षा पाते हुए मुझे बहुत अच्छा लगा यहाँ पंजाब के लोग और पंजाबी थिएटर भारत की शान हैं। यहाँ अक्सर लोगों ने मेरी आवाज और मेरे चेहरे के लुक की काफी तारीफ की जो आज भी बरकरार है।खुश हूं
चंडीगढ़ ने मुझे रेडियो और दूरदर्शन पर काम दिया।
यहाँ से कोर्स ख़तम हुआ ।निर्देशक के रूप में पहली बार बेला थिएटर दिल्ली ने मुझे अवसर प्रदान किया।
थिएटर मे अच्छा लगा पर फिल्मों और टीवी पर अपने आपको देखना चाहता था तो ऑडिशन पे ऑडिशन देना शुरू करने लगा ।रिस्पॉन्स तो कई जगह से मिले परन्तु काम नहीं मिला।लेकिन हिम्मत नहीं हारी और खुद पर यकीन रखा मेरे परिवार के लोगो ने मेरी जिद को सहा है थोड़े नाराज़ होते हैं जब लगातार काम नहीं मिलता।
बस प्रयास करता रहा और सही जगह तलाश करता रहा
मुम्बई गया मुम्बई में कई ऑडिशन दिए कई बड़ी कास्टिंग एजेंसियों ने मुझे शार्ट लिस्ट भी किया अछि बड़ी फिल्मो के लिए । फिल्मो से अच्छा रिस्पॉन्स इसका नतीजा आज कुछ काम करके मिला।
मुझे फिल्म दिल पतंग,फिल्म सात उच्चक्के(विद मनोज बाजपेयी),फिल्म सुरक्षा जैसी फिल्मों में अभिनय किया अच्छा लगा
अभी एक टेलि फिल्म में अच्छे रोल में हूँ
और एक टीवी एड मजबूत भारत बनाओ जल्द सभी टीवी चैनल पर प्रसारित होगी
PM मोदी का सिर कलम करने की बात करने वाले जाट नेता पर दर्ज हो देशद्रोह का केस, तंवर

PM मोदी का सिर कलम करने की बात करने वाले जाट नेता पर दर्ज हो देशद्रोह का केस, तंवर

Chandigarh 20 February 2017: हरियाणा में जाट समुदाय ने कल बलिदान दिवस मनाया था और कई जगहों पर जाट समुदाय ने शान्ति यज्ञ किया । झज्जर में जाट जाग्रति मंच के राहुल दादू और उनके साथियों ने शांति पाठ किया लेकिन यहाँ  लगाए गए  जाट शहीद का बोर्ड आज  प्रसाशन हटवा दिया   । कई जिलों में आज भी इंटरनेट सेवा बंद है । भिवानी में आदर्श समाज ने कहा कि एक जाति विशेष के द्वारा कानून को ताक पर रखकर पूरे हरियाणा में भय का माहौल बनाया जा रहा है और दबाव डाला जा रहा है कि अपराधियों को छोड़ा जाए। आदर्श समाज ने कहा कि अगर सरकार ने जाट आंदोलन के दौरान हुई हिंसा के अपराधियों को छोड़ा तो आम अपराधियों को भी रिहा किया जाए अन्यथा आदर्श समाज न्यायालय में याचिका दायर करेगा। यह बात स्थानीय सैक्टर 13 मुख्यालय में आदर्श समाज के वरिष्ठ नेता राजेंद्र तंवर ने बैठक के माध्यम से कही। 


  बैठक में बोलते हुए वरिष्ठ नेत्रि अमन तंवर राघव ने कहा कि सरकार बताए कि हांसी के एसडीएम के प्रशांत ईटकान को किस आधार पर सस्पेंड किया गया है। अगर यह सब जाटों को खुश करने के लिए किया गया है तो एक गलत परिपाटी प्रदेश में पल रही है जिसके जिम्मेवार मुख्यमंत्री होंगे। डीएसपी एसडीएम के नीचे होता है और एक डीएसपी सरेआम एसडीएम की बात को नकार रहा है तो कार्रवाई डीएसपी के उपर होनी चाहिए थी लेकिन कार्रवाई एसडीएम के उपर हुई जो कि सरासर गलत है और इससे गैर जाट के कर्मचारियों में भय का माहौल है। आज की बैठक की अध्यक्षता आदर्श समाज के वरिष्ठ नेता राजेंद्र तंवर ने की। 

  उन्होंने कहा कि जाट नेता सोमबीर जसिया द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यशपाल मलिक के कहने पर 24 घंटे में सिर कलम करने का ऐलान खुले मंच के माध्यम से किया गया जो कि शर्मनाक है सरकार सोमबीर के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करे। उन्होंने कहा कि जब रामदेव ने पाकिस्तान के हक में नारे लगाने वालों का सिर कलम करने की रोहतक में बात कही थी उस समय सरकार ने रामदेव के खिलाफ मुकदमा दायर किया था तो अब इनके खिलाफ भी देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया जाए। आदर्श समाज 26 फरवरी को स्टेट कार्यकारिणी की आपात बैठक करेगा जिसमें भविष्य की रणनीति की तय की जाएगी। 
  आज की बैठक में अमन तंवर राघव, रमेश टांक, सुरेश सैनी प्रवक्ता, धर्मबीर डाबला प्रदेशाध्यक्ष युवा धानक समाज, शिव कुमार प्रजापति, धर्मेंद्र जांगड़ा, अशोक राघव, सुनील चौहान, प्रवीण निमडिया, रघुबीर जांगड़ा, लाल चंद जांगड़ा, प्रेम तंवर, रणबीर भाटी, सुनील बॉक्सर, दलबीर छोटू आदि मौजूद थे। 
पूर्व BJP MLA ने दी खट्टर को चेतावनी, बोले जाटों की मांगे मानों वर्ना आ रहा हूँ मैं मैदान में?

