Showing posts with label Haryana Police. Show all posts
Showing posts with label Haryana Police. Show all posts

Monday, May 22, 2017

चंडीगढ़ से आये आदेश को ठेंगा दिखा देती है लोकल पुलिस, इसलिए हरियाणा में लुट रहीं हैं इज्जतें

चंडीगढ़ से आये आदेश को ठेंगा दिखा देती है लोकल पुलिस, इसलिए हरियाणा में लुट रहीं हैं इज्जतें

चंडीगढ़, 22 मई- हरियाणा में महिला सुरक्षा को लेकर सरकार व् पुलिस अधिकारी बड़े बड़े बयान दे रहे हैं जबकि असलियत कुछ और है पुलिसवाले ही छेड़छाड़ से पीड़ित लड़कियों और महिलाओं को परेशान करते हैं |  अपराधियों पर कोई कार्यवाही नहीं करते चंडीगढ़ से  आये आदेश को ठेंगा दिखा देते हैं इसलिए कम नहीं हो रहे हैं महिलाओं के साथ होने वाले अपराध ( बल्लबगढ़ में तीन दिन पहले महिला एवं उसकी बेटियों पर हुए एक अपराध  को लेकर आज  एक बड़े नेता फरीदाबाद के सीपी से मिले और दो दिन सीपी की कार्यवाही का इन्तजार रहेगा वरना पूरा पूरा मामला आप सब तक पहुंचाऊंगा ) आज हरियाणा के गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री राम निवास ने कहा कि राज्य में महिलाओं और लड़कियों की सुरक्षा को गंभीरता से लिया जा रहा है और जिस प्रकार से पिछले दिनों कुछ घटनाएं घटी हैं, उसके उपरांत एक रूपरेखा तैयार की जा रही है ताकि इस प्रकार की घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो। श्री राम निवास आज यहां पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि किसी भी स्कूल को अपग्रेड कर देना इस प्रकार की घटनाओं को रोकने का कोई समाधान नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार को किस तरह से सुरक्षित वातावरण तैयार करना है ताकि लड़किया व महिलाएं निर्भिक होकर कहीं भी आ-जा सकें।

उन्होंने बताया कि पिछले दिनों राज्य के पुलिस महानिदेशक ने सभी जिला पुलिस अधिकक्षकों को सख्त हिदायतें दी हैं कि वे अपने संबंधित जिलों के स्कूलों में संपर्क बनाएं और इस संवेदनशील मुद्दे पर बातचीत करें। इसके अलावा ग्राप पंचायतों के साथ भी बैठकें करें। उन्होंने कहा कि महिला सिपाहियों को डकोए बनाकर स्कूलों के आस-पास लगाकर दूर्गा ऑपरेशन को चलाया जाए।

श्री रामनिवास ने पुलिस अधिकारियों से आह्वान करते हुए कहा कि वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सभी शैक्षणिक संस्थानों में जाएं और वहां लड़कियों को संवेदनशील बनाएं और उन्हें हैल्पलाइन नंबर के बारे में जानकारी दें। उन्होंने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए पुलिस व प्रशासन को एनजीओ व पंचयाती राज संस्थाओं का सहयोग लेना चाहिए।

उन्होंने दूर्गा ऑपरेशन के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि दूर्गा ऑपरेशन के तहत भारी मात्रा में मामले दर्ज किए गए हैं और यदि किसी मामले में कार्रवाई नहीं होती है तो संबंधित अधिकारी के विरुद्ध कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि पुलिस शिकायत प्राधिकरण बनाया जाएगा और इसमें आने वाली शिकायतों का निष्पादन हो सकेगा। उन्होंने बताया कि इस संबंध में अन्य राज्यों से प्रारूप मंगवाया जा रहा है और इस बारे में बैठकों का दौर प्रारंभ हो चुका है और शीघ्र ही राज्य सरकार को इसे अनुमति के लिए प्रस्तुत कर दिया जाएगा।

Thursday, May 18, 2017

हरियाणा के कई लापरवाह पुलिस अधिकारी सस्पेंड, DGP की चेतावनी सुधर जाएँ पुलिसवाले वर्ना?

हरियाणा के कई लापरवाह पुलिस अधिकारी सस्पेंड, DGP की चेतावनी सुधर जाएँ पुलिसवाले वर्ना?

चण्डीगढ़, 18 मई- हरियाणा के पुलिस महानिदेशक बीएस संधु ने कहा कि महिलाओं के विरूद्ध अपराध व मिलने वाली शिकायतों पर पुलिस कार्रवाई में किसी भी प्रकार की देरी अथवा लापरवाही को सहन नहीं किया जाएगा। श्री संधु ने कहा कि अगर कोई पुलिस अधिकारी अथवा कर्मचारी महिलाओं के विरूद्ध अपराध मामले में कोताही बरतता है तो उसके खिलाफ निश्चित रूप से कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। 

श्री संधु ने यह जानकारी आज सोनीपत में दी। उन्होंने बताया कि ऐसी ही लापरवाही के चलते सोनीपत सिटी थाने के एएसआई जोगेंद्र सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है। इसके अलावा निर्भया मामले में पोस्टमार्टम हाउस में गलत जानकारी दर्ज करवाने पर रोहतक के अर्बन इस्टेट थाने के एएसआई समुंद्र सिंह को भी निलंबित कर दिया गया है। इसके अलावा सिटी थाना सोनीपत के एसएचओ अजय मलिक को भी लाईन हाजिर कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि इन तीनों पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई आरंभ कर दी गई है। 

    पुलिस महानिदेशक ने कहा कि महिलाओं को सुरक्षा प्रदान करना हरियाणा पुलिस की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि सभी डीएसपी व एसएचओ को निर्देश जारी किए जा चुके हैं कि महिलाओं के विरूद्ध अपराध की शिकायत आने पर तुरंत कार्रवाई करें। उन्होंने यह भी बताया कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए टोल फ्री नंबर 1091 जारी किया गया है और इसकी मॉनिटरिंग डीएसपी स्तर के अधिकारी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि महिलाओं के विरूद्ध अपराध को रोकने के लिए हरियाणा पुलिस ने आपरेशन दुर्गा शुरू कर रखा है और यह लगातार जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी महिलाओं के विरूद्ध अपराधों पर नजर रखने के लिए संबंधित एसएचओ को सख्त निर्देश जारी कर रखे हैं। 

