Showing posts with label Haryana News. Show all posts
Showing posts with label Haryana News. Show all posts

Wednesday, March 29, 2017

PICTURES: हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष पर साइबर अपराध का हमला

PICTURES: हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष पर साइबर अपराध का हमला

चंडीगढ़: देश में साइबर क्राइम तेजी से फल फूल रहा है । घर बैठे बिना कट्टा बन्दूक दिखाए लोग लोगों को लूट ले रहे हैं । अब तिजोरी  तोड़ने के लिए चोर सेंधमारी नहीं करते । सूत्रों द्वारा जानकारी मिल रही है कि हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष डाक्टर अशोक तंवर पर साइबर क्राइम का हमला हुआ है । ये अपराध किस  तरह का है अभी तक पूरी जानकारी नहीं मिल  सकी है । अशोक तंवर ने एयरटेल के दफ्तर  पहुँच इसकी शिकायत की है और  उन्होंने अपनी सिम बदलवाई  है । स्थानीय पुलिस  अधिकारियों को दफ्तर बुलाउन्होंने इस मामले की कंप्लेंट भी की है । मामला दर्ज भी कर लिया गया है । पूरी खबर जल्द । 


प्राइवेट स्कूल वालों को बढ़ी फीस वापस लेना पड़ेगा, शिक्षा मंत्री

प्राइवेट स्कूल वालों को बढ़ी फीस वापस लेना पड़ेगा, शिक्षा मंत्री

नई दिल्ली, 29 मार्च- हरियाणा के शिक्षा मंत्री श्री रामबिलास ने कहा है कि हरियाणा के प्राईवेट स्कूल जिन्होंने बिना घोषणा के फीस में बढ़ोतरी की है उनकी जांच की जाएगी और प्राईवेट स्कूलों को इसे वापिस लेना होगा।
शिक्षा मंत्री ने आज यहां में लोगों की समस्याओं की सुनवाई के दौरान पत्रकारों के द्वारा प्राईवेट स्कूलों द्वारा मनमर्जी से फीस बढ़ाए जाने बारे पर पूछे गये प्रश्न के उत्तर में दी।

एक प्रश्न के उत्तर में उन्होने कहा कि जो भी प्राईवेट स्कूल अभिभावकों से बिल्डिंग फण्ड, ट्रांसपोर्ट अथवा यूनिफार्म के नाम पर मनमाने ढंग से वसूली करते हैं उस पर रोक लगाई जा रही है। उन्होंने कहा कि गरीब बच्चों की शिक्षा हमारी सरकार की प्राथमिकता है। उन्होने कहा कि प्राईवेट स्कूलों को 134-ए के अंतर्गत निर्धारित 10 प्रतिशत गरीब बच्चों को दाखिला देने के निर्देश दिये गये हैं और इस वर्ष 134-ए के  अंतर्गत दाखिले में किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं आयेगी। 

उन्होने कहा हरियाणा सरकार शिक्षा के क्षेत्र में लगातार सुधार कर रही है और अनेक क्रांतिकारी कदम उठाये जा रहे हैं। उन्होने कहा कि वर्ष 2015 में सरकार ने गीता को पाठय़क्रम के साथ जोडा गया है इसके अलावा महिलाओं एवं लड़कियों की शिक्षा पर भी ध्यान दिया जा रहा है 10 फरवरी को मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने विडियो कांफे्रंस के माध्यम से 21 महाविद्यालयों की एक साथ आधारशिला रखी है जोकि महिला शिक्षा के क्षेत्र में क्रांतिकारी कदम है। इससे बेटी बचाओ-बेटी पढाओ कार्यक्रम को बढ़ावा मिला है। उन्होंने कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम की शुरूआत देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने 22 जनवरी 2015 को पानीपत में की थी। उस समय प्रदेश में लिंगानुपात 1000 पर 834 था जो अब 906 के आंकडे को पार कर गया है।
बोर्ड की परीक्षाओं में नकल के बारे में पूछे जाने पर शिक्षामंत्री ने कहा कि सरकार ने नकल पर रोक लगाने के लिए भी प्रयास किये हैं जहां भी परीक्षा डयूटी के दौरान अधिकारी नकल कराने में लिप्त पाये गये हैं उनके खिलाफ कार्यवाही की जा रही है। कुछ अधिकारियों को सस्पैंड भी किया गया है। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष रोहतक के मेडिकल परीक्षा के पेपरलीक में लिप्त सारे गैंग को गिरप्तार किया गया है। इसके अलावा परीक्षाओं में नकल रोकने में पढ़ी-लिखी पंचायतें भी अपना सहयोग दे रही हैं।                        

हरियाणा वालों में लगाईं PM मोदी से गुहार, सिर्फ एक हफ्ते के लिए योगी को बना दो हरियाणा का CM

हरियाणा वालों में लगाईं PM मोदी से गुहार, सिर्फ एक हफ्ते के लिए योगी को बना दो हरियाणा का CM

फरीदाबाद, 29 मार्च: उत्तर प्रदेश में योगी को मुख्यमंत्री बने सिर्फ 11 दिन ही हुए हैं लेकिन उन्होंने पूरी सरकार, प्रशासन, पुलिस और अपराधियों को हिलाकर रख दिया है, ऐसा लग रहा है कि उत्तर प्रदेश में फिल्म नायक की शूटिंग चल रही है वही हरियाणा में बीजेपी की सरकार बने ढाई साल हो रहे हैं, यहाँ पर भी बीजेपी की बहुमत की सरकार है लेकिन यहाँ पर टेस्ट मैच चल रहा है, यहाँ पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का कोई एक्शन नहीं दिख रहा है, ना तो पुलिस उनके कंट्रोल में है, ना प्रशासन उनके कंट्रोल में है, ना अफसर सरकार की सुनते हैं और ना सरकार अफसरों की सुनती है, यहाँ पर किसी भी हालत में लगती ही नहीं कि बीजेपी की सरकार है। 

योगी का एक्शन देखकर हरियाणा वाले खुश हैं इसलिए अब लोग खट्टर के खिलाफ आवाज उठाने लगे हैं, यहाँ पर बीजेपी समर्थकों ने बीजेपी की सरकार बनाने के लिए जी जान लगा दी थी, बहुत मेहनत के बाद पहली बार यहाँ पर बीजेपी सरकार बनी है लेकिन जिस प्रकार से खट्टर गाय तरह शांत बैठे हैं और ध्रितराष्ट्र की तरह आँखें बंद करके भ्रष्टाचार का तमाशा रहे हैं, लोग निराश हैं, फरीदाबाद हरियाण की औद्योगिक राजधानी माना जाता है लेकिन यहाँ पर बीजेपी विधायक ही भ्रष्टाचार में लिप्त हैं, अवैध कब्जे कर रहे हैं, अपनी संपत्तियां खड़ी कर रहे हैं और उनको देखकर बदमाशों और भ्रष्टाचारी अफसरों के भी हौसले बुलंद हैं क्योंकि जब राजा ही चोर है तो अफसरों की तो मौज ही होगी क्योंकि ऐसे माहौल में ना राजा अफसरों को चोरी करने से रोक सकता है और ना अफसर राजा को कुछ कह सकते हैं, मतलब राजा और अफसर दोनों चोर हैं तो शहर की तो वाट लगनी तय है। 

यही सब देखते हुए हरियाणा से अब आवाज उठने लगी है, लोग UP वालों से कह रहे हैं कि YOGI को सिर्फ एक हप्ते एक लिए हमें दे तो, बदले में खट्टर को एक साल के लिए रख लो। कई लोग शोशल मीडिया पर पीएम मोदी से गुहार लगा रहे हैं कि सिर्फ एक के लिए योगी जी को हरियाणा का सीएम बना दो । एक युवक ने उत्तर प्रदेश वालों से क्या माँगा है पढ़ें 


जानकारी के लिए बता दें कि उत्तर प्रदेश हरियाणा से करीब पांच 10 गुना बड़ा राज्य है, हरियाणा के लोग सोच रहे हैं कि जब योगी इतने बड़े राज्य को 1 हप्ते में ठीक कर सकते हैं तो हरियाणा को 1 एक हप्ते में पूरा ठीक कर सकते हैं, खट्टर के बस की बात नहीं है हरियाणा को संभालना। ये तो गाय हैं, भ्रष्टाचार होते अपनी आँखों से देखते रहते हैं, ये आज तक रोबर्ट वाड्रा की फाइल नहीं खोल पाए।

खट्टर को मुख्यमंत्री बने ढाई साल हो गए हैं लेकिन उनकी सरकार ने स्कूली शिक्षा और प्रशासन को सुधारने के लिए कोई काम नहीं किया, फरीदाबाद से इमानदार और दबंग पुलिस अफसरों का बीजेपी नेताओं ने ही ट्रांसफर करवा दिया क्योंकि ये अफसर उनकी लूट में बाधा बन रहे थे।