पूर्व BJP MLA ने दी खट्टर को चेतावनी, बोले जाटों की मांगे मानों वर्ना आ रहा हूँ मैं मैदान में?

फरीदाबाद 20 फरवरी:  जाट आंदोलन को लेकर हरियाणा सरकार आज जाट नेताओं से बातचीत कर सकती है लेकिन इसी दौरान आज दो बार भाजपा के विधायक रह चुके चन्दर भाटिया ने हरियाणा सरकार और उनके कुछ मंत्रियों पर जमकर निशाना साधा है । पूर्व भाजपा विधायक ने कहा कि हरियाणा सरकार जाट समुदाय के साथ अन्याय कर रही है और लगभग तीन हफ्ते से आरक्षण आंदोलन कर रहे समुदाय का वो अब साथ देंगे और उनके आन्दोलनों में शामिल भी होंगे । चन्दर भाटिया ने कहा कि  भाजपा की खट्टर सरकार ने अपनी सरकार के मंत्री कैप्टन अभिमन्यू को तो घर, प्रतिष्ठान जलने के नाम पर करोड़ों रूपये का मुआवजा बड़ी उदारता से रातो-रात दे दिया गया। लेकिन जाट समुदाय के साथ धोखाधड़ी की और उन्हें बहलाया गया ।

 पूर्व विधायक ने एक प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से हरियाणा के जाट समुदाय के लोगों से आह्वान किया है कि जब तक सरकार आंदोलनकारियों की सभी मांगों को पूरी नहीं कर देती तब तक आंदोलन को शांतिपूर्वक जारी रखना चाहिए क्योंकि पहले भी भाजपा सरकार अपनी वायदाखिलाफी कर चुकी है। पूर्व विधायक  ने कहा कि आज प्रदेशभर में मजबूरन इन लोगों को धरने पर बैठना पड़ रहा है ताकि सरकार को उनके द्वारा एक साल पहले किए गए वायदों को पूरा करने के लिए याद दिलाया जा सके। 

उन्होंने  कहा कि पिछले साल 22 फरवरी को सरकार ने आंदोलनकारियों की जो मांगें स्वीकार की थी उन्हीं वादों को पूरा करने की मांग को लेकर ये धरने चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं कि धरने पर बैठे लोग खाली हैं या इनके पास कोई कामकाज नहीं है। सरकार को इनके साथ किए गए सभी वायदे तुरंत पूरे करने चाहिए और बिना किसी बात के अपने वायदों से पीछे हटकर कोई नया विवाद नहीं खड़ा करना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा किसी कमेटी के गठन का कोई औचित्य नहीं है क्योंकि सीएम को सभी मांगों व वायदों की जानकारी है और उन्हें बजाय कमेटी के गठन करने के किए गए वायदे पूरे करके मामला जल्द सुलझाना चाहिए। उन्होंने जाट समुदाय लोगों से एकजुट होने व शांति बनाए रखने का आह्वान करते हुए कहा कि सरकार में बैठे कुछ लोग व अधिकारी जानबूझकर माहौल को ठीक नहीं होने देना चाहते इसलिए जाट समुदाय के लोगों को  बेहद सतर्क रहने की भी जरूरत है।

भाटिया ने कहा कि आज प्रदेश का किसान जहां अन्न पैदा करके देश का पेट भरता है वहीं हमारे जवान सीमा पर पहरा देते हुए अपनी कुर्बानियां देने में हमेशा अग्रणी रहते हैं। इसके बावजूद सरकार का जो रवैया है वह उचित नहीं और लोगों को आपस में लड़ाकर राजनीतिक रोटियां सेंकने तक सीमित हो गया है।

पूर्व विधायक ने कहा कि सरकार की नीयत में खोट है और अगर सरकार की मंशा ठीक होती तो आज जो लोग धरने पर बैठकर आंदोलन कर रहे हैं उन्हें धरना देने की जरूरत ही न पड़ती। उन्होंने कहा कि मनोहर लाल सरकार ने जाट समुदाय के लोगों से जो वादा किया है उसे तुरंत पूरा करे वरना अब वो खुद आंदोलनकारियों के साथ मिलकर उनका साथ देंगे और उनकी मांगे पूरी करवा कर रहेंगे । 

Sunday, February 19, 2017

BREAKING: 26 फरवरी को काला दिवस मनाएंगे जाट, बंद करेंगे दूध की सप्लाई

BREAKING: 26 फरवरी को काला दिवस मनाएंगे जाट, बंद करेंगे दूध की सप्लाई

चंडीगढ़  19 फरवरी : आरक्षण और अपनी कई मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे जाट समुदाय के लोग आज बलिदान दिवस मना रहे हैं । सुबह से ही कई धरना स्थलों पर हवन किया जा रहा है । रोहतक के जसिया में आंदोलन स्थल पर भारी भीड़ की सूचना है । ताजा जानकारी के मुताबिक़ रोहतक के जसिया आंदोलन स्थल पर पहुंचे जाट नेता यशपाल मलिक ने एक बड़ा एलान किया है । मलिक ने ऐलान किया कि 26 फरवरी को काले दिन के रूप में मनाया जाएगा। इसी दिन दिल्ली की दूध की सप्लाई बंद कर दी जाएगी।