उन्होंने कहा कि सोनीपत के निर्भया मामले के संबंध में पुलिस एक माह के भीतर कोर्ट में चालान पेश कर देगी। उन्होंने कहा कि पुलिस इस मामले को बेहद संवेदनशील मानती है और इसे गंभीरता से लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि रोजाना के आधार पर इस मामले की कोर्ट में पैरवी की जाएगी और पुलिस का प्रयास रहेगा कि इस मामले में तीन माह के भीतर ही फैसला हो जाए और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले। उन्होंने कहा कि सोनीपत का निर्भया मामला मानवता व महिलाओं के प्रति एक धिनौनी हरकत है। इसलिए हरियाणा पुलिस का यह संकल्प है कि दोषियों को दंड मिलने में जरा सी भी देरी न हो पाए। 

     नशे के विरूद्ध हरियाणा पुलिस के अभियान की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि इस संबंध में एक स्पेशल टास्क फोर्स का गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि मादक पदार्थों की सप्लाई करने वाले लोगों की धरपकड़ लगातार जारी है। उन्होंने कहा कि सोनीपत व आस-पास के क्षेत्रों में कुछ गैंग सक्रिय हैं। जिनके बारे में सूचना इकट्ठी की जा रही है और जल्द ही ऐसे गैंगों के खिलाफ मुहिम चलाकर सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि हरियाणा पुलिस का उद्देश्य यही है कि प्रदेश में अपराध समाप्त हो और यहां पर शांति और सौहार्द का वातावरण बना रहे। 
    पटियाला के एक व्यापारी द्वारा फतेहाबाद जिले के पूर्व एसपी के खिलाफ ठगी के मामले में शिकायत के संबंध में उन्होंने कहा कि इस संबंध में आईजी हिसार अभिताभ ढिल्लो के नेतृत्व में एक जांच टीम का गठन किया गया है। इसमें एक एसपी व एक डीएसपी को शामिल किया गया है। इस संबंध में व्यापारी द्वारा दिए गए वीडियो की भी जांच की जा रही है। इस मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके बाद पुलिस महा-निदेशक ने पीडि़ता के घर पहुंचकर परिवार से मुलाकात की और आरोपियों के खिलाफ जल्द कार्रवाई और पूर्ण सुरक्षा का भरोसा दिलाया। 

Wednesday, May 17, 2017

शराब पीकर, फोन पर बात करते हुए वाहन चलाने वाले सैकड़ों लोगों के काटे गए चालान

शराब पीकर, फोन पर बात करते हुए वाहन चलाने वाले सैकड़ों लोगों के काटे गए चालान

चण्डीगढ़, 17 मई - हरियाणा पुलिस ने गुरुग्राम में शराब पीकर गाड़ी चलाने वाले 250 लोगों के चालान किए हैं। पुलिस ने मोबाइल फोन प्रयोग करने के 25, तेज गति से गाड़ी चलाने के 122 और लाल बत्ती व पीली बत्ती की उल्लंघना करने के 26 चालान किए हैं। इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए पुलिस विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया कि 1 मई से 15 मई तक 424 ड्राइविंग लाइसेंस निलंबित किए जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि गत 13 मई को विशेष रात्रि चैकिंग के दौरान शराब पीकर गाड़ी चलाने वालोंं के 109 चालान किए हैं। इसी प्रकार, 11 मई से 16 मई के दौरान गुडग़ांव के एमजी रोड पर जीरो टोलरेंस अभियान के तहत 221 गाडिय़ां टो की गईं तथा 3286 गाडिय़ों के चालान किए गये।

    प्रवक्ता ने बताया कि यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले चालकों के विरूद्ध यातायात पुलिस ने सख्ती बरतनी शुरू कर दी है, जिसके तहत नाबालिंगों के चालान काटने के साथ-साथ पुलिस वाहनों को भी जब्त कर रही है। उन्होंने बताया कि यह अभियान 16 मई से 31 मई तक चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अभियान के पहले दिन पुलिस ने 40 नाबालिग चालकों के चालान काटे और मौके पर ही वाहन मालिक को बुलाकर उनको यातायात नियमों के उल्लंघन के बारे में अवगत करवाया गया।

Tuesday, May 16, 2017

हरियाणा में महिला सुरक्षा को लेकर DGP ने उठाये ख़ास कदम

हरियाणा में महिला सुरक्षा को लेकर DGP ने उठाये ख़ास कदम

चण्डीगढ़, 16 मई-  हरियाणा प्रदेश में महिलाओं एवं लडकियों को सुरक्षित वातावरण प्रदान करने हेतु  पुलिस महानिदेशक श्री बलजीत सिंह संधू द्वारा सभी पुलिस आयुक्तों, सभी मण्डल पुलिस महानिरीक्षकों, जिला पुलिस अधीक्षकों, सभी जिला पुलिस उपायुक्तों और सभी सहायक पुलिस अधीक्षकों व उप पुलिस अधीक्षकों के साथ पुलिस मुख्यालय से वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से गहन विचार-विमर्श उपरान्त आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।

वीडियो कान्फ्रेंस के दौरान पुलिस महानिदेशक ने आप्रेशन दुर्गा को और आगे जारी रखने के निर्देश दिये क्योंकि आम जनता ने इस आप्रेशन को महत्वपूर्ण तथा प्रभावी बताया है। कान्फ्रेंस में महिला हैल्प लाईन नं0 1091 को आम जनता में और ज्यादा प्रचारित करने के निर्देंश दिए गए ताकि किसी भी परेशानी में कोई भी महिला तुरन्त पुलिस को सूचित कर सके। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि महिला हैल्पलाईन नंबर 1091 पर आई हुई सूचना को महिला पुलिस थाना के सम्बन्धित राजपत्रित अधिकारी द्वारा प्रतिदिन स्वयं आवलोकन उपरान्त संवेदनशील मामलों बारे सम्बन्धित थानों के पर्यावेक्षण अधिकारियों को सूचित करने की जिम्मेदारी होगी।  सूचना मिलने पर पर्यावेक्षण अधिकारी इन सूचनाओं पर तुरन्त प्रभावी कार्रवाई उपरान्त उनका निपटारा करवाएंगें ।