कुछ लोग कहते हैं कि बीजेपी सरकारें स्कूली शिक्षा में सुधार करती हैं लेकिन खट्टर सरकार इस मामले में पूरी तरह से फेल हुई है, इनकी सरकार ने स्कूली शिक्षा को सुधारने और आधुनिक व्यवस्था खड़ी करने के लिए कुछ नहीं किया, और हो सकता है कि अगले तीन साल भी कुछ ना कर पाएं, अगले चुनाव में बीजेपी की हार होनी तय है इसलिए लोग खट्टर को बदलने की मांग कर रहे हैं और किसी तेज तर्रार देना को मुख्यमंत्री बनाने की मांग कर रहे हैं।
अशोर तंवर ने दिया भूपेंदर सिंह हुड्डा को बड़ा झटका, शुरू की विधानसभा चुनाव की तैयारी

अशोर तंवर ने दिया भूपेंदर सिंह हुड्डा को बड़ा झटका, शुरू की विधानसभा चुनाव की तैयारी

चंडीगढ़ 29 मार्च । हरियाणा विधानसभा चुनावों में दो साल रह गए हैं, तीन साल सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा ने शिक्षा-दीक्षा लेने देने में बिता दिए हैं बचे दो सालों में विधानसभा चुनावों की तैयारी की जाएगी जिसे देखते हुए कांग्रेस के हौसले बुलंद हैं और पंजाब जीत के बाद तो कांग्रेस अपनी सभी उंगलियां घी में मानकर चल रही है लेकिन कांग्रेस की रह में सबसे रोड़ा हुड्डा और तंवर के बीच की गुटबाजी है । कल  प्रदेशाध्यक्ष डॉ़ अशोक तंवर ने प्रदेश कार्यकारिणी के 180 नेताओं को मैदान में उतार चुनाव की तैयारियों का श्री गणेश कर दिया है। अशोक तंवर द्वारा जारी की गई ब्लॉक प्रभारियों की सूची को हुड्डा गुट के लिए झटका माना जा रहा है। प्रदेश में  जिलाध्यक्षों की नियुक्ति भी लंबे समय से लटकी हुई है। 

मंगलवार को चंडीगढ़ में अपने करीब नेताओं के साथ बैठक के बाद तंवर ने सचिवों एवं संगठन सचिवों को ब्लाकवार जिम्मेदारी सौंपी। ये नेता ग्राउंड पर जाकर काम करेंगे और पार्टी प्रधान को रिपोर्ट देंगे। इनकी रिपोर्ट आने के बाद ही ब्लाक प्रधानों का फैसला होगा। बताते हैं कि तंवर अपने अधिक से अधिक समर्थकों को ब्लाक व जिला प्रधान के पदों पर नियुक्त करवाने की कोशिश में हैं। वहीं दूसरी ओर, यह भी खबर है कि जिलाध्यक्षों की सूची लगभग तैयार हो चुकी है और इसे कभी भी जारी किया जा सकता है। यह सूची भी जिलावार नियुक्त किए गए प्रभारियों की रिपोर्ट के आधार पर बनी है। 

नवनियुक्त ब्लॉक प्रभारियों के सम्बंध में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर ने बताया कि सभी 180 ब्लॉक प्रभारियों की जल्द ही दिल्ली में बैठक बुलाई जाएगी। इस बैठक में प्रदेश पदाधिकारी भी शामिल होंगे। बैठक में ब्लॉक प्रभारियों को वर्क प्लान समझाने के साथ ही दिल्ली एम.सी.डी. के चुनाव की ड्यूटी सौंपी जाएगी। दिल्ली में करीब 30 फीसदी लोग हरियाणा से ताल्लुक रखने वाले हैं और लाखों लोग हर रोज सफर करते हैं। यह लोग दिल्ली एम.सी.डी. के चुनाव में कांग्रेस को जीत दिलवाने का काम करेंगे। 

Tuesday, March 28, 2017

लांच हुई मोर म्यूजिक की हरियाणवी नागिन, देखें वीडियो

लांच हुई मोर म्यूजिक की हरियाणवी नागिन, देखें वीडियो

चंडीगढ़ : कई सुपरहिट एलबम बना चुकी मोर म्यूजिक कंपनी ने एक नया सांग लांच किया है । इस गीत के बोल हैं तू नागिन बनके नाचेगी जब बाजे बीन सपेले की,  मोर म्यूजिक के कई गीत जिनमे सपना चौधरी के ऊपर फिल्माया गया है करोड़ों लोग यूं-ट्यूब पर देख चुके हैं । प्रिंस कुमार और अंजली राघव का ये गीत वाला वीडियो देखें

Monday, March 27, 2017

PM मोदी ने कहा था? इसलिए फरीदाबाद मेट्रो से पहुंचे CM खट्टर

PM मोदी ने कहा था? इसलिए फरीदाबाद मेट्रो से पहुंचे CM खट्टर

चण्डीगढ़, 27 मार्च - हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि राज्य में सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए विस्तृत योजना तैयार की गई है। राज्य में मेट्रो सेवा की जहां भी आवश्यकता महसूस की गई, उन स्थानों के बारे में प्रस्ताव तैयार किए जा चुके हैं। इनमें दिल्ली से कुण्डली (सोनीपत)फरीदाबाद-गुरुग्राम, गुरुग्राम से मानेसर व बावल, चण्डीगढ़ से पंचकूला आदि के बीच मेट्रो सेवा शामिल है।  
श्री मनोहर लाल ने आज यह जानकारी फरीदाबाद के बाटा चौक मेट्रो स्टेशन से नई दिल्ली के केंद्रीय सचिवालय के बीच मेट्रो ट्रेन में यात्रा करते हुए संवाददाताओं से बातचीत के दौरान दी। इस यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री का मेट्रो में सफर  कर रहे यात्रियों ने अभिवादन किया तथा मुख्यमंत्री ने मेट्रो में सफर कर रहे फरीदाबाद, गुरुग्राम व दिल्ली आदि स्थानों के निवासियों से बातचीत भी की और राज्य से जुड़े विभिन्न विषयों को लेकर लोगों से फीडबैक भी लिया और उनकी समस्याएं भी सुनी। मुख्यमंत्री के सादगी भरे व्यवहार और मिलनसार शैली की लोगों ने प्रशंसा भी की और मुख्यमंत्री के साथ फोटो भी खिंचवाई।  

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में पब्लिक मोड ऑफ ट्रैवलिंग का अधिक से अधिक इस्तेमाल करने की बात कही है। हरियाणा सरकार की ओर से करनाल, गुरुग्राम व फरीदाबाद आदि शहरों में सिटी बस सर्विस को मजबूत किया जाएगा। वहीं फरीदाबाद के बल्लभगढ़ तक आने वाले छह महीनों में मेट्रो सेवा आरंभ होगी, वहीं दिल्ली से मुंडका से बहादुरगढ़ तक भी मेट्रो लिंक का निर्माण भी तेजी से जारी है। हरियाणा सरकार की ओर से सोनीपत के कुण्डली तक मेट्रो लाने की योजना भी दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन के पास भेजी जा चुकी है।
उन्होंने कहा कि पब्लिक ट्रांसपोर्ट के जरिए यात्रा करना उन्हें बेहद पसंद है। जब भी उन्हें अवसर मिलता है बिना किसी संकोच के वे सार्वजनिक परिवहन के साधनों का इस्तेमाल करते हैं। मुख्यमंत्री बनने के उपरांत उन्होंने शताब्दी एक्सप्रेस, वॉल्वो बस सेवा तथा मेट्रो ट्रेन में यात्रा की है। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक परिवहन के जरिए सामान्य जन से सीधा संवाद करने का अवसर मिलता है। मेट्रो सेवा न केवल सुरक्षित व सुविधाजनक बल्कि इससे सडक़ मार्ग की अपेक्षा समय भी कम लगता है। 
हरियाणा के उद्योग मंत्री श्री विपुल गोयल फरीदाबाद के बाटा चौक मेट्रो स्टेशन पर मुख्यमंत्री को छोडऩे आए। वहीं भूमि सुधार एवं विकास निगम हरियाणा के चेयरमैन श्री अजय गौड़ भी मुख्यमंत्री के साथ केंद्रीय सचिवालय पहुंचे।
बेरोजगार युवाओं के लिए खट्टर ने उठाया ख़ास कदम