मलिक ने कहा कि  1 मार्च से बड़े स्तर पर असहयोग आंदोलन की शुरुआत कर दी जाएगी, जिसमें बिजली-पानी व सरकारी कर्जों अन्य भुगतान न करने के साथ-साथ एक दिन के लिए सभी भाइयों से दूध व अपनी सब्जी की सप्लाई न कर उस दूध का घर में इस्तेमाल कर उससे अन्य दुग्ध उत्पाद तैयार कर लें। तारीख की घोषणा 26 फरवरी 2017 को की जाएगी। सरकार के न मानने पर यह असहयोग बढ़ाया भी जा सकता है। उन्होंने समुदाय के लोगों से अपील की है कि वह आंदोलन को असहयोग आंदोलन का रूप देने में सहयोग करें। न बिजली-पानी के बिल भरें, न दूध व फल-सब्जी आदि को मार्केट में बेचें, जिससे कि अर्थव्यवस्था में सहयोग मिलता है।

दो मार्च को संसद घेरेंगे जाट, खट्टर ने कहा न करें अफवाहों पर भरोषा

दो मार्च को संसद घेरेंगे जाट, खट्टर ने कहा न करें अफवाहों पर भरोषा

चण्डीगढ़, 19 फरवरी-  आरक्षण व अन्य मांगों को लेकर जाट समुदाय का आंदोलन पिछले 22 दिन से जारी है। रोहतक के जसिया धरने पर आज भारी भीड़ की सूचना है । आज  जाट बलिदान दिवस मनाया जा रहा है ।  विभिन्न धरनास्थलों पर बलिदान दिवस का आयोजन हुआ। गोहाना में जाट नेता यशपाल मलिक ने 1 मार्च से धरने बढ़ाने और 2 मार्च को संसद के घेराव का ऐलान किया है।वहीं  हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि जाट आरक्षण के संबंध में धरना-प्रदर्शन पर बैठे सभी आयोजकों ने उन्हें विश्वास दिलाया है कि वे शांतिपूर्ण धरना-प्रदर्शन करेंगें और राज्य से अभी तकजो रिपोर्ट मिली हैं, उसमें शांति और सौहार्द कायम है।

मुख्यमंत्री आज यहां हरियाणा राज्य के खिलाडियों का अंतर्राष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं में उत्कृष्ट उपलब्धियों के  लिए आयोजित किए गए भीम पुरस्कार सम्मान समारोह के पश्चात पत्रकारों द्वारा पूछे गए प्रश्रों का उत्तर दे रहे थे। उन्होंंने कहा कि आगामी 20 फरवरी को इन नेताओं के साथ बातचीत होगी और बातचीत में जो भी उनकी मांगें हैं, उन्हें कानून के दायरे में पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि उन्हें आशा है कि इसका हल शीघ्र निकल आएगा।
एक अन्य प्रश्र के उत्तर में उन्होंने कहा कि अफवाहों पर भरोसा नहीं करना चाहिए और उन्होंने धरना प्रदर्शन पर बैठे हुए लोगों से अपील करते हुए कहा कि वे शांति बनाए रखें।

जाट आंदोलन, कई जिलों में इंटरनेट सेवा बंद की गई तो कई जिलों में शराब बंद

जाट आंदोलन, कई जिलों में इंटरनेट सेवा बंद की गई तो कई जिलों में शराब बंद

Chandigarh 19 February 2017: जाट समुदाय द्वारा आज बलिदान दिवस मनाया जा रहा है लेकिन धरनों पर सुबह से भीड़ बढ़ती देखी जा रही है जिस कारण सरकार और प्रशासन पूरी तरह से सतर्क नजर आ रहे हैं । ताजा जानकारी के मुताबिक़ कई जिलों में बसों के रुट डायवर्ट कर दिए गए हैं । सोशल मीडिया के माध्यम से कोई भड़काऊ सन्देश इधर उधर न कर सके लिए रोहतक, पानीपत, जींद और सोनीपत में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है । 

प्रदेश के कई जिलों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है और सभी नेशनल और स्टेट हाइवे, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और नहरों पर अर्ध सैनिक बल के जवानों को तैनात किया गया है । कई जिलों में शराब की बिक्री पर भी रोक लगा दी गई है । आज जाट नेता यशपाल मलिक सबसे पहले सोनीपत जिले के गांव जौली में एक रैली को संबोधित करेंगे उसके बाद रोहतक के जसिया पहुंचेंगे जहां बताया जा रहा है कि यहाँ पांच लाख से ज्यादा भीड़ जुट सकती है । 


जाट आंदोलन, किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं CRPF के जवान और हरियाणा पुलिस

जाट आंदोलन, किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं CRPF के जवान और हरियाणा पुलिस