वीडियो कान्फ्रेंस में पुलिस महानिदेशक ने कहा कि महिला विरूद्ध अपराधों व शिकायतों का निपटारा करने वाली पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों को संवेदनशील बनाने हेतु जिला स्तर पर ही प्रशिक्षण दिया जाएगा। सोशल मीडिया पर दी जा रही किसी भी सूचना को प्रभावी तौर पर खण्डन करने हेतु स्कीम बनाई जा रही है ताकि लोगों में सही सूचना पहुंच सके। इसके अलावा, उन्होंने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि जब कभी अति संवेदनशील घटना घटित होती है तो पुलिस आयुक्त व जिला पुलिस अधीक्षक अपने स्तर पर एस0आई0टी0 गठित करके कानूनी प्रकिया को अमल में लाएगें।
उन्होंने जिला गुरूग्राम, फरीदाबाद, रेवाड़ी, पानीपत, पंचकूला व यमुनानगर जहां पर औद्योगिक क्षेत्र हैं व महिला कर्मचारियों की संख्या ज्यादा है वहां दिन और रात को और ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता पर बल दिया। पुलिस महानिदेशक ने अन्त में सभी अधिकारियों को महिला सुरक्षा के प्रति और ज्यादा जागरूक और संवेदनशील होकर कार्य करने बारे प्रेरित किया।

Wednesday, May 10, 2017

नाबालिग बच्चों को वाहन देकर उन्हें मौत की तरफ भेजते हैं उनके माँ-बाप, DGP Haryana

नाबालिग बच्चों को वाहन देकर उन्हें मौत की तरफ भेजते हैं उनके माँ-बाप, DGP Haryana

चंडीगढ़, 10 मई- हरियाणा में पासपोर्ट सेवा केन्द्र की तर्ज पर हर पुलिस थाने के बाहर एक मित्र कक्ष की स्थापना की जा रही है ताकि जनसाधारण को अपनी छोटी-मोटी शिकायतें, चरित्र सत्यापन, पासपोर्ट सत्यापन जैसे कार्य के लिए थाने के भीतर जाने की जरूरत न पड़े।हरियाणा के पुलिस महानिदेशक बीएस संधू ने आज रोहतक में प्रैसवार्ता को संबोधित करते हुए यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इन मित्र कक्षों में हाईटैक कर्मचारियों की नियुक्ति की जाएगी। पुलिस विभाग में इस प्रकार का रचनात्मक निर्णय लेने वाला हरियाणा देश का पहला राज्य है। उन्होंने बताया कि पूरे प्रदेश में विभिन्न स्थानों पर 40 पुलिस थानों के नए भवनों का निर्माण कार्य किया जाएगा, इनमें से कुछ भवनों का निर्माण कार्य पहले ही शुरु हो चुका है। शेष स्थानों पर भी जल्द ही इन भवनों का निमार्ण कार्य शीघ्र ही शुरु हो जाएगा। उन्होंने बताया कि पुलिस जवानों के लिए आवासीय सुविधा उपलब्ध करवाने के दृष्टिगत 3000 नए क्वार्टर का निर्माण कार्य प्रगति पर है। 

श्री संधू ने कहा कि प्रदेश में 30 अप्रैल, 2018 तक 15,000 पुलिसकर्मियों के रिक्त पदों को भरने का निर्णय लिया गया है। पुलिसकर्मियों की भर्ती होने से स्टॉफ की कमी पूरी हो जाएगी। उन्होंने बताया कि पुलिस को अत्याधुनिक तकनीकी जानकारी देने के लिए सरकार द्वारा ठोस कदम उठाए जा रहे हैं, जिसके अंतगर्त पुलिस जवानों की ट्रेनिंग में बदलाव तथा उन्हें सॉफ्ट स्कील का प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है। इसके अलावा, प्रदेश में साईबर थानों की स्थापना भी की जा रही है।   

उन्होने कहा कि प्रदेश में नशे पर अंकुश लागने के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। प्रदेश के युवा खासकर स्कूल/कालेज के छात्रों को नशे से दूर रखने के लिए एक स्पैशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) की स्थापना की जा रही है जोकि प्रदेश में अवैध नशे के कारोबारियों पर अंकुश लगाएगी। इस प्रक्रिया में एसटीएफ स्कूल/कालजों के आस-पास नशे का कारोबार करने वाले लोगों की धरपकड़ व उन पर केस दर्ज करके सख्त कार्यवाही करेगी। इसके अलावा, अवैध हथियारों के कारोबारियों के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा उनकी प्राथमिकता है तथा इसके लिए उन्होंने पुलिस विभाग द्वारा हरियाणा में चलाए जा रहे आप्रेशन दुर्गा के तहत किए जा रहे उत्कृष्ट कार्यों के लिए पुलिस अधिकारियों की प्रशंसाा की। उन्होंने कहा कि हरियाणा पुलिस द्वारा प्रदेश में सुरक्षित माहौल बनाने के लिए ठोस कदम उठाये जा रहे है। 