बेरोजगार युवाओं के लिए खट्टर ने उठाया ख़ास कदम

चण्डीगढ़, 27 मार्च - हरियाणा सरकार ने प्रदेश के बेरोजगार युवाओं को दिया जाने वाला एक महीने का 3,000 रुपए का बेरोजगारी भत्ता उन उद्यमियों को देने का निर्णय लिया है जो अपने उद्योगों में युवाओं को रोजगार देंगे। 
यह घोषणा हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज फरदीबाद में पीएचडी चैंबर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्री तथा हरियाणा राज्य औद्योगिक सरंचना विकास निगम (एचएसआईआईडीसी) के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित पांच दिवसीय हरियाणा इंटरनेशनल ट्रेड एक्सपो (हाईटैक्स) मेले के दौरान हरियाणा में युवा सशक्तिकरण, नौकरी के अवसर बढ़ाने के विषय पर आयोजित सत्र का उद्घाटन करने के बाद की। 
हाईटैक्स में विश्व के छ: देशों के कारोबारी भाग ले रहे हैं, जिन्होंने यहां अपने उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई है। इसके अलावा यहां बेरोजगार युवाओं के लिए रोजगार मेले का भी आयोजन किया जा रहा है और साक्षात्कार भी लगातार जारी हैं। यह हाईटैक्स 28 मार्च तक चलेगा। अब तक मात्र दो दिन में 200 से अधिक युवाओं को अंतरराष्ट्रीय कंपनियों में रोजगार मिल चुका है।
हाईटैक्स मेले में मुख्य रूप से प्रदेश के बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने पर बल दिया गया। साथ ही उद्यमियों में हरियाणा उद्यमी प्रोत्साहन नीति के महत्वपूर्ण बिंदुओं को प्रचारित करके उन्हें यह बताने का काम किया गया है कि हरियाणा किस तरह से निवेशकों की पहली पसंद है। मुख्यमंत्री ने इस प्रयास की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस प्रकार के जॉब फेयर प्रदेश के हर जिले में लगाए जाएं ताकि प्रत्येक जिला के युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध हो सकें। 

उन्होंने युवाओं को देश के लिए एसेट बताते हुए कि हम उनका कौशल विकास करके सक्षम बनाकर उनकी प्रगति का रास्ता बनाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि जनसंख्या के मामले में भारत दुनिया में दूसरे स्थान पर है और हमारी जनसंख्या में 65 प्रतिशत आबादी 35 वर्ष से कम आयु वर्ग के युवाओं की है। इस युवा शक्ति को सरकार हुनरमंद बनाना चाहती है, ताकि वे देश के साथ-साथ दुनिया के विभिन्न हिस्सों में रोजगार पा सकें। श्री मनोहर लाल ने कहा कि सरकार चाहती है कि हमारे युवा विश्व में सर्विस प्रोवाइडर की ताकत के रूप में खड़े हों। इसके लिए गुणात्मक और रोजगारपरक शिक्षा देने के साथ-साथ राज्य सरकार कौशल विकास के लिए भी काम कर रही है। हरियाणा में कौशल विकास मिशन का गठन किया गया और कौशल विकास विश्वविद्यालय की स्थापना का कार्य भी जिला पलवल में शुरू हो चुका है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार फाइनल ईयर में शिक्षा के साथ-साथ विद्यार्थियों के लिए कोई ऐसा पाठयक्रम जोडऩे पर विचार कर रही है जिससे कि वे निजी क्षेत्र में रोजगार हासिल करने अथवा स्वरोजगार शुरू करने के लायक बन सकें। साथ ही उन्होंने कहा कि सरकारी नौकरियां सीमित हैं, सभी को नहीं मिल सकती। हर वर्ष लगभग दो लाख युवा शिक्षा ग्रहण करके निकलते हैं। प्रदेश में शुरू की गई सक्षम युवा योजना का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पोस्ट ग्रैजुएट तथा ग्रैजुएट युवाओं को 100 घंटे काम करने पर 9000 रुपए का मानदेय दिया जा रहा है। सरकार की योजना है कि इसी प्रकार दस जमा दो उत्तीर्ण विद्यार्थियों को भी छ: हजार रुपए का मानदेय दिया जाए। यह मानदेय तीन साल के लिए होगा। 

उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि बेरोजगार युवा जल्द से जल्द सक्षम  पोर्टल पर अपना पंजीकरण करें और जल्द से जल्द रोजगार का रास्ता खोजकर नया जीवन शुरू करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस पोर्टल पर उद्यमियों को भी एक्सेस दिया जाएगा ताकि वे अपनी जरूरत के अनुसार युवाओं का चयन करके अपने उद्योगों में रोजगार प्रदान कर सकें। उन्होंने कहा कि देश की सशस्त्र सेनाओं में हरियाणा के जवानों की संख्या काफी है। जिसे देखते हुए राज्य सरकार ने रक्षा मंत्रालय से प्रदेश में विशेष भर्ती केंद्र खोलने का आग्रह किया है। उन्होंने यह भी कहा कि सरकार हरियाणा को खेलों का हब बनाना चाहती है। इसके लिए खेल विद्यालय राई को प्रदेश की पहली स्पोर्टस यूनिवर्सिटी का दर्जा दिया गया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा सरकार प्रदेश का स्टेट रैजीडेंट डाटाबेस तैयार कर रही है। जिससे हर वर्ग की कल्याणकारी योजनाएं बनाई जा सकेंगी। यह कार्य आगामी छ: माह में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। 
इससे पहले कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए हरियाणा के उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री श्री विपुल गोयल ने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए बिजनेस फ्रैंडली माहौल तैयार किया है। पिछले वर्ष गुुरुग्राम में आयोजित हैपनिंग हरियाणा गलोबल इनवैस्टर्स समिट में एक लाख करोड़ रुपए के एमओयू के लक्ष्य के विरूद्ध लगभग छ: लाख करोड़ रुपए के एमओयू हुए हैं। जिनमें से अब तक डेढ़ लाख करोड़ रुपए के एमओयू पर काम भी शुरू हो चुका है। श्री गोयल ने सक्षम युवा योजना का उल्लेख करते हुए बताया कि इस पोर्टल पर 9000 पोस्ट ग्रैजुएट युवाओं ने अपना पंजीकरण करवाया था, जिसमें 1356 आवेदकों को नौकरी प्रदान की जा चुकी है। उन्होंने यह भी बताया कि स्वर्ण जयंती वर्ष में समाज के हर वर्ग के लिए सरकारी विभाग नई-नई योजनाएं लागू कर रहे हैं।
इस अवसर पीएचडी चैंबर ऑफ कामर्स के अध्यक्ष श्री गोपाल जीवराजका ने मुख्यमंत्री तथा अन्य अतिथियों का स्वागत करते हुए हरियाणा सरकार की रोजगार सृजन तथा युवाओं के कौशल विकास की योजनाओं की प्रशंसा की और राज्य सरकार की उद्यमी प्रोत्साहन नीति का समर्थन किया। चैंबर के चेयरमैन प्रणव गुप्ता ने राज्य सरकार द्वारा उद्यमियों की सुविधा के लिए शुरू की गई एकल खिडक़ी योजना की सराहना करते हुए कहा कि इससे 45 दिन में कोई भी नया उद्योग स्थापित करने की स्वीकृति तथा अन्य औपचारिकताएं पूरी हो रही है।
एक अप्रैल से होगी पशुओं की नसबंदी, हरियाणा में अब आसानी से नहीं आ पाएंगे बाहर के पशु

एक अप्रैल से होगी पशुओं की नसबंदी, हरियाणा में अब आसानी से नहीं आ पाएंगे बाहर के पशु

चण्डीगढ़, 27 मार्च- हरियाणा पशुपालन विभाग द्वारा ऐसी व्यवस्था की जा रही है जिसके अनुसार दूसरे राज्यों से प्रदेश की सीमा में पशुओं का प्रवेश कराने वाले व्यक्तियों के लिए सभी पशुओं का रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य होगा।

विभाग के महानिदेशक श्री जी.एस. जाखड़ ने बताया कि राजस्थान से हर साल हजारों गाय व दूसरे पशुओं का प्रदेश में चारे की तलाश में प्रवेश कराया जाता  है। इनमें से काफी पशु यहीं रह जाते हैं और बड़ी परेशानी पैदा करते हैं। वापस जाते समय यदि उनके पास कोई पशु नहीं है तो उसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट प्रस्तुत करनी होगी।
उन्होंने बताया कि प्रदेश में एक अप्रैल से एक महीने तक पशुओं की नसबंदी का अभियान चलाया जाएगा। पिछले वर्ष 1 से 15 जून तक चले अभियान में 25 हजार पशुओं की नसबंदी की गई थी ।