Chandigarh 19 February 2017: हरियाणा में 21 दिनों से चल रहा जाट आंदोलन अब निर्णायक मोड़ पर है। आज  जाट समुदाय के लोग बलिदान दिवस मना रहे हैं जहां प्रशासन की कड़ी नजर है । आरक्षण की मांग को लेकर पहले हुए आंदोलनों की तुलना में यह सबसे लंबा आंदोलन माना जा रहा है। इसके चलते छाये ‘संशय के बादल’ अब छंटने का वक्त आ गया है। आगामी सप्ताह राहत भरा हो सकता है। सरकार और जाटों दोनों से ही जुड़े सूत्रों से संकेत मिले हैं कि सरकार द्वारा शुरू किए गये ‘संवाद’ के अब सुखद नतीजे आ सकते हैं।
29 जनवरी से 18 जिलों में शुरू हुए जाटों के धरने अब 20 जिलों में चल रहे हैं। शुरुआती दिनों में सरकार मीडिया के जरिये तो रोजाना बातचीत का न्योता देती रही, लेकिन आंदोलनकारियों से सीधा संवाद नहीं साधा गया। स्थानीय भाजपा नेताओं, सरकार के मंत्रियों तक ने आंदोलनकारियों से दूरी बनाकर रखी। पिछले दिनों सीएम ने गुरुग्राम में 10 जिलों के भाजपा नेताओं की बैठक करके उन्हें आंदोलनकारियों के बीच जाकर तालमेल बढ़ाने को कहा।

पिछले 3 दिनों से लगातार भाजपा नेता आंदोलनकारियों के बीच जाकर बातचीत कर रहे हैं। जाटों के साथ बढ़े इस संवाद के अब सकारात्मक नतीजे आते नज़र आ रहे हैं। पार्टी प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला खुद धरना स्थलों पर गये हैं। कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ और बाढडा के विधायक सुखविंद्र सिंह श्योराण भी आंदोलनकारियों से बातचीत करके उन्हें सरकार के कदमों की जानकारी दे रहे हैं। सूत्रों की मानें तो सरकार जाटों की कई मांगें मानने के लिए राजी हो गयी है। केवल उन्हीं मांगों को लेकर पेच है, जिनमें कानूनी अड़चन है।

अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष यशपाल मलिक का दावा है कि रविवार को बलिदान दिवस पर पूरे हरियाणा में धरनों पर 25 लाख लोग जुटेंगे। उन्होंने कहा कि अकेले जसिया धरने पर करीब 5 लाख लोग पहुंचेंगे। दिल्ली, यूपी, राजस्थान सहित कई प्रदेशों से जाट समाज के लोग आएंगे। व्यवस्था संभालने के लिए जसिया धरने पर करीब 5 हजार वाॅलंटियर तैनात होंगे। मलिक ने कहा कि खाप चौधरियों को भी न्यौता दिया गया है। उन्होंने बताया कि रविवार दोपहर एक बजे वे आगामी आंदोलन की घोषणा करेंगे।

जाट आंदोलन के मद्देनजर विशेष तौर पर तैनात वरिष्ठ आईएएस अधिकारी धनपत सिंह ने शनिवार शाम रोहतक पहुंचते ही पुलिस, प्रशासन और अर्धसैनिक बलों के आला अधिकारियों के साथ बैठक की। इस बीच बताया गया कि सुरक्षा व्यवस्था संभालने के लिए रोहतक में सीआरपीएफ और रैपिड एक्शन फोर्स की 9 कंपनियां तैनात की गयी हैं। इनके अलावा जिला पुलिस की 7 और राजस्थान पुलिस की 3 कंपनियां तैनात रहेंगी।

Saturday, February 18, 2017

जाट आंदोलन, कल हर स्थिति से निपटने को तैयार है हरियाणा पुलिस और सरकार, ADGP

जाट आंदोलन, कल हर स्थिति से निपटने को तैयार है हरियाणा पुलिस और सरकार, ADGP

चंडीगढ़, 18 फरवरी- हरियाणा के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्री मोहम्मद अकील ने लोगों को आश्वासन दिया है कि आंदोलनकारी जाट नेताओं के 19 फरवरी, 2017 को बलिदान दिवस मनाने के दृष्टिगत प्रदेश में कानून एवं व्यवस्था की स्थिति सामान्य व शांतिपूर्ण रहेगी और वे राष्ट्रीय राजमार्गों पर अपनी स्वतंत्र व सुरक्षित यात्रा कर सकेंगे।
    श्री अकील ने आज यहां एक प्रैस सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए यह आश्वासन दिया और कहा कि कल प्रदेश में अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति (एआईजेएएसएस) द्वारा मनाए जाने वाले प्रस्तावित बलिदान दिवस के दृष्टिगत सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किये गए हैं। उन्होंने कहा कि एआईजेएएसएस के नेता प्रदेश के 19 जिलों में शांतिपूर्ण धरना प्रदर्शन कर रहे हैं।

    प्रदेश की स्थिति के सम्बन्ध में सोशल मीडिया पर फैलाए जा रहे भ्रांतिपूर्ण संदेश को झूठा और गलत बताते हुए उन्होंने कहा कि लोग कल राष्ट्रीय राजमार्गों पर अपनी यात्रा सुरक्षित व सुचारू ढंग से कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त, रेलों का आवागमन भी सामान्य रहेगा तथा पर्याप्त सुरक्षा के प्रबंध भी किये गए हैं।
    श्री अकील ने कहा कि धरना आयोजकों ने भी उन्हें आश्वस्त किया है कि कल प्रदर्शन के दौरान कोई सडक़ नहीं रोकी जाएगी और न ही कोई हिंसा होगी। बहरहाल, कुछ स्थानों पर अधिक लोगों के आने की सम्भावना के दृष्टिगत सडक़ों पर यातायात धीमा हो सकता है। लोगों को किसी भी प्रकार की असुविधा से बचाने के लिये जहां पर आवश्यक होगा, ट्रैफिक को डायवर्ट कर दिया जाएगा।