पुलिस महानिदेशक ने ट्रैफिक के नियमों का अनुसरण ना करने पुलिस कर्मियों का रोहतक पुलिस द्वारा चालान काटने के चलाए जा रहे अभियान की प्रशंसा की है। उन्होंने कहा कि रोहतक जिला में चल रहे इस अभियान को अन्य जिलों मे भी जल्द लागू किया जाएगा। उन्होंने ट्रैफिक के नियमों को सख्ती से लागू करने के लिए दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि अब नए नियमों मे नाबालिग बच्चों को वाहन चलाने पर उनके अभिभावकों को समानांनतर दोषी माना जाएगा व उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी। 
पुलिस महानिदेशक ने मीडिया के माध्यम से आमजन से अपील करते हुए कहा कि अभिभावक अपने नाबालिग बच्चों को वाहन चलाने के लिए ना दें। नाबालिग बच्चों द्वारा वाहन चलाना कानून का उल्लंघन तो है ही इसके अलावा, यह उनके बच्चों व अन्य की जान के लिए भी खतरा है। यातायात नियमों बारे जागरुक करने के लिए स्कूल/कालेजों में जागरुकता अभियान चलाए जाएगे। हरियाणा पुलिस द्वारा तेज गति से वाहन चलाने व शराब के नशे में गाड़ी चलाने वाले के खिलाफ स्पेशल अभियान चलाया जाएगा।  

पुलिस महानिदेशक ने अधिकारियों निर्देश दिए कि महिलाओं, बच्चों व बुजुर्गों के खिलाफ होने वाले अपराधों की शिकायतों का प्राथमिकता के आधार पर निपटारा करें। पुलिस के हरेक जवान को जनता के साथ मृदु व्यवहार रखने की हिदायत दें। आमजन की शिकायतें सुनें तथा तुरंत कार्यवाही करें। इससे जनता मे पुलिस के प्रति मैत्री भाव जागेगा व पुलिस द्वारा अपराधियों की धरपकड़ व कानून लागू करने कि दिशा में उठाए जाने वाले कदमों में जनता का सार्थक सहयोग मिलेगा। पुलिस महानिदेशक ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय मे जनता दरबार लगाया जिसमें आमजन की समस्याएं सुनी तथा संबंधित अधिकारियों को मौके पर दिशा-निर्देश जारी किए है।
इस अवसर पर पुलिस महानिरीक्षक श्री नवदीप सिंह विर्क व पुलिस अधीक्षक, रोहतक श्री पंकज नैन भी उपस्थित थे।

Saturday, May 6, 2017

हरियाणा को अपराध मुक्त बनाने के लिए नए DGP ने बनाया बड़ा प्लान

हरियाणा को अपराध मुक्त बनाने के लिए नए DGP ने बनाया बड़ा प्लान

चंडीगढ़, 6 मई ( पुष्पेंद्र सिंह राजपूत ) हरियाणा के पुलिस महानिदेशक श्री बी.एस. संधु ने कहा कि साईबर क्राइम को प्रभावी तरीके से नियंत्रित करने के लिए पंचकूला में साईबर थाना स्थापित किया जाएगा और प्रत्येक जिला में उसकी इकाईयां स्थापित होंगी। साईबर क्राइम व्यवस्था में कार्य करने के लिए आउटसोर्सिस से विशेषज्ञ लिए जाएंगे। उच्चतम न्यायालय के निर्देशानुसार पुलिस वाहनों पर एक से अधिक रंग की बत्ती लगाने के मामले में आवश्यक संशोधन के लिए ड्राफ्ट तैयार किया गया है और शीघ्र ही सम्बन्धित अथॉरिटी से उस पर चर्चा की जाएगी।

उन्होंने कहा कि जनता और पुलिस के बीच बेहतर माहौल तैयार करने के लिए प्रत्येक पुलिस थाना के बाहर एक मित्र कक्ष स्थापित किया जाएगा। इस कक्ष में चरित्र प्रमाण पत्र, पासपोर्ट वैरिफिकेशन सहित अन्य सामान्य सेवाएं ऑनलाईन उपलब्ध करवाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि एनसीआर क्षेत्र तथा पंजाब सीमा के साथ लगते क्षेत्रों में अपराध और नशे के नियंत्रण के लिए दो विशेष टास्क फोर्स दस्ते तैयार किए जाएंगे। यह दस्ते सामान्य क्षेत्र के आईजी की देखरेख में कार्य करेंगे और इनमें पुलिस अधीक्षक स्तर के दो-दो अधिकारी भी शामिल रहेंगे। उन्होंने बताया कि नशे और ओवरलोडिंग वाहनो पर भी शिंकजा कसा जाएगा। इसके अलावा, यातायात नियमों की पालना सुनिश्चित करने के लिए भी कारगर कदम उठाए जा रहे हैं। 
उन्होंने कहा कि सडक़ों पर मोटरसाईकिल से पटाखे बजाने के मामले में चालान के साथ-साथ ऐसे वाहनों को जब्त भी किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में महिलाओं को अपराधमुक्त वातावरण उपलब्ध करवाने के लिए ऑप्रेशन दुर्गा शुरू किया गया है। उन्होंने कहा कि इस ऑप्रेशन के बाद चैन स्नेचिंग, महिलाओं से छेड़छाड़ व अन्य छोटे अपराधों में कमी दर्ज की गई है और रविवार 7 मई को वे राज्य मुख्यालय पर इसकी समीक्षा भी करेंगे। उन्होंने कहा कि पुलिस थानों के साथ-साथ पुलिस चौकियों के भवनों के जीणोद्धार के लिए भी प्रयास आरम्भ किए जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस का मनोबल बढ़ाने के लिए समय-समय पर उनका उचित मार्गदर्शन करने के साथ-साथ वाहनो की कमी को पूरा करने के भी प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रत्येक जिला में चार-चार वाहन उपलब्ध करवाए गए हैं और आगामी वित्त वर्ष में इस कमी को विशेष प्राथमिकता पर पूरा किया जाएगा। पुलिस कर्मियों को आधुनिक हथियार व उपकरण भी उपलब्ध करवाए जाएंगे। पुलिस महानिदेशक ने बताया कि पुलिस की कार्यप्रणाली को और बेहतर बनाने के लिए कंट्रोल रूम के आधुनिकीकरण, जिला के बाद उपमंडल स्तर पर पुलिस थानो की स्थापना सहित अन्य प्रयास किए जा रहे हैं। 
पुलिस महानिदेशक ने कहा कि विद्युत निगम ने ऐसे कर्मियों के विरूद्ध जो जुर्माना लगाया है, उसे हर हाल में भरना होगा। उन्होंने कहा कि दूसरी बार बिजली चोरी करते पकड़े जाने पर न केवल पुलिस विभाग अपने स्तर पर कार्रवाई करेगा बल्कि ऐसे पुलिस कर्मियों से सरकारी मकान भी खाली करवाया जाएगा। 