15 अगस्त तक सडक़ों पर घूमने वाले आवारा पशुओं से मुक्त कर दिया जाएगा हरियाणा

15 अगस्त तक सडक़ों पर घूमने वाले आवारा पशुओं से मुक्त कर दिया जाएगा हरियाणा

चण्डीगढ़, 27 मार्च- हरियाणा के मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव श्री राकेश गुप्ता ने कहा कि प्रदेश को जल्द ही सडक़ों पर घूमने वाले आवारा पशुओं से मुक्त कर दिया जाएगा। इसके लिए पूरे प्रदेश में समुदाय आधारित कार्ययोजना तैयार की गई है। अब तक पंचकूला, नूंह और यमुनानगर जिलों को सडक़ों पर घूमने वाले आवारा पशुओं से मुक्त कर दिया गया है। 
श्री गुप्ता आज सोनीपत के जिमखाना क्लब में स्ट्रे कैटल (खुले में घूमने वाले पशु) मुक्त कराने की कार्ययोजना के दूसरे चरण में प्रदेश के 11 जिलों के उपायुक्तों व अन्य अधिकारियों की मीटिंग को संबोधित कर रहे थे। 
श्री गुप्ता ने बताया कि जून 2017 तक प्रदेश के अधिकतर जिले आवारा पशुओं से फ्री हो जाएंगे और 15 अगस्त तक पूरे हरियाणा को इनसे मुक्त कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अक्टूबर 2016 में आदेश दिए थे कि प्रदेश में सडकों पर खुले घूमने वाले अवारा पशुओं के पुर्नवास के लिए बेहतरीन योजना तैयार की जाए। इसके लिए देशभर के बेहतरीन मॉडल का अध्ययन किया जाए ताकि लोगों को धार्मिक भावनाओं का भी ख्याल रहे और यह आर्थिक मॉडल लंबे समय तक कार्य कर सके। 
उन्होंने बताया कि अध्ययन करने पर पाया गया कि सिरसा, फतेहाबाद और हिसार जिलों में समुदाय (ग्राम पंचायतों, सामाजिक धार्मिक संस्थाओं, समाजसेवियों) को साथ लेकर इस दिशा में बेहतरीन कार्य किए जा रहे हैं। खासकर फतेहाबाद जिला ने इस क्षेत्र में सबसे बढिया कार्य किया है और लोगों ने खुद गांवों में फाटक तैयार कर पशुओं को उसके अंदर रखा और उनके चारे का प्रबंध भी किया हुआ है। 

मुख्यमंत्री ने इसी समुदाय आधारित मॉडल को ध्यान में रखते हुए कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश जारी किए। सभी जिला उपायुक्तों, अतिरिक्त उपायुक्तों व डीडीपीओ की मीटिंग बुलाई गई। 23 दिसंबर को करनाल में प्रदेश के 11 जिलों नूह, यमुनानगर, फतेहाबाद, पानीपत, हिसार, पंचकुला, रेवाड़ी, अंबाला, सिरसा, करनाल और कुरुक्षेत्र की मीटिंग बुलाई गई और कार्ययोजना तैयार की गई। एक महीने तक सभी जिलों के सीएमजीजीए के माध्यम से योजना तैयार की गई। इसके बाद 15 जनवरी तक नूह, फरवरी के पहले सप्ताह में यमुनानगर और 28 फरवरी तक फतेहाबाद को आवारा भटकने वाले पशुओं से मुक्त कर दिया गया। पंचकुला और अंबाला को अप्रैल तक और पूरे प्रदेश को 15 अगस्त तक स्ट्रे कैटल फ्री कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि पहले चरण के 11 जिलों में 45 हजार पशुओं को चिह्नित किया गया था और इनमें से 17 हजार पशुओं को विभिन्न बाड़ों, नंदशाला और गौशालाओं में शिफ्ट कर दिया गया है। 
मीटिंग में सोनीपत के उपायुक्त के मकरंद पांडुरंग, पानीपत के उपायुक्त चंद्रशेखर खरे, रोहतक के उपायुक्त अतुल कुमार चरखी दादरी के उपायुक्त विजय कुमार, पलवल के उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा, यमुनानगर के उपायुक्त आरएस खर्ब, नारनौल के उपायुक्त राजनारायण कौशिक, कैथल के उपायुक्त संजय जून, झज्जर के उपायुक्त रमेश चंद्र बिधान, जींद के उपायुक्त विनय कुमार, गुरूग्राम के उपायुक्त हरदीप सिंह, गुडगांव नगर निगम के कमिश्नर अमित खत्री सहित सभी जिलों के अतिरिक्त उपायुक्त, नगर निगम कमिश्नर, डीडीपीओ सहित कई विभागों के अधिकारी मौजूद थे। 

समुदाय को जोडक़र काम किया तो सामने आए बेहतर परिणाम समीक्षा मीटिंग में फतेहाबाद के अतिरिक्त उपायुक्त जयकिशन ने समुदाय आधारित मॉडल पर अपनी प्रस्तुती दी। उन्होंने बताया कि दो नंदियों की लड़ाई में एक युवक की मौत के बाद उन्होंने फतेहाबाद में इनके समाधान पर काम करना शुरू किया। आवारा घूमने वाले पशुओं से मुक्त करने के लिए कई कदम उठाए गए। लोगों को जागरूक किया गया और गांवों में सरपंचों के समूह तैयार करवाए गए ताकि लोगों से सीधा संवाद किया जा सके। ओडीएफ मिशन के तहत लगे युवाओं के जरिए गांवों में पशुओं की संख्या की गणना की गई और पशुपालन विभाग के माध्यम से आंकड़े सुनिश्चित किए गए। गांवों में लोगों के साथ मिलकर तालाबों के आस-पास डेढ़ से दो एकड़ में फाटक तैयार करवाए गए ताकि वहां 150 से 200 पशुओं को रखा जा सके। 
लोगों को साथ जोड़ा गया जिनमें गांवों के पंच, सरपंच, धार्मिक संगठन, सामाजिक संगठन, प्राईवेट संस्थान, किसान शामिल थे। इन पशु बाड़ों का प्रबंधन, चारे की व्यवस्था भी इन्हीं को सौंपी गई। शहरी क्षेत्रों में एक हजार से लेकर 1500 पशुओं तक की नंदीशालाएं स्थापित की गई। फतेहाबाद में फिलहाल 30 नंदीशालाएं स्थापित हो चुकी हैं और 80 ऐसी व्यक्तिगत जगह हैं जहां पशुओं को रखा गया है। 

मीटिंग में जिला सोनीपत की कार्ययोजना की प्रस्तुती देते हुए उपायुक्त के मकरंद पांडुरंग ने बताया कि सोनीपत में मौजूदा समय में 24 गौशालाएं हैं और इनमें 27 हजार गौधन रखा गया है। 4500 घूमंतू पशु हैं। उन्होंने बताया कि जिला में 250 एकड़ में विशाल गौ अभ्यारण्य तैयार किया जा रहा है यहां गोधन को प्राकृतिक आवास मुहैया करवाया जाएगा। इसके साथ ही हरसाना में नगर निगम द्वारा नंदीशाला तैयार की गई हैं और यहां 700 नंदी रखे गए हैं। कुमासपुर गांव में साढ़े 18 एकड़ में दूसरी नंदीशाला तैयार की जा रही है। उन्होंने बताया कि जुलाई के अंत तक जिला को आवारा पशुओं से मुक्त कर दिया जाएगा।    
अतिरिक्त मुख्य सचिव राकेश गुप्ता ने बताया कि प्रदेश में वन विभाग, पीडब्लूडी व हुडा विभाग को बड़ी मात्रा में पौधों के लिए गोबर की खाद की जरूरत होती है और वे गोबर की खाद मार्केट से नहीं बल्कि नंदीशालाओं से खरीदें। ऐसे में सभी नंदीशालाएं सुदृढ़ हों इसके लिए इन विभागों को नंदीशालाओं से ही आर्गेनिक खाद खरीदने के लिए कहा जाएगा। हिसार ऐसा पहला जिला है जहां सभी विभागों को इस बाहर से आर्गेनिक खाद खरीदने के लिए प्रशासन से एनओसी लेनी होगी। यहां 13 हजार 463 नंदियों में से 6273 अलग अलग गौशालाओं व नंदीशालाओं में शिफ्ट कर दिए गए हैं बाकी का काम जारी है। 31 पशुबाड़े बन चुके हैं। 

VIDEO: मेट्रो में सवारी कर मुख्यमंत्री ने समझा जनता का दर्द

VIDEO: मेट्रो में सवारी कर मुख्यमंत्री ने समझा जनता का दर्द

नई दिल्ली 27 मार्च: हाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात में लोगों से निवेदन किया था कि पेट्रोल डीजल को बचाने के लिए एक दिन वाहन का प्रयोग न करें जिसके बाद आज सोशल मीडिया पर कई बड़े बड़े नेता साइकिल चलाते दिख रहे हैं । बिहार के छातापुर से बीजेपी विधायक नीरज सिंह ने सोमवार को साइकिल की सवारी की. इस दौरान उनके बॉडीगार्ड भी साइकिल पर ही चल रहे थे. उन्होंने पेट्रोल और डीजल की बचत के लिए सप्ताह में एक दिन साइकिल से विधान सभा जाने का ऐलान किया । इसके साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पटना में अलग से साइकिल ट्रैक बनाने की मांग की । इसी कड़ी में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आज फरीदाबाद से दिल्ली का सफर मेट्रो से तय किया ।