    एक प्रश्न के जवाब में श्री अकील ने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्गों और महत्त्वपूर्ण रेलवे स्टेशनों पर अतिरिक्त सुरक्षा के प्रबंध किये गए हैं। किसी भी अवांछित स्थिति से निपटने के लिये जिला पुलिस और रेलवे पुलिस के अतिरिक्त अद्र्धसैनिक बलों की 37 कम्पनियां तैनात की गई हैं।
    आंदोलनरत नेताओं के साथ बातचीत के सम्बन्ध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा गठित कमेटी और जाट नेताओं के बीच पहले दौर की बातचीत पानीपत में सौहार्दपूर्ण और शांतिपूर्ण माहौल में हो चुकी है और अगले दौर की बातचीत सम्भवत: 20 फरवरी को होगी। विश्वास दिलाते हुए उन्होंने कहा कि कल स्थिति पूरी तरह से सामान्य होगी। उन्होंने आंदोलनरत नेताओं से भी अपील की है कि वे शांति बनाए रखेंगे और अपनी बात पर कायम रहेंगे।
    इस अवसर पर मुख्यमन्त्री के मीडिया सलाहकार श्री अमित आर्य भी उपस्थित थे।
Good News: अप्रैल के बाद हरियाणा की सड़कों पर नहीं दिखेगा एक भी गड्ढा

Good News: अप्रैल के बाद हरियाणा की सड़कों पर नहीं दिखेगा एक भी गड्ढा

चंडीगढ़, 18 फरवरी- हरियाणा सरकार आगामी बजट सत्र में सरकारी संपत्ति व सडक़ों को नुकसान पंहुचाने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कानून लाने की तैयारी में है। कानून के अंतर्गत सडक़ों को होने वाले किसी भी प्रकार के नुकसान पर संबंधित व्यक्ति से नुकसान की दोगुनी राशि वसूली जाएगी और 1 साल की कैद  का प्रावधान होगा।
    यह बात हरियाणा के लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह ने आज गुरुग्राम जिला बार एसोसिएशन द्वारा आयोजित कार्यक्रम में वहां उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कही। लोक निर्माण मंत्री ने कहा कि सडक़ बनाने में प्रति किलोमीटर कई लाख रूपए का खर्च आता है, ऐसे में आमजन में यह संदेश जाना जरूरी है कि वे सडक़ों को नुकसान पंहुचाने की स्थिति में जुर्माना भी भरना पड़ सकता है। उन्होंने कहा कि अप्रैल माह से लोक निर्माण विभाग की सभी सडक़ें गड्डा मुक्त होगी और हरियाणा देश का पहला राज्य होगा जोकि पूरी तरह गड्डा मुक्त होगा।

    गुरुग्राम जिला बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों द्वारा लोक निर्माण मंत्री के समक्ष न्यायालय परिसर के आस पास लगने वाले जाम का मुद्दा उठाया गया जिसपर उन्होंने कहा कि जिला में ट्रैफिक पुलिस कर्मियों की कमी है जिसे वे स्वयं महसूस करते है। जल्द ही गुरुग्राम में ट्रैफिक पुलिस कर्मियों की संख्या बढ़ाई जाएगी, जिससे शहर में यातायात में बाधा उत्पन्न नहीं होगी।

    राव नरबीर सिंह ने कहा कि गुरुग्राम को जाम मुक्त करना और नई परियोजना देना ही वर्तमान सरकार का मुख्य लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि शहर के तीन मुख्य चौराहों जैसे इफ्को चौक, सिग्नेचर टावर चौक और राजीव चौक पर लगभग 1000 करोड़ रूपए की परियोजनाओं का काम चल रहा है जिसे इसी वर्ष दिसंबर माह तक पूरा कर दिया जाएगा। इस मौके पर उन्होंने जिला बार एसोसिएशन को स्वैच्छिक कोष से 21 लाख रूपए देने की घोषणा भी की।
हरियाणा के जाटों के लिए खुशखबरी, CM ने कई मांगें मान ली

हरियाणा के जाटों के लिए खुशखबरी, CM ने कई मांगें मान ली

चंडीगढ़, 18 फरवरी- हरियाणा के मुख्यमन्त्री के मीडिया सलाहकार श्री अमित आर्य ने कहा कि जाट आरक्षण से संबंधित मुख्य सचिव की अध्यक्षता में बनाई गई कमेटी जाट नेताओं के साथ दूसरे दौर की वार्ता आगामी 20 फरवरी को पानीपत में करेगी। इसके अतिरिक्त, मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज एक उच्च स्तरीय बैठक में पिछले वर्ष जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान घायल हुए निर्दोष लोगों को मुआवजा जारी करने का निर्णय लिया है। इस निर्णय के तहत गोली की चोट से घायल हुए व्यक्ति को एक लाख रुपये की अदायगी की जाएगी और किसी गोली की चोट के बिना घायल हुए व्यक्ति को 50,000 रुपये की अदायगी की जाएगी। मामूली चोट से घायल हुए व्यक्तियों को 25,000 रुपये की मुआवजा राशि दी जाएगी।

    श्री अमित आर्य आज यहां मीडिया प्रतिनिधियों के साथ बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यह मुआवजा राशि मुख्यमन्त्री राहत कोष से अदा की जाएगी और उपायुक्तों को अदायगी तुरंत जारी करने के निर्देश भी दिये गए हैं। उन्होंने कहा कि यह राशि संबंधित जिला उपायुक्तों को पहुंचा दी गई है और उन्हें इस मुआबजा राशि को वितरित करने के आदेश भी दिए गए हैं।