श्री संधु ने कहा कि लगभग 100 करोड़ रुपए की लागत से प्रदेश के 17 जिलों में 18 पुलिस डीएवी पब्लिक स्कूल स्थापित किए जा चुके हंै। इन स्कूलों की गुणात्मक शिक्षा की सफलताओं को देखते हुए प्रदेश सरकार ने उपमंडल स्तर पर भी पुलिस डीएवी पब्लिक स्कूल स्थापित करने के लिए सिद्धान्तिक स्वीकृति प्रदान कर दी है। 
उन्होंने कहा कि हरियाणा में पुलिस विभाग की इस पहल से प्रभावित होकर राजस्थान, छतीसगढ़ और जम्मू-कश्मीर जैसे राज्यों ने भी पुलिस डीएवी पब्लिक स्कूल स्थापित करने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि पुलिस अधिकारियों व कर्मियों को 24 घंटे डयूटी करनी पड़ती है,जिसके कारण वे बच्चों की शिक्षा की ओर ध्यान नही दे पाते। उन्हें इस चिंता से मुक्त करने के लिए यह पहल की गई थी, जिसके काफी सुखद परिणाम सामने आए हैं।
हुड्डा ने किया खट्टर को फोन, बोले मुझे जल्द जेल भेजो, ज्यादा देर मत करो

हुड्डा ने किया खट्टर को फोन, बोले मुझे जल्द जेल भेजो, ज्यादा देर मत करो

चंडीगढ़ 06 मई: मैं तीन साल से अपनी अटैची में कभी सर्दी के कपडे रखता हूँ तो कभी गर्मी के और अटैची लेकर हमेशा तैयार रहता हूँ लेकिन खट्टर साहब इधर उधर की बातें करते हैं मुझे जेल नहीं भेज रहे हैं | ये कहना है पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा का जिन्होंने फिर खट्टर सरकार पर जोरदार निशाना साधा है | हुड्डा ने खट्टर से कहा है कि खट्टर साहब इतनी देरी मत करो मुझे जल्द जेल भेजो | पूर्व मुख्यमंत्री हुड‍्डा कल चंडीगढ़ स्थित अपने एमएलए फ्लैट पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे जहां उन्होंने भाजपा नेताओं पर जमकर निशाना साधा | 

 हुड‍्डा ने खट्टर को ललकारते हुए कहा कि मैं किसी से डरता नहीं हूं। मेरे दादा और पिता अंग्रेजों की जेल से नहीं डरे, मैं क्या डरूंगा। मैं स्वतंत्रता सेनानी परिवार से हूं और देश के लिए मेरे बुजुर्गों ने जेल काटी है। मुझे जेल की धमकी देने की बजाय मुख्यमंत्री व सरकार के मंत्रियों को चाहिए कि वे प्रदेश में विकास पर ध्यान दें’।
इससे पहले पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को जन्मदिन की बधाई के साथ प्रदेश का विकास करवाने की नसीहत भी दी। सीएम को जन्मदिन की मुबारकबाद तो उन्होंने फोन पर दी और उनकी लम्बी उम्र की कामना की लेकिन बाद में मीडिया से बातचीत में उन्होंने सीएम व उनके कैबिनेट सहयोगियों पर तीखे हमले किए। उन्होंने भाजपा को भोजन, चर्चा और विश्राम की सरकार बताया।

Thursday, May 4, 2017

आधी रात को सिंघम बने हरियाणा के DGP, कई जिलों के थानों में के छापेमारी से हड़कंप

आधी रात को सिंघम बने हरियाणा के DGP, कई जिलों के थानों में के छापेमारी से हड़कंप

चंडीगढ़ 04 मई: हाल में बलजीत सिंह संधू हरियाणा के नए पुलिस महानिदेशक बने हैं, प्रदेश में क़ानून व्यस्था सुधारने के लिए कुछ हटकर करने के प्रयास की जरूरत है शायद नए डीजीपी भी इस बात को अच्छी तरह से जानते हैं | ताजा जानकारी के मुताबिक़ डीजीपी संधू ने कल रात्रि सिंघम स्टाइल में कुरुक्षेत्र के कई पुलिस थानों पर छापा मारा है | ये छापेमारी सिर्फ कुरुक्षेत्र तक सीमित नहीं थी सीएम सिटी करनाल के कई थानों में छापामारी हुई है जहाँ रिकार्ड चेक किये गए हैं | इस औचक निरीक्षण से कई थानों में हड़कंप मचने की सूचना है | डीजीपी ने कई पुलिस अधिकारीयों का मनोबल भी बढ़ाया और कहा कि जो अच्छा काम करेगा उसे इनाम दिया जाएगा लेकिन अगर किसी ने गलत काम किया तो उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा | 

उन्होंने पुलिस अधिकारियों को आदेश दिए कि जनता से तालमेल बनाकर रखो, इनकी शिकायतों को आराम से सुनो और जल्द से जल्द जनता की समस्याओं का समाधान करने का प्रयास करो |डीजीपी संधू ने कहा कि हमने पहले कुरुक्षेत्र के शाहबाद पुलिस थाने और उसके बाद करनाल की मंगलौरा पुलिस चौकी और घरौंडा थाने का निरिक्षण किया है। तकरीबन काम यहां ठीक पाया गया है। वहीं मौके पर मौजूद पुलिस कर्मचारियों और अधिकारियों को भी इकट्ठा कर उन्होंने बताया कि पुलिस की कार्य प्रणाली को ओर दुरुस्त करने की जरूरत है। वहीं उन्होंने मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए बताया कि हरियाणा पुलिस में करीब 15000 पुलिस जवानों की कमी है, जिसे जल्द पूरा कर लिया जाएगा।