 इसके बाद कुछ घंटे दिल्ली में गुजारने के बाद मुख्यमंत्री दोबारा दिल्ली से फरीदाबाद पहुचे।   इस दौरान उन्होंने रास्ते में कई लोगों से बातचीत  कर उनकी समस्याएं जानी  । इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा की वो इस तरह आम लोगो के बीच में जाते रहते है।  पहले भी वो मेट्रो और वोल्वो में सफर कर चुके है । इस मौके पर उन्होंने कहा की बल्लभगढ़ मेट्रो का निर्माण  6 महीने मैं पूरा हो जाएगा। 




योगी की राह पर चलने लगे खट्टर, दबंग CM बनने का करने लगे प्रयास

योगी की राह पर चलने लगे खट्टर, दबंग CM बनने का करने लगे प्रयास

New Delhi 27 March 2017:  उत्तर प्रदेश सरकार को बने लगभग एक हफ्ते ही हुए हैं कि इन दिनों में ही प्रदेश का नजारा काफी बदला बदला सा नजर आने लगा है । कल सीएम योगी ने कहा था कि प्रदेश के गुंडे सुधर जाएँ वर्ना उत्तर प्रदेश छोड़कर चले जाएँ । योगी ने प्रदेश के व्यापारियों को पूरी तरह से सुरक्षा देने का आश्वाशन दिया । उत्तर प्रदेश की तरह ही हरियाणा में भाजपा सरकार है और अब मनोहर लाल खट्टर भी रंग बदलते दिखने लगे हैं, लगता है वो भी योगी रंग में जल्द रंगे दिखेंगे । 
कल मुख्यमंत्री  खट्टर ने भी व्यापारियों को सामाजिक, आर्थिक  सुरक्षा प्रदान करने का भी आश्वासन दिया। खट्टर ने कहा कि  सभी महत्वपूर्ण स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगवाए जायेंगे और अबतक विभिन्न स्थानों पर 2 लाख सीसीटीवी कैमरे लगवाएं गये है। इसके अतिरिक्त 1 लाख सीसीटीवी कैमरे शहरों में लगाएं गये है। खट्टर ने  मार्किट कमेटियों के लिए भी 10 हजार कैमरे लगवाने की योजना बनाई है। मुख्यमंत्री ने व्यापारियों से यह भी अनुरोध किया कि जिन व्यापारियों का कारोबार अच्छा है वे भी स्वयं अपने खर्चे पर प्रतिष्ठानों में गलियों में सीसीटीवी कैमरे लगवाएं। खट्टर ने कुछ ट्वीट किये हैं जिनके नीचे कुछ ऐसे कमेंट्स आ रहे हैं ट्वीट और कम्मेन्ट्स 
माननीय श्री मनोहर लाल जी के नेतृत्व में हरियाणा दिन दुगनी रात चौगुनी तरक्की कर रहा है धन्यवाद सर जी

Sunday, March 26, 2017

खुश हुए खट्टर, अगले महीने से कम होंगे बिजली के दाम, कई बड़ी रियायतों का एलान किया

खुश हुए खट्टर, अगले महीने से कम होंगे बिजली के दाम, कई बड़ी रियायतों का एलान किया

चण्डीगढ़, 26 मार्च- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कुरुक्षेत्र की पावन धरा पर प्रदेश के पहले विराट व्यापारी सम्मेलन में अनेकों घोषणाएं कर व्यापारियों को गदगद कर दिया। इस विराट व्यापारी सम्मेलन में व्यापारियों की समस्याओं और मांगों को सरकार तक पहुंचाने के लिए जिलास्तर पर व्यापारी सलाहकार समिति, किसानों की तर्ज पर व्यापारियों के लिए शेयरिंग फार्मुले पर बीमा योजना लागू करने, अचल संपतियों के लिए मार्किट रेट और कोलेक्टर रेट को एक अप्रैल से एक समान करने, एक अप्रैल से बिजली के दामों में 15 से 60 पैसे प्रति यूनिट कम करने, उप आबकारी एवं कराधान आयुक्त को 25 लाख रुपए तक के वैट/सीएसटी के रिफंड की अनुमति देने में सक्षम, जबकि अतिरिक्त आबकारी एवं कराधान आयुक्त या मुख्यालय के अन्य अधिकारी 25 लाख रुपए से अधिक के वैट/सीएसटी रिफंड करने के लिए अधिकृत करने, 5 लाख रुपए तक का कारोबार करने वाले छोटे व्यापारियों की निर्धारित एक प्रतिशत मार्किट फीस समाप्त करने, वैट/सीएसटी रिफन्ड की अधिकतम वित्तिय सीमा में बदलाव लाने और ज्यादा से ज्यादा टैक्स की अदायगी करने वाले व्यापारियों के लिए वार्षिक पुरस्कार योजना आरंभ करने, व्यापारियों के लम्बित मामलों का निपटारा करने के लिए फास्ट ट्रैक प्रणाली लेनेे, प्रदेश में एक लाख सीसीटीवी कैमरे लगाने, भ्रष्ट अधिकारियों पर नकेल कसने सहित अनेक घोषणाएं की हैं।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आज ये सभी घोषणाएं कुरुक्षेत्र की अनाज मंडी मेें आयोजित विराट व्यापारी सम्मेलन में की हैंं। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरे देश भर में जीएसटी एक समान कर व्यवस्था लागू होगी इसलिए व्यापारियों को जीएसटी कानून के संबध में प्रशिक्षण व जानकारियां भी दी जाएगी। उन्होंने 20 लाख रुपए या इससे अधिक का कारोबार करने वाले व्यापारियों को इस कानून के तहत  31 मार्च, 2017 तक पंजीकृत करवाने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने बताया कि अब तक इस कानून के तहत 62 प्रतिशत व्यापारी अपना पंजीकरण करवा चुके है और 38 प्रतिशत व्यापारी भी अपना पंजीकरण करवाएं। इस प्रकार सभी व्यापारी मुख्यधारा में शामिल हो जाएंगे। इससे व्यापारियों को इन्सपेक्टरी राज से छुटकारा मिलेगा और वे खुले मन से अपना व्यापार कर सकेंगे। मुख्यमंत्री ने व्यापारियों की सभी मांगों पर सहानभूति पूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया है तथा शेष अन्य मंागों पर सभी व्यापारी संगठनों के साथ बैठक करके विचार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार ने व्यापारियों के लिए सभी सेवाओं को ऑनलाईन, कम्प्यूटरीकृत कर दिया हैं। सरकार का मुख्य उदेश्य गरीब से गरीब व्यक्ति तक सरकार की सेवाओं का लाभ पहुंचाना है। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में 24 घंटे बिजली देने का वायदा किया है इसी वायदे के अनुसार हम शहरी क्षेत्रों व कारखानों में 24 घंटे बिजली दे रहे है। उन्होंने बताया कि दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम का घाटा समाप्त हो गया है इसलिए आगामी एक अप्रैल से बिजली उपभोक्ताओं के बिजली बिल 15 से 60 पैसे सस्ते हो जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार शहरी क्षेत्रों के साथ-साथ गावों में भी 24 घंटे बिजली प्रदान करने के लिए कृत संकल्प है। यह भी योजना बनाई गई है कि जो शहर या गांव बिजली के बिल भरेंगे वही 24 घंटे बिजली पाएंगे। 

प्रदेश की अर्थ व्यवस्था में व्यापारियों के योगदान का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि व्यापारी एक स्त्रोत का काम करता है और टैक्स के रूप में एकत्रित पैसे को खजाने में पहुंचाता है ताकि अर्थ व्यवस्था के चक्र में कोई व्यवधान न पडे। उन्होंने कहा कि व्यापारी के बिना सरकार आगे नहीं बढ सकती। हरियाणा सरकार ने अपना 1 लाख करोड रुपए से अधिक का बजट प्रस्तुत किया है। जिसमें 50 हजार करोड रुपए की राशि केवल राजस्व प्राप्तियों से मिलती है और 25 हजार करोड रुपए की राशि वैट और सीएसटी से आती है। उन्होंने व्यापारियों की सुरक्षा का उल्लेख करते हुए कहा कि सरकार के 29 महीनों के कार्यकाल के दौरान किसी भी व्यापारी को फिरौती देने या किसी की सम्पत्ति पर कब्जा करने जैसी घटनाएं नहीं हुई है। इसके सर्मथन में सभी व्यापारियों ने अपने हाथ खडे करके अपनी सहमति जताई। उन्होंने कहा कि हमारे लिए व्यापारी की सुरक्षा महत्वपूर्ण है,जबकि पैसा तो आनी जानी चीज है। उन्होंने कहा कि हमारा उदेश्य प्रदेश में कानून और व्यवस्था को उचित ढंग से बनाकर रखना है। हरियाणा सरकार सबकी सरकार है और हम खुले मन से काम कर रहे है। किसी एक वर्ग विशेष की सम्पत्ति को नुक्सान हुआ उसकी मदद करना सरकार का कर्तव्य है। राज्य सरकार ने व्यापारियों को हुए नुक्सान की भरपाई 15 दिनों के भीतर कर दी ताकि वे अपने पैरों पर खडा हो सके। इतना जल्दी मुआवजा पहले किसी सरकार ने नहीं दिया होगा। समाज के प्रति हमारी संवेदना है। 