    एक अन्य प्रश्र के उत्तर में उन्होंने कहा कि जहां तक नौकरी का सवाल हैं तो सरकार ने नौकरी देने की सहमति भी जताई हैं और कुछ लोगों के आवेदन भी आए हैं तथा जिला प्रशासन द्वारा कुछ लोगों को नौकरी भी दी जा चुकी हैं। उन्होंने कहा कि सरकार पीडि़तों को सहयोग देना चाहती हैं क्योंकि सरकार का दिल बडा हैं और मन खुला हैं। उन्होंने कहा कि बातचीत के द्वारा ही हल निकला जा सकता हैं और सरकार इस मुद्दे पर बहुत ही गंभीर हैं और वर्तमान सरकार ने ही जाटों को आरक्षण दिया हैं लेकिन न्यायालय में यह मामला चले जाने के कारण सरकार ने सुनवाई के लिए पैरवी भी की है, क्योंकि सरकार सभी मोर्चों पर गंभीरता और संवेदनशील होकर आगे बढ रही हैं।

    उन्होंने कहा कि भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला और सरकार के मंत्री ओपी धनखड भी धरनों पर बैठे लोगों से लगातार बातचीत कर रहे हैं क्योंकि यह मामला बातचीत से ही सुलझेगा। उन्होंने कहा कि ऐसी स्थिति में कुछ नकारात्मक शक्तियां भाईचारें को भंग करने की कोशिश कर रही हैं, लेकिन जनता सब देख रही हैं और जनता सब जानती हैं और उन्हें उम्मीद हैं कि जल्द से जल्द इस मुददे पर रास्ता निकलेगा और उन्हें आशा तथा अपेक्षा भी है।
VIRAL VIDEO: नाच-गाकर, बन्दूक लहराकर आरक्षण मांग रहीं हैं जाट समुदाय की महिलायें

VIRAL VIDEO: नाच-गाकर, बन्दूक लहराकर आरक्षण मांग रहीं हैं जाट समुदाय की महिलायें

चंडीगढ़  18 फरवरी 2017:  अपनी मांगों को लेकर लगभग तीन हफ्ते से धरने पर बैठे जाट समुदाय के लोग कल बलिदान दिवस मनाएंगे और आंदोलन की अगली  रणनीति तय करेंगे । सरकार ने बीस फरवरी  को जाट  नेताओं से बात करने का फैसला किया है संभव है बात बन जाए । 29 जनवरी से  चल रहे इस आरक्षण आंदोलन की  कवरेज करने आंदोलन स्थलों पर मीडिया के लोग कम पहुँच रहे हैं उन्हें डर है कि कहीं उनके कैमरों पर आंच न आ जाए ।

 पिछले आंदोलन के बाद सोशल मीडिया पर कई तस्वीरे एवं वीडियो वाइरल हुए थे । आंदोलन स्थल पर स्मार्ट फोन लेकर पहुँच रहे समुदाय के युवा कुछ अच्छा देखते हैं तो वीडियो बना लेते हैं और यू-ट्यूब या फेसबुक पर लोड कर देते हैं  । आंदोलन के दौरान के एक दो  वीडियो देखें जिन्हें यू-ट्यूब पर लोड किया गया है । वीडियो में समुदाय की महिलौएं बन्दूक लेकर नाचती नजर आ रहीं हैं । फ़िलहाल सरकार ने धरना स्थलों पर हथियार ले जाने पर प्रतिबन्ध लगा दिया है ।  वीडियो पिछले हफ्ते के हैं । 


Friday, February 17, 2017

जाट आंदोलन, सरकार ने कई जिलों में तैनात किये  कई वरिष्ठ IAS अधिकारी

जाट आंदोलन, सरकार ने कई जिलों में तैनात किये कई वरिष्ठ IAS अधिकारी

चंडीगढ़, 17 फरवरी- हरियाणा सरकार ने बसंत मेलों तथा जाट आंदोलन के दृष्टिïगत आठ जिलों के उपायुक्तों का मार्गदर्शन एवं सहयोग करने के लिए वरिष्ठï आईएएस अधिकारी तैनात किया हैं।
आईएएस अधिकारियों को उपायुक्तों की आवश्यकतानुसार और उन्हें स्वतंत्र रूप से प्राप्त होने वाली सूचना के अनुसार उनका मार्गदर्शन एवं सहयोग करने के लिए अपने संबंधित जिलों में 18 फरवरी को दोपहर तक पहुंचने और 20 फरवरी को दोपहर तक वहां रहने का कहा गया है।
आईएएस अधिकारी श्री धनपत ङ्क्षसंह को रोहतक, श्री पी.के.दास को जींद, श्री आर.आर. जोवल को झज्जर एवं श्री अनुराग रस्तोगी को हिसार में तैनात किया गया है। इसीप्रकार, आनंद मोहन शरण को जिला कैथल, श्री अनिल मलिक को सोनीपत, श्री श्रीकांत वाल्गद को भिवानी और श्री ए.के.सिंह को पानीपत में तैनात किया गया है। 

सरकार ने पाया है कि हालांकि कुछ जिलों में कैशलेस लेनदेन को बढ़ावा देने तथा राज्य सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा प्रदान की जा रही सभी नागरिक सेवाओं की जानकारी देने के लिए आयोजित किए जा रहे है बसंत मेले समाप्ति की ओर हैं लेकिन उपायुक्तों को चल रहे धरनों के दौरान शांति बनाए रखना सुनिश्चित करने के अपने प्रयासों पर भी ध्यान केन्द्रित करना पड़ रहा है।
खट्टर ने छीन लिया हरियाणा के लाखों  गरीबों से राशन, कांग्रेस करेगी प्रदर्शन