Sunday, April 30, 2017

बिजली चोर पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने छीन लिया जायेगा मकान, DGP Haryana

बिजली चोर पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने छीन लिया जायेगा मकान, DGP Haryana

चंडीगढ़, 30 अप्रैल- हरियाणा के पुलिस महानिदेशक श्री बी.एस. संधू ने कहा कि पुलिस लाईन में पुलिस कर्मचारियों व अधिकारियों द्वारा नाजायज व अवैध तरीके से बिजली कनैक्शन करने वाले कर्मचारी व अधिकारी के खिलाफ कार्यवाही करते हुए उसका सरकारी मकान का आंबटन रद्द कर दिया जाएगा। 

श्री संधू आज यहां पुलिस महानिदेशक के  पद को संभालने के पश्चात राज्य के पुलिस अधिकारियों को दिशानिर्देश देने के उपरांत पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ऐसे पुलिस कर्मचारियों व अधिकारियों को पहले समझाया जाएगा, यदि वे नहीं मानते हैं तो उनके खिलाफ कार्यवाही करते हुए उसका सरकारी मकान का आंबटन रद्द कर दिया जाएगा। इस मौके पर एडीजीपी श्री पी के अग्रवाल, एडीजीपी श्री अकिल अहमद सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

सावधान, सादे ड्रेस में जगह जगह महिला पुलिस तैनात करेंगे नए DGP

सावधान, सादे ड्रेस में जगह जगह महिला पुलिस तैनात करेंगे नए DGP

चंडीगढ़ 30 अप्रैल: हरियाणा के नए पुलिस महानिदेशक बी एस संधू ने एक दिन पहले कार्यभार संभाल लिया था | नए पुलिस महानिदेशक क़ानून व्यवस्था ठीक ठाक रखने के लिए पुलिस को और चुस्त दुरुस्त बनाएंगे | नए डीजीपी का कहना है कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए हर कदम उठाये जा रहे हैं | उन्होंने कहा कि आपरेशन दुर्गा के तहत जगह जगह महिला पुलिस की तैनाती की जाएगी और इस स्क्वायड की महिला पुलिस करनी सादे ड्रेस में होंगी | उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता की सुरक्षा के लिए पुलिस हर जरूरी कदम उठाएगी | 

मालुम हो कि हाल में हरियाणा सरकार ने केपी सिंह की जगह बीएस संधू को प्रदेश का पुलिस महानिदेशक बनाया था | अब देखना है क्या क्या गुल खिलाते हैं नए डीजीपी वैसे अपने पाठकों को पहले ही बता चुका हूँ कि क्या गुल???

Friday, April 28, 2017

BREAKING: हरियाणा के नए DGP ने पदभार संभाला, देखें तस्वीरें

BREAKING: हरियाणा के नए DGP ने पदभार संभाला, देखें तस्वीरें

BS Sandhu is new Haryana DGP
चंडीगढ़ 28 अप्रैल: हरियाणा के नए पुलिस महानिदेशक बीएस संधू ने अभी कुछ मिनट पहले पदभार संभाल लिया है | अभी देर पहले संधू पंचकूला पुलिस हेड क्वार्टर पहुंचे जहां पूर्व डीजीपी केपी सिंह सहित पुलिस के आला अधिकारियों ने  पुलिस महानिदेशक बी एस संधू का स्वागत किया | इस मौके पर पुलिस ने उन्हें सलामी दी | हरियाणा पुलिस के 29वे DGP है बी एस संधू । कल सरकार ने उन्हें नया पुलिस महानिदेशक बनाया था | हरियाणा में क़ानून व्यवस्था कैसे सुधारते हैं नए डीजीपी ये तो वक्त ही बताएगा लेकिन सूत्रों की मानें तो नए डीजीपी दबंग डीजीपी की तरह शायद ही काम कर सकें | 

क्यू कि अधिकतर देखा गया है जिन पुलिस अधिकारियों का तबादला किसी नेता के कारण होता है कोई नेता मंत्री अपने चाहते को कमान सौंपता है वो अधिकारी दबंग होकर काम नहीं कर पाता राजनीति उनके पैरों में जंजीर बाँध देती है | आशा है नए डीजीपी कुछ अच्छा काम करेंगे लेकिन लगता नहीं है | अभी की कुछ तस्वीरें देखें | 
BS Sandhu is new Haryana DGP
BS Sandhu is new Haryana DGP

Sunday, April 16, 2017

योगी की तरह चौके-छक्के मारना चाहते हैं खट्टर लेकिन बाउंड्री के पहले ही गेंद लपक ले रहे हैं उनके मंत्री विधायक

योगी की तरह चौके-छक्के मारना चाहते हैं खट्टर लेकिन बाउंड्री के पहले ही गेंद लपक ले रहे हैं उनके मंत्री विधायक

नई दिल्ली/ चंडीगढ़/फरीदाबाद 16 अप्रैल 2017: लगभग ढाई करोड़ की आबादी वाला हरियाणा लगभग डेढ़ दशक पहले पूरी दुनिया में मशहूर था, अपनी कला संस्कृति और खान पान को लेकर, लेकिन इन डेढ़ दशकों में प्रदेश का मान सम्मान गिरा है | पहले अन्य राज्यों हर कोई हरियाणा एक बार देखना चाहता था लेकिन वर्तमान समय में लोग हरियाणा का नाम तक लेना अपनी तौहीन समझते हैं | उत्तर प्रदेश, बिहार जैसे पिछड़े राज्यों के लाखों लोग यहाँ रोजी-रोटी कमाने आते थे और यहीं के होकर रह जाते थे लेकिन यहाँ की सरकारों ने इस प्रदेश को तवाह कर दिया, पहले प्रदेश के फरीदाबाद जिले की पहचान उद्योग नगरी के रूप में पूरी दुनिया में थी लेकिन इन डेढ़ दशकों में नए उद्योग आये नहीं और कई बड़े उद्योग बंद हो गए जिस कारण लोग यहाँ आने के बजाय यहाँ से जाने लगे | 