मुख्यमंत्री ने व्यापारियों को सामाजिक, आर्थिक  सुरक्षा प्रदान करने का भी आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि महाराज अग्रसैन द्वारा प्रस्तुत किए गए  एक रुपया और एक ईंट के सिंद्धात पर चलते हुए फार्मूला बनाए, बीमा और व्यापार घाटे से उभरने जैसी व्यवस्था की जाएगी ताकि व्यापारी अपने पांव पर खडा हो सके। उन्होंने सभी महत्वपूर्ण स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगवाने का भी आश्वासन दिया। अबतक विभिन्न स्थानों पर 2 लाख सीसीटीवी कैमरे लगवाएं गये है। इसके अतिरिक्त 1 लाख सीसीटीवी कैमरे शहरों में लगाएं गये है। उन्होंने मार्किट कमेटियों के लिए भी 10 हजार कैमरे लगवाने की योजना बनाई है। मुख्यमंत्री ने व्यापारियों से यह भी अनुरोध किया कि जिन व्यापारियों का कारोबार अच्छा है वे भी स्वयं अपने खर्चे पर प्रतिष्ठानों में गलियों में सीसीटीवी कैमरे लगवाएं। 
हरियाणा में फिर बोले भाजपा चीफ अमित शाह, भारत को कांग्रेस मुक्त बनाना है

हरियाणा में फिर बोले भाजपा चीफ अमित शाह, भारत को कांग्रेस मुक्त बनाना है

कुरुक्षेत्र, 26 मार्च ,राकेश शर्मा: भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि भाजपा का लक्ष्य जातिवाद, भ्रष्टाचार, क्षेत्रवाद तथा कांग्रेस मुक्त भारत बनाना है। कार्यकर्ता समर्पण भाव से कड़ी मेहनत के बूते इस लक्ष्य को पूरा करने में योगदान देंगे। भाजपा इस वर्ष पंडित दीनदयाल उपाध्याय शताब्दी वर्ष को राष्ट्रीय कार्य विस्तार योजना के रूप में बना रही है। इसलिए विस्तार की जिम्मेवारी कार्यकर्ताओं के जिम्मे है। राष्ट्रीय अध्यक्ष पंजाबी धर्मशाला में प्रदेश स्तरीय प्रशिक्षण वर्ग शिविर के समापन सत्र को संबोधित कर रहे थे। इससे पहले धर्मनगरी में पहुंचने पर सर्किट हाउस पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह व प्रदेश प्रभारी एवं राष्ट्रीय महामंत्री अनिल जैन का उनका स्वागत किया। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने भी पूरी गर्मजोशी के साथ कार्यकर्ताओं में उत्साह भरा। पंजाबी धर्मशाला में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, शिक्षा मंत्री रामबिलास, वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु, राज्यमंत्री कृष्ण बेदी, अंबाला सांसद रतन लाल कटारिया, प्रदेश प्रवक्ता वीर कुमार यादव, प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला, संगठन महामंत्री सुरेश भट्ट, विधायक सुभाष सुधा, पवन सैनी सहित अन्य पदाधिकारियों ने पुष्प गुच्छ भेंट कर स्वागत किया। 

समापन सत्र में उन्होंने बतौर मुख्यातिथि के रूप में शिरकत की जबकि अध्यक्षता मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने की। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए कहा कि विस्तार योजना अत्यंत महत्वपूर्ण है और इसे कार्यकर्ताओं की मेहनत के बूते ही सफल बनाया जा सकता है। छह महीने एवं एक वर्ष के लिए कार्यकर्ताओं को जो दायित्व दिया जाएगा उसके आधार पर मनायोग एवं समर्पण भाव से पार्टी का विस्तार करना होगा। शताब्दी विस्तारकों को बूथ से लेकर मंडल व जिला प्रकोष्ठों में पार्टी, मोर्च व प्रकोष्ठों की इकाइयों को न केवल गठित करना है बल्कि उन्हें पूरी तरह सक्रिय करते हुए पार्टी को स्वर स्र्पशी, सर्वव्यापी व समावेशी बनाना है। यह कार्य त्याग एंव बलिदान का है। इस दौरान केवल राजनीतिक बल्कि सामाजिक, सांस्कृतिक एवं रचनात्मक कार्य करते हुए देश को परम वैभव तक ले जाना है। 

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि भाजपा ने पादर्शिता एवं सुशासन के नारे से सत्ता संभाली थी। सबका साथ-सबका विकास नारे से प्रदेश में क्षेत्रवाद एवं राजनीतिक भेदभाव से ऊपर उठकर समान रूप से विकास कार्य करवाए जा रहे हैं। प्रदेश में 120 जन कल्याणकारी योजनाएं शुरू की गई हैं, जिनमें से ज्यादातर पूरी हो चुकी हैं और कुछ पर कार्य चल रहा है। प्रदेश में उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए नई निवेश नीति गई है, जिससे निवेश की संभावनाएं बढ़ी हैं। प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने कहा कि शताब्दी विस्तारकों का कार्य पार्टी के साथ नए लोगों को जोडऩा एवं भाजपा नीतियों को जन-जन तक पहुंचाना है ताकि धरातल पर पार्टी पूरी मजबूत हो सके। 

प्रदेश प्रवक्ता वीर कुमार यादव ने बताया कि प्रशिक्षण वर्ग शिविर में प्रदेश भर से 154 शताब्दी विस्तारकों ने हिस्सा लिया। तीन दिन चले प्रशिक्षण वर्ग में कार्यकर्ताओं को संगठन की मजबूती का गुर मंत्र दिया गया जो पूरे समर्पण भाव से पार्टी के लिए कार्य करेंगे। तीन दिवसीय शिविर को राष्ट्रीय संगठन मंत्री रामलाल भट्ट, सह संगठन मंत्री शिव्रकाश, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष महेश शर्मा, प्रदेश प्रभारी एवं राष्ट्रीय महामंत्री डॉ. अनिल जैन, संगठन महामंत्री सुरेश भट्ट, प्रदेश महामंत्री संदीप जोशी व वेदपाल, चेयरमैन श्रीनिवास गोयल, गोविंद भारद्वाज एवं ऋषिप्रकाश एवं शैलेंद्र पांडे ने संबोधित किया। इस अवसर जिलाध्यक्ष धर्मवीर मिर्जापुर, धुम्मन सिंह किरमिच, लोकसभा निगरानी कमेटी अध्यक्ष धर्मवीर डागर, राव रणजीत सिंह, जिला महामंत्री रवींद्र सांगवान, भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारणी सदस्य रमेश कश्यप, सुशील राणा, शंकुतला शर्मा, मीडिया प्रभारी विनीत कवात्रा, सह मीडिया प्रभारी सुनील गौरी, किसान मोर्चा के जिला महामंत्री जसविंद्र सैनी, एससी मोर्चा के जिलाध्यक्ष रामपाल पाली, लाडी पाल, सर्वजीत विर्क, विनीत बजाज, सुरेंद्र इशाकपुर, शेरपाल राणा, अमित रोहिला, रोशन बेदी, गौरव भट्ट एवं प्रतीक सुधा सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे।

Saturday, March 25, 2017

हरियाणा के कुछ भ्रष्ट, गद्दार, मलाईखोर मंत्रियों विधायकों के कारण योगी जैसी धुँआंधाड़ बैटिंग नहीं कर पा रहे हैं खट्टर

हरियाणा के कुछ भ्रष्ट, गद्दार, मलाईखोर मंत्रियों विधायकों के कारण योगी जैसी धुँआंधाड़ बैटिंग नहीं कर पा रहे हैं खट्टर

चंडीगढ़ 25 मार्च: भाजपा की सरकार उत्तर प्रदेश में बनी है और पड़ोस में हरियाणा में भी भाजपा की ही सरकार है लेकिन योगी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनते ही हर गेंद पर चौके छक्के मार रहे हैं बड़े बड़े फैसले ले रहें हैं लेकिन हरियाणा के खट्टर ऐसा नहीं कर पा रहे हैं आखिर क्यू? अपने बारीक  सूत्रों की मानें तो योगी इसलिए हर गेंद बाउंड्री के बाहर भेज रहे हैं क्यू कि उनके पास काफी विकेट हैं कुछ विकेट गिर भी गए तो उनपर कोई फर्क नहीं पड़ेगा जबकि खट्टर के पास उतने विकेट नहीं हैं । 