खट्टर ने छीन लिया हरियाणा के लाखों गरीबों से राशन, कांग्रेस करेगी प्रदर्शन

यूनुस अलवी , मेवात: मेवात जिला के कीब 50 हजार लोगों को खाद्दय एंव आपूर्ति विभाग ने अपनी लापरवाही कि वजह से राशन से वंचित कर दिया है। इतना ही नहीं हरियाणा में लाखों ऐसे लोग हैं जिनको राशन प्रणाली कि ओर से मिलने वाला राशन नहींं दिया जा रहा है। ये आरोप कागे्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष और पूर्व परिवहन मंत्री आफताब अहमद ने शुक्रवार को अपने निवास पर एक पत्रकारवार्ता में लगाये। आफताब अहमद का कहना है कि हरियाणा सरकार ने सभी लोगों का राशन कार्ड ऑन लाईन कराने के आदेश दिये थे लेकिन मेवात के करीब 50 हजार लोगों के नाम ऑन लाईन नहीं हो सके हैं और सरकार ने ऑन लाईन कि प्रक्रिया को बंद कर दिया है। उन्होने उधारण के तौर पर पिनगवां कस्बे के आलम खान के खानदान का जिक्र करते हुऐ कहा कि उनके खानदान में एक परिवार है उनके राशन कार्ड बने हुऐ हैं लेकिन उन राशन कार्डो को ऑन लाईन ना किये जाने कि वजह से अब खाद्दय एंव अपूर्ति विभाग ने उनको राशन देना बंद कर दिया है। पूर्व मंत्री ने चेतावनी देते हुऐ कहा कि अगर सरकार ने तुरतं सभी लोगों के राशन कार्डो को ऑन लाईन कर उनको राशन देना शुरू नहीं किया तो कांग्रेस सरकार सडकों पर उतरकर लोगों को हक दिलाने का काम करेगी।
  हरियाणा कांग्रेस पार्टी के प्रदेश उपाध्य्क्ष व पूर्व मंत्री चौधरी आफ़ताब अहमद ने कहा की 2013 में कांग्रेस पार्टी ने