प्रदेश में पिछले दस वर्षों तक कांग्रेस ने राज किया और लगभग ढाई साल से भाजपा राज कर रही है | कांग्रेस ने जो किया था उसे उसका फल पिछले विधानसभा चुनावों में मिल गया और भाजपा जो कर रही है इसे आने वाले विधानसभा चुनावों में भुगतना पड़ेगा | बात करते हैं यहाँ के वर्तमान भाजपा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी की जो शायद अब तक के सबसे ईमानदार मुख्यमंत्री हैं लेकिन मैंने ज्यादा ईमानदारों और सीधे साढ़े लोगों को बेईमानों का थप्पड़ खाते देखा है, कलयुग है इस युग में सब उल्टा होता है |

 प्रदेश का सबसे बड़ा ठग अनिल जिंदल  अगर किसी को लूटे पीटे तो पुलिस उसका मामला छुपाने का प्रयास करती है और अगर उसने कोई मामला दर्ज करवा दिया तो फ़टाफ़ट पुलिस प्रेस नोट भेज देती है | बिना मारे पीटे यहाँ की पुलिस किसी को अपराधी साबित कर देती है उसके खिलाफ मामला दर्ज कर देती है जबकि कई ऐसे भी होते हैं जो किसी को सच में पीटते हैं और पिटने वाला यदि गरीब होता है तो उसका मामला दर्ज नहीं किया जाता है, पुलिस और मालदार मिलकर थाने चौकियों में ही उस मामले का द एंड कर देते हैं | कलयुग है इसलिए? खट्टर की बात कर रहे हैं, उत्तर प्रदेश में योगी सरकार लगभग तीन हफ्ते पहले बनी, योगी ने शुरुआत से ही चौके छक्के मारने शुरू कर दिए तो हरियाणा में मांग उठी कि मोदी जी योगी जैसा सीएम दो, कई ख़बरें छपीं, मैंने भी ऐसी खबरें छापीं और लाखों विजिटर आये जिसके बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री थोड़ा बदले बदले नजर आने लगे | 

कल खट्टर ने गुरुग्राम का अचानक दौरा किया लेकिन वही हुआ जो सोंचा जा रहा है, वहां के भाजपा विधायक उमेश अग्रवाल ने खट्टर पर ही निशाना साधना शुरू कर दिया | सूत्रों की माने तो खट्टर योगी को देखकर उनकी तरह बैटिंग करना चाहते हैं लेकिन उनकी गेंद उनके ही नेता बाउंड्री के अंदर लपक दे रहे हैं और लगातार उन्हें आउट कर रहे हैं, समय नहीं है इसलिए थोड़े में बहुत कुछ समझ लें | फिर कभी विस्तार से ये खबर लिखूंगा | 

Saturday, April 15, 2017

हजारों करोड़ डकारने वाला SRS का मालिक अनिल जिंदल लूट के मामले में फंसा तो शहर छोड़ भागा

हजारों करोड़ डकारने वाला SRS का मालिक अनिल जिंदल लूट के मामले में फंसा तो शहर छोड़ भागा

चंडीगढ़/ फरीदाबाद 17 अप्रैल : निवेश करने के नाम पर फरीदाबाद और बल्लभगढ़ के हजारों लोगों के करोड़ो रूपए डकारने वाले एसआरएस ग्रुप के चेयरमैन अनिल जिंदल आखिर कानून के शिकंजे में आ ही गया। पुलिस ने अनिल जिंदल के खिलाफ दिनेश मक्कड नामक निवेशक के साथ मारपीट करने और बाऊंसरों से पिटवाने तथा लूटपाट करने का मामला दर्ज किया है। पुलिस फिलहाल मामलें की जांच कर रही है। लेकिन अपना सबकुछ गवा चुके पीडि़त लोग अनिल जिंदल के खिलाफ मामला दर्ज करने से खुश है और उन्हे अब पुलिस व प्रशासन से न्याय की आशा की किरण नजर आने लगी है। 

  लोगों के गाढ़े खून- पसीने की कमाई को निवेश के नाम पर डकारने में जहां दूसरे फाईनेंसरों ने कोई कसर नहीं छोडी, वही नामी गिरामी एसआरएस ग्रुप ने भी लोगों के पैसे लौटाने के नाम पर उन्हे ठेंगा दिखा दिया। इससे पीडि़त लोग कई बार धरना- प्रदर्शन भी कर चुके है। लेकिन पुलिस और राजनैतिक सांठगांठ के चलते इन फाईनेंसरों का कुछ नहीं बिगड पाया। जबकि सतिश गोयल नामक एक व्यापारी ने इससे दुखी होकर आत्म हत्या तक कर ली थी। पुलिस ने मामला तो दर्ज किया्र, लेकिन गिरफ्तारी किसी की नहीं हो पाई। अंत में पीडि़त के परिजनों ने फाइनेंसरों से समझोता कर लिया। पीडि़त लोगों ने कई बार अपना पैसा लौटाने की मांग की, लेकिन एसआरएस गु्रप के चेयरमैन और उनके कारिंदों ने या तो उन्हे जमीन देने या फिर कुछ देने के नाम पर टरकाते रहे या फिर बाऊंसरों का डर दिखाकर धमकाते रहे। एसआरएस टावर में पीडित कई बार तोडफोड भी कर चुके है। लेकिन पुलिस की मिलीभगत के चलते पीडि़तों को कोई न्याय नहीं मिल पाया। अनिल जिंदल पर राज्य के एक केबीनेट मंत्री के वरदहस्त के चलते ये लोग मौज करते रहे और निवेश के नाम पर अपना सबकुछ गंवा चुके लोग केवल धकके खाते रहे। 

इतना बड़ा एमपायर लोगों के पैसे पर खडा करने वाले अनिल जिंदल को पता भी नहीं होगा कि एक दिन उसके खिलाफ भी कानून का शिकंजा कस जायेगा। दिनेश मककड नामक निवेशक जब अपने दो साथियों के साथ अपना पैसा मांगने के लिए एसआरएस टावर में अनिल जिंदल के पास पंहुचे तो न केवल जिंदल के बाऊंसरों व दूसरे कारिंदों ने उनके साथ मारपीट की, बल्कि जिंदल ने भी उनके साथ लूटपाट कराई और धमकी दी। पुलिस ने अनिल जिंदल, उसके स्टाफ और बाऊंसरों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। 