उत्तर प्रदेश में भाजपा को दो तिहाई बहुमत मिला और सहयोगियों को मिलाकर 323 सीटें हैं योगी के 100 विकेट भी गिर जाएँ तो उनकी कुर्सी पर आंच नहीं आएगी लेकिन खट्टर के पास 47 सीटें हैं और दो तीन विकेट गिरने के बाद उनकी सरकार गिर सकती है और बारीक सूत्रों की ही माने तो आधा दर्जन से ज्यादा भ्रष्ट विधायक और कुछ मंत्री उनकी कुर्सी खींचने का पूरा प्रयास कर रहे हैं । वो सरकार के साथ गद्दारी  करने पर उतारू हैं  । ऐसे में खट्टर मजबूरी वश एक भी गेंद बाउंड्री के बाहर नहीं भेज पा रहे हैं । कुछ नेता दूसरी पार्टियों में रहकर मलाई खा चुके हैं अब भाजपा में रहकर भी मलाई ही खाते रहना चाहते हैं और उनकी राह में खट्टर की ईमानदारी रोड़ा अटका रही है इसलिए वो खट्टर को पचा नहीं पा रहे हैं ठीक वैसे जैसे नोटबंदी के दौरान भ्रष्ट और बेईमानों ने उस फैसले का विरोध किया था जबकि आम आदमी और तकरीबन देश की अस्सी फीसदी जनता परेशान होकर भी पीएम मोदी का साथ दे रही थी और हाल में हुए कुछ चुनावों में इसका उदाहरण भी मिल गया । 

हमें और बारीक सूत्रों द्वारा पता चला है कि खट्टर अपने कुछ भ्रष्ट मंत्रियों और विधायकों के बारे में सब कुछ जानते हैं लेकिन मजबूरी वश उन पर कार्यवाही नहीं कर पा रहे हैं । खट्टर को पता है कि इन भ्रष्ट मंत्रियों और विधायकों पर इस समय कार्यवाही की गई तो ये कांग्रेस से मिलकर सरकार गिरा देंगे और खट्टर को ये भी पता है कि हरियाणा में आंदोलन वगैरा कौन करवा रहा है और कौन एक सवा साल से उनकी कुर्सी खींचना चाहता है लेकिन मजबूर हैं चुपचाप सब कुछ सह रहे हैं । 

BREAKING: अगले महीने से सिर्फ परिवहन विभाग एकत्रित करेगा सभी तरह के वाहनों के टैक्स

BREAKING: अगले महीने से सिर्फ परिवहन विभाग एकत्रित करेगा सभी तरह के वाहनों के टैक्स

चण्डीगढ़, 25 मार्च- हरियाणा सरकार ने निर्णय लिया है कि एक अप्रैल, 2017 से सभी प्रकार के वाहनों से सम्बंधित सभी टैक्स केवल परिवहन विभाग (रेगुलेटरी विंग) द्वारा एकत्रित किया जाएगा। 
इस सम्बंध में जानकारी देते हुए परिवहन विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया कि हरियाणा मोटरयान कराधान अधिनियम, 2016 को अधिसूचित किया गया है, जिसमें सभी प्रकार के वाहनों से एक ही टैक्स अर्थात मोटर वाहन टैक्स एकत्रित करने का प्रावधान किया गया है। उन्होंने बताया कि गुड्स एवं पैसेंजर वाहन मालिकों व चालकों इत्यादि अवगत करवाया गया है कि 31 मार्च, 2017 तक अदा किये गए टैक्स का बेबाकी प्रमाण-पत्र आबकारी एवं कराधान विभाग से प्राप्त कर एक अप्रैल, 2017 से शुरू होने वाली दैनिक, मासिक, तिमाही और वार्षिक अवधि का टैक्स सम्बंधित प्रादेशिक परिवहन प्राधिकारी के कार्यालय में जमा करवाएं। 

उन्होंने बताया कि अदा किये जाने वाले टैक्स की जानकारी हरियाणा परिवहन विभाग (रेगुलेटरी विंग) की वेबसाइट www.haryanatransport.gov.in पर देखी जा सकती है। उन्होंने बताया कि बिना टैक्स हरियाणा क्षेत्र में वाहन पकड़े जाने पर भारी जुर्माना राशि का भी प्रावधान किया गया है। प्रवक्ता ने बताया कि परिवहन विभाग ने राज्य में यात्रा करने वाले यात्रियों को अपनी यात्रा सुगम व सुरक्षित बनाने हेतु एक सार्वजनिक सूचना भी जारी की है। 

जाट नेता यशपाल मलिक पर देश द्रोह का केस दर्ज करने की मांग

जाट नेता यशपाल मलिक पर देश द्रोह का केस दर्ज करने की मांग

भिवानी, 25 मार्च 2017: भिवानी के नया बाजार स्थित जांगड़ा धर्मशाला में आदर्श समाज हरियाणा की एक महत्वपूर्ण बैठक का आयोजन किया गया। बैठक के बाद राजेन्द्र तंवर के नेतृत्व में भिवानी विधायक श्री घनश्याम सर्राफ को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। उन्होनंे बताया कि पिछड़ा वर्ग में किसी भी जाति को शामिल न किया जाये। पिछड़ा वर्ग का प्रथम व द्वितीय श्रेणी में 27 प्रतिशत आरक्षण पूर्ण रूप से लागू किया जाये। यदि सरकार जाट उपद्रवियों के मुकदमें वापिस लेती है तो इन्हीं धाराओं के तहत जेलों में बंद अन्य अपराधियों के भी मुकदमें वापिस लिये जायें। 
यदि जाट उपद्रवियों के आश्रितों को नौकरी देती है तो इससे पहले मिर्चपुर काण्ड, भगाना काण्ड, डाबड़ा काण्ड व थुराना काण्ड के पीडि़तों को भी पहले स्थायी नौकरी दी जाये। यदि जाटों को आरक्षण मिलता है तो यह लोकतंत्र की हत्या होगी व लठतंत्र की जीत होगी। संविधान और संवैधानिक संस्थाओं से विश्वास उठ जायेगा। जाटों को आरक्षण देने से पहले राज्य में सभी श्रेणियों में जाट जाति के कितने लोग सरकारी नौकरियों पर हैं उसमें श्वेत पत्र जारी हो। श्वेत पत्र में यदि जाटों व अन्य किसी जाति को उनकी जनसंख्या के अनुपात में अधिक नौकरियां प्राप्त है तो उनकी नौकरियों में आगे भर्ती पर रोक लगा दी जाये व उन जातियों को नौकरी दी जाये जिनका नौकरियों में प्रतिनिधित्व उनकी जनसंख्या के अनुपात में कम है। उन्होनें आगे कहा कि जाट आरक्षण को नौंवी अनुसूचि में डालने से पहले पिछड़ा वर्ग के लिए पंचायतों, स्थानीय निकायों, विधानसभा, लोकसभा और राज्यसभा में भी राजनीतिक आरक्षण 27 प्रतिशत विधानसभा में पारित कर नौंवी अनुसूचि में डाला जाये फिर किसी अन्य जाति को आरक्षण देने बारे सोचा जाये वर्ना ये वर्ग अपनी मांगों को मनवाने के लिए सड़कों पर आने को मजबूर होगा।

 जिन लोगों ने आरक्षण आदंोलन के दौरान फतेहाबाद में पुलिस कर्मियों पर हमला किया उन की तुरन्त गिरफ्तारी हो और यशपाल मलिक सहित जिन लोगों पर देशद्रोह के मुकदमें दर्ज हैं उनकी गिरफ्तार हो वरना लोगों का सरकार से विश्वास उठ जायेगा। अगर सरकार अब नहीं चेती तो आने वाले 2019 में भाजपा का भी कांग्रेस सेे भी बुरा हाल होगा। आदर्श समाज हरियाणा गैर जाट विधायकों व सांसदों को ज्ञापन सौपेंगी जिसका आगाज आज भिवानी से शुरू हुआ।

ज्ञापन सौपने वालों में दक्ष प्रजापति महासभा, सैनी कल्याण परिषद, सैन समाज कल्याण मंच, जांगड़ा महासभा, जोगी महासभा, लखेरा महासभा, पंाचाल महासभा, अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा, भारतीय प्रजापति हीरोज, लोकतंत्र सुरक्षा मंच, धानक महासभा, संत कबीर महासभा, यादव महासभा, इन्द्रसिंह जाजनवाला, अशोेक राघव, रामस्वरूप जांगड़ा कुरूक्षेत्र, अर्जुन सिंह धीमान जीन्द, बिजेन्द्र सिंह रोहिल्ला सरपंच मुण्ढाल, गुलाब सिंह सरपंच, रामनिवास पंघालिया, जयसिंह तंवर हालुवास, जगदीश सैनी, डा. प्रदीप भाटी, विजय यादव, कुलदीप बडाला, जयचंद दरियापुर, सुमित, राजकुमार जमालपुरिया, रणबीर भाटी, शिवकुमार प्रजापति, सुरेश सैनी प्रवक्ता, प्रजापति रमेश टाक, रामशरण ठेकेदार, श्रीराम जांगड़ा, अशोक जोगी पार्षद प्रतिनिधि सहित अनेक समाजों के गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