लोगों को सस्ती दर पर पर्याप्त मात्रा में उत्तम खाद्दान उपलब्ध कराने के

लिए राष्ट्रीय खाद्द सुरक्षा अधिनियम  की शुरुआत की थी जो दुनिया का भूख

से लड़ने का सबसे बड़ा कार्यक्रम था।  लेकिन आज प्रदेश की भाजपा सरकार अपनी

गलत नियत और गलत नीति के कारण मेवात के गरीब परिवारों के मुँह का निवाला

छीन रही है ।

 मेवात जिले में लगभग पचास हज़ार गरीब लोग ऐसे हैं जो सरकार की गलत नीयत

के कारण राशन मिलने के लाभ से वंचित हो गए हैं  क्योंकि प्रशासन और सरकार

ने उन्हें ऑनलाइन फीड ही नहीं किया हैं । बता दें की भाजपा सरकार ने राशन

कार्डों को ऑनलाइन करने के लिए दो निजी संस्थाओं को पांच रूपये प्रति

राशन कार्ड के हिसाब से ठेका दिया था।  लेकिन समस्या ये हुई की अगर

परिवार में दस लोग हैं तो सिर्फ दो लोगों को ही ऑनलाइन डाटा में शामिल

किया है और सैंकड़ों परिवारों का तो एक भी सदस्य ऑनलाइन फीड नहीं किया गया

है।  अब उनको प्रदेश सरकार और प्रशासन  राशन मुहैय्या नहीं करा रही है

जिसकी वजह से गरीब लोगों की आर्थिक स्थिति पर गहरा प्रभाव पड़ रहा है।

जिसे कांग्रेस पार्टी हरगिज़ बर्दास्त नहीं करेगी ।

 मेवात में ऐ ऐ वाई, बी पी एल, ओ पी एच के अन्तर्गत लगभग डेढ़ लाख

कार्डधारक हैं लेकिन सरकार की लापरवाही के कारण लगभग पचास हज़ार लोग

ऑनलाइन फीड नहीं किये गए जिसके कारण उन्हें राशन नहीं मिल रहा हैं ।


पूर्व मंत्री चौधरी आफ़ताब अहमद ने कहा की भाजपा सरकार ने ढाई साल में कोई

जनहित का काम नहीं किया बल्कि कांग्रेस की हुड्डा सरकार की योजना और

परियोजनाओं के नाम व जगह बदल कर प्रदेश की जनता को  गुमराह करना चाह रही

हैं।  कांग्रेस ने मेवात में इतने काम किये की मौजूद भाजपा सरकार उनका

उद्घाटन भी नहीं करवा व रही हैं।  मेवात में अभी भी दो बहुतकनीकी संसथान,

पांच आई टी आई संसथान आरोही मॉडल स्कूल, तावड़ू बस अड्डा, आरोही मॉडल

स्कूल जैसी परियोजनाएं जो पूरी हो चुकी हैं उनसे भी मेवात की जनता को

सरकार ने  जानभूझकर महरूम रख रखा है।


पूर्व मंत्री चौधरी आफ़ताब अहमद ने प्रदेश की खट्टर सरकार को चेतावनी दी

की ऑनलाइन फीडिंग पर लगी रोक को हटा कर सरकार तुरंत फीडिंग  की प्रक्रिया

शुरू करे, राशन कार्ड से वंचित लोगों को राशन कार्ड मुहैय्या कराये जाएँ

, ताकि समाज के सबसे कमजोर और गरीब आदमी तक इसका फायदा पहुच सके और अगर

सरकार नहीं मानी तो कांग्रेसी सड़कों पर उतर कर गरीब लोगों की लड़ाई को जी

जान से लड़ेंगे ।

इस दौरान hpcc सदस्य महताब अहमद, अख्तर चंदेनी,नईम इक़बाल, शरीफ अड़बर, अंजुम ज़िला पार्षद, मक़सूद शिकराव।, तैयब हुसैन खेड़ा,अरशद टाई चेयरमैन, राजू पार्षद, शमशु रहना, हमीद सलम्बा, मुबीन युथ कांग्रेस, अयूब खान सेहरावत, इख्लास उर्फ़ इक्का, सहाबुद्दीन कारका, सईद एड्वोकेट आकेड़ा, अयूब धीरणकी, इनाम कुरैशी, इल्यास सालाहेड़ी, जगदीश खेड़ा खलीलपुर, खालिद टाई, नसीम चंदेनी, मम्मन सरपंच, जक्की सरपंच, आलम पिनगवां, नसीम बंधोली युथ कांग्रेस, इम्तियाज़ nsui, हाजी बशीर सालाहेड़ी, उस्मान सत्पुतियाका, रफीक गंगवानी, यासीन बड़वा, हाजी जमील कारिका, गुड्डू पहलवान, हनीफ सुडाका आदि कांग्रेसी नेता व् कार्यकर्ता सैकड़ो की तादाद में मौजूद थे।
कई रिश्वतखोर व् भ्रष्टाचारी अधिकारियों को  मिली 4-4 साल की सजा, भेजे गए जेल

कई रिश्वतखोर व् भ्रष्टाचारी अधिकारियों को मिली 4-4 साल की सजा, भेजे गए जेल

चंडीगढ़, 17 फरवरी- अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश,रोहतक की अदालत ने भूमि अर्जन  अधिकारी, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण, रोहतक के कार्यालय में नियुक्त पटवारी सुरेश को चार साल के कारावास और 15,000 रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। 

हरियाणा राज्य चौकसी ब्यूरो के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया  कि सुरेश को कबीर कॉलोनी रोहतक में प्लाट के सीमांकन की एवज में शिकायतकत्र्ता श्री संदीप कुमार निवासी गांव सरगथल, सोनीपत से 10,000 रुपये की  रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया था। उन्होंने बताया कि उसके विरूद्घ ब्यूरो के रोहतक स्थित थाने में भ्रष्टïाचार निवारण अधिनियम की धारा 7 एवं 13 के तहत एक मामला दर्ज किया गया था। 

उन्होंने बताया कि  एक अन्य मामले में अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश, सोनीपत की अदालत ने सिविल अस्पताल, सोनीपत में नियुक्त लिपिक-सह-लेखाकार अजीत सिंह को चार साल के कारावास और 25,000 रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। उन्होंने बताया कि अजीत सिंह को मेडिकल बिल की अदायगी की एवज में विकास नगर सोनीपत निवासी श्री लाल से 3,000 रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया था। उन्होंने बताया कि उसके विरूद्घ ब्यूरो के रोहतक स्थित थाने में भ्रष्टïाचार निवारण अधिनियम की धारा 7 एवं 13 के तहत एक मामला दर्ज किया गया था। 
भ्रष्टïाचार के एक अन्य मामले में अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश, पलवल की अदालत ने हैड कांस्टेबल प्रदीप कुमार को चार साल के कारावास और 10,000 रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है।
जाट आंदोलन के नाम पर हरियाणा की जनता को गुमराह कर रहे  हैं कुछ लोग, बराला

जाट आंदोलन के नाम पर हरियाणा की जनता को गुमराह कर रहे हैं कुछ लोग, बराला

नारनौल, 17 फरवरी। राज्य सरकार की मजबूत पैरवी के कारण ही एसवाईएल का फैसला हरियाणा के हक में हुआ है। विपक्षी पार्टियां इस विषय पर दशकों से केवल राजनीति ही करती आ रही हैं। यह बात बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने आज यहां रेस्ट हाउस में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में कही।
श्री बराला ने कहा कि राज्य सरकार की ओर से इस विषय पर गंभीरता के साथ काम हुआ है तभी यह संभव हुआ है कि दशकों से न्यायालयों में लटका यह मामला हमारे प्रदेश के हक में हुआ है।

जाट आरक्षण आंदोलन के संबंध में पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा विपक्षी राजनीतिक कर रहे हैं। सरकार इस मामले में पूरी तरह से हर वर्ग के साथ न्याय करेगी। कुछ लोग हरियाणा के नागरिकों को गुमराह कर रहे हैं।
इस मौके पर नांगल चौधरी के विधायक डा. अभय सिंह यादव, एग्रो इंडस्ट्री के चेयरमैन गोबिंद भारद्वाज, बीजेपी के जिला प्रधान शिवकुमार मेहता, विजय सांगवान, सत्यव्रत शास्त्री, अजीत सिंह, राकेश शर्मा एडवोकेट के अलावा अन्य गणमान्य नागरिक मौजूद थे।