Thursday, March 23, 2017

Good News: तीर्थ यात्रा पर जाने वाले लोगों 50-50 हजार देंगे खट्टर

Good News: तीर्थ यात्रा पर जाने वाले लोगों 50-50 हजार देंगे खट्टर

चण्डीगढ़, 23 मार्च -हरियाणा सरकार ने स्वर्ण जयंती कैलाश मानसरोवर यात्रा योजना के तहत प्रदेश के 50 तीर्थ यात्रियों को कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए 50-50 हजार रुपये की  वित्तीय सहायता प्रदान करने का निर्णय लिया है।
  मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने  यह जानकारी देते हुए कहा कि सरकार को कैलाश मानसरोवर की इस अद्भुत एवं अलौकिक यात्रा के लिए तीर्थ यात्रियों को वित्तीय सहायता प्रदान करने में हर्ष की अनुभूति हो रही है। 
उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कैलाश मानसरोवर की यात्रा को नाथू ला के रास्ते सुगम बनाने के लिए उठाए गए नए कदमों के लिए उनका आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि इस यात्रा के लिए तीर्थ यात्रियों को 28 दिनों में वाया उत्तराखण्ड और 21 दिनों में वाया सिक्कम (नाथू ला) के रास्ते से  अपनी यात्रा पूरी करने का विकल्प उपलब्ध है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कैलाश मानसरोवर की यात्रा करने के इच्छुक तीर्थ यात्री अपना पंजीकरण करवाने के लिए शीघ्रतिशीघ्र विदेश मंत्रालय से सम्पर्क कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि वैबसाइट www.kmy.gov.in पर और ई-मेल आईडी kmyyatra@mea.gov.in के माध्यम से यात्रा के बारे और अधिक जानकारी प्राप्त की जा सकती है। इसके अतिरिक्त, तीर्थ यात्री दूरभाष नम्बर 011-24300655 पर भी सम्पर्क कर सकते हैं।

किताबो पर मुल्य बदल कर 3/4 गुणा बढ़ा अभिभावकों की जेब पर डाला जाता है डाका

किताबो पर मुल्य बदल कर 3/4 गुणा बढ़ा अभिभावकों की जेब पर डाला जाता है डाका

भिवानी :- स्वास्थ्य शिक्षा सहयोंग संगठन के प्रदेशाध्यक्ष बृजपाल परमार ने जारी एक प्रैस ब्यान में सख्त लहजे से कहा कि स्कूलोंं में बच्चों के दाखिले के साथ ही अभिभावकों को बच्चों के नई कक्षाओं के लिए जो किताबे खरीदते है । उन पर पब्लिश्रों से सांठ गांठ कर किताबों क ा मुल्य उसकी वास्तविक कीमत से भी तीन चार गुणा अधिक प्रिंट कर देते है यही नहीं उन पर अपने मनमाने दामों क ी मुल्य स्लीप लगा कर अभिभावकों को चुना लगाते है । अब ऐसे पब्लिशरों व दूकनदारों की खैर नहीं है ।

 संगठन के पास प्रदेश भर से इस प्रकार की शिकायते आ रही है जिसकी संगठन अपने स्तर पर जांच करवाऐगा और दोषी पाऐ जाने वाले दूकनदार व पब्लिशरों के खिलाफ 420 के तहत कानुनी कारवाई करवाई जाऐगी । वहीं संगठन के शिक्षा सचिव रमेश सैनी ने कहा कि दूकनदार व पब्लिशरों द्वारा लगाई गई मुल्य स्लीप पर कुछ और तो उसे हटाने पर कुछ और रेट सामने आते  है जो की सीधे अभिभावकों की जेब पर डाका डालने का काम है जो किसी भी हालत में सहन नही होगा और ना ही ऐसी घटीया हरकत करने वाले लोगों को बक्षा नहीं जाऐगा । 
खट्टर के आदेश, किसी भी कार्यालय में जनता पहुंचे तो उनकी शिकायत प्यार से सुनें अधिकारी

खट्टर के आदेश, किसी भी कार्यालय में जनता पहुंचे तो उनकी शिकायत प्यार से सुनें अधिकारी

चण्डीगढ़, 23 मार्च- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने अधिकारियों को लोगों की शिकायतों का समाधान प्राथमिकता के आधार पर करने के निर्देश दिए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि जब भी लोग उनके कार्यालय में आएं तो उनकी शिकायतों की धैर्य से सुनवाई करें। 
श्री मनोहर लाल कल शाम  अपने निवास पर उनसे भेंट करने आए विभिन्न शिष्टमण्डलों की शिकायतों का निवारण कर रहे थे। प्रदेश के विभिन्न विभागों के 15 शिष्टमण्डलों में लगभग 200 व्यक्ति शामिल थे, जो मुख्यमंत्री के जनता दरबार में अपनी शिकयतों का निवारण करवाने आए थे। 

श्री मनोहर लाल ने उनकी शिकायतों को धैर्य से सुना और विश्वास दिलाया कि उनकी उचित शिकायतों का यथाशीघ्र समाधान किया जाएगा। उन्होंने इस अवसर पर उपस्थित विभिन्न विभागों के अधिकारियों को लोगों की शिकायतों का त्वरित गति से निपटान करने के निर्देश दिए। इन शिकायतों में लोगों की अन्य समस्यों के अतिरिक्त स्कूल शिक्षा, शहरी स्थानीय निकाय और वन विभाग सहित विभिन्न विभागों से सम्बंधित शिकायतें भी शामिल थी। 

Wednesday, March 22, 2017

HCA ने तेज गेंदबाजों के लिए मोटिवेशन को जिले को मिली स्पीड गन

HCA ने तेज गेंदबाजों के लिए मोटिवेशन को जिले को मिली स्पीड गन

फरीदाबाद। हरियाणा क्रिकेट एसोसिएशन ने तेज गेंदबाजों के मोटिवेशन को अब जिला क्रिकेट एसोसिएशन को स्पीड गन मुहैया कराई है। यह प्रदेश की दूसरी स्पीड गन है। लेकिन तेज गेंदबाजों को बेहतर बनाने के लिए ही फरीदाबाद से अच्छी प्रतिभाओं के निकलने के चलते ही स्पीड गन मुहैया कराई गई है। फरीदाबाद के द क्रिकेट गुरुकुल के पास जिला क्रिकेट एसोसिएशन की निगरानी में यह स्पीड गन रहेगी। जिसके हिसाब से तेज गेंदबाजों को परख कर उनके करियर के तहत मोटिवेट किया जा सकेगा। यह कहना रहा भूपानी स्थित द क्रिकेट गुरुकुल में आयोजित एक प्रेसवार्ता के दौरान हरियाणा रणजी कोच विजय यादव का। इस मौके पर उनके साथ हरियाणा रणजी कप्तान मोहित शर्मा और लेवल ए कोच अनिकेत उपाध्याय भी उपस्थित रहे।  उन्होने भी स्पीड गन को खिलाड़ियों के लक्ष्य को सेट करने के लिए बेहतर बताया। द क्रिकेट गुरुकुल में इस स्पीड गन का एक टेस्ट भी आयोजित किया गया। इसमें 50 के करीब तेज गेंदबाजों ने हिस्सा लिया।

हरियाणा रणजी कोच विजय यादव ने बताया कि तेज गेंदबाज के लिए स्पीड गन से एक अलग मोटिवेशन  मिलेगा। वह अपनी स्पीड से यह पता कर सकेगा कि अपनी गेंदबाजी को क्या आयाम दे सके। उसी प्रकार वह अपने को आगे के लिए तैयार कर सकेंगे। और हमें एक बेहतर तेज गेंदबाज प्राप्त हो सकेंगे। उन्होने बताया कि यह पूरे जिले में तेज गेंदबाजों को ढूंढ़ने और उन्हें आगे बढ़ाने के लिए ही जिले को सौंपी गई है। अगर जिले के किसी मैच में अच्छी गेंदबाजी प्रतिभा दिखाई देती है। तो उसे इसके ट्रॉयल के लिए बुलाया जाएगा। ताकि उसी प्रकार उसे आगे के लिए गाइड किया जा सके। उसपर फिर मेहनत की जाएगी। 

इंटरनेशनल क्रिकेटर मोहित शर्मा का कहना है कि अब कई प्रकार की तकनीक से अच्छी प्रतिभाओं को खोजा जा सकता है। उसमें से यह एक है। इससे उम्मीद है कि तेज गेंदबाज बनाने में काफी मदद मिलेगी। उनकी स्पीड की परख कर आगे काम किया जा सकेगा। यह हरियाणा क्रिकेट एसोसिएशन का एक अच्छा निर्णय है। एक्जुक्यूटिव प्रेसीडेंट डीसीए रजत भाटिया ने स्पीड गन से तेज गेंदबाज को सही दिशा देने को भविष्य का कदम बताया है।