एसआरएस के पीडि़त दूसरे लोगों का कहना है कि पुलिस ने पहली बार अनिल जिंदल के खिलाफ मामला दर्ज करके सराहनीय कार्य किया है। लेकिन इस मामलें में कार्रवाही भी होनी चाहिए। तभी इस तरह के लोगों को सबक मिलेगा और पीडि़तों को राहत मिलेगी। पुलिस के पास एसआरएस और उसके एजेन्टों के खिलाफ कई शिकायतें लम्बित है, उन पर भी कार्रवाही होनी चाहिए।

वहीं इस बारे में आरोपी अनिल जिंदल से बात करने के लिये उनके दफ्तर एसआरएस टावर पहुंचे तो बता लगा कि साहब मामला दर्ज होते ही शहर से बाहर चले गये हैं। अब देखना यह है कि मामला दर्ज होने के बाद पुलिस इस मामलें में कब तक अरोपी को सलाखों के पीछे पंहुचाती है, या फिर राजनैतिक दखल फिर पुलिस कार्रवाही के आडे आयेगा, वैसे संभव है सत्ता के दलाल उसे बचा लें क्यू कि जेल तो रोटी चोर जाता है, धनकुबेर तो करोड़ों लूटने के बाद भी घर में बैठ मलाई खाता है | VIDEO Sector 31 SHO Insp Jai Kishan

Saturday, April 8, 2017

हरियाणा के गैंगेस्टरों, खनन माफियाओं पर सर्जिकल स्ट्राइक करेगी खट्टर की पुलिस

हरियाणा के गैंगेस्टरों, खनन माफियाओं पर सर्जिकल स्ट्राइक करेगी खट्टर की पुलिस

चंडीगढ़ 8 अप्रैल: तीन साल में हरियाणा सरकार जो नहीं कर पाई अब करने जा रही है लगता है खट्टर सरकार उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के रास्ते पर चलने की तैयारी कर रही है | सूत्रों की मानें तो खट्टर सरकार ने डीजीपी केपी सिंह को प्रदेश में क़ानून व्यवस्था सुधारने के सख्त आदेश दिए हैं | कल कई पुलिस अधिकारियों के तबादले किये गए जिसके बाद कल रोहतक में पुलिस अधिकारियों की बैठक में कई फैसले लिए गए हैं | एक जानकारी के मुताबिक़ प्रदेशभर में सक्रिय गैंगस्टर, अवैध खनन और महिलाओं के विरूद्ध अपराध के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा। कल  रोहतक के सुनारिया पुलिस कांप्लेक्स में हुई आईजी, एसपी व अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की बैठक में ये निर्णय लिया गया। बैठक की अध्यक्षता डीजीपी डा. केपी सिंह ने की। 

करीब 2 घंटे तक चली इस बैठक में सभी रेंज के आईजी और एसपी से अपराध के संबंध में फीडबैक लिया गया। इस दौरान बैठक में प्रमुख तौर पर 3 मुद्दे उभर कर सामने आए। पहला प्रदेशभर में सक्रिय गैंग, दूसरा अवैध खनन और तीसरा महिलाओं के विरूद्ध अपराध। जिसके बाद तय हुआ कि इन मामलों को लेकर प्रदेश भर में एक साथ अभियान चलेगा। डीजीपी ने बताया कि पुलिस की उपलब्धियों और आगामी लक्ष्यों को लेकर भी बैठक में चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि प्रदेशभर में पुलिस अपराधों को लेकर गंभीर है। यूपी के एंटी रोमियो स्क्वॉड के मुद्दे पर केपी सिंह ने कहा कि यूपी ने हरियाणा के माडल को ही अपनाया है। 

Wednesday, March 29, 2017

UP, झारखंड के बाद अब हरियाणा में मीटबंदी, गुड़गांव में सैकड़ों दुकानें बंद करवाई गईं

UP, झारखंड के बाद अब हरियाणा में मीटबंदी, गुड़गांव में सैकड़ों दुकानें बंद करवाई गईं

New Delhi/ Chandigarh 29 March 2017: उत्तर प्रदेश  में बूचड़खानों बंद होने से हरियाणा के मीट बिक्रेता हाल में दहशत में थे अब उनकी दहशत सच साबित होने लगी है । उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के एक्शन में आने के बाद इसका असर अन्य राज्यों पर भी पड़ना शुरू हो गया। जहां यूपी में सरकार की कार्रवाई के खौफ के बाद बूचड़खान खुद-ब-खुद बंद हो रहे हैं। वहीं दूसरी ओर हरियाणा के गुड़गांव में शिवसेना ने जबरन मीट और चिकन की 500 दुकानों को बंद करा दिया, इनमें मल्टीनेशनल फूड चेन KFC भी शामिल है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक़ करीब 200 शिवसौनिकों ने गुड़गांव में मीट की दुकानों बंद करने के लिए पर धावा बोला। उन्होंने नवरात्र तक सभी दुकानों को बंद करा दिया है। इतना ही नहीं उन्होंने मीट दुकानदारों को चेतावनी दी कि मंगलवार को वे दुकानें बंद रखें। वहीं, दूसरी ओर शिवसेना ने KFC की एक दुकान में घुसकर वहां चिकन खाने आए लोगों को दुकान से बाहर निकाल दिया और उसे बंद करवा दिया। 

शिवसेना ने दावे के साथ कहा कि उसे इस कार्रवाई में स्थानीय लोगों का समर्थन हासिल है और उन्हीं लोगों ने नवरात्रि के दौरान मीट की दुकानें बंद किए जाने की मांग की थी. इसी के चलते ये कार्रवाई की गई है। सूत्रों का कहना है कि इसके लिए शिवसैनिकों ने पहले ही पुलिस-प्रशासन से अनुमति ली थी। पुलिस को पहले से ही इस कार्रवाई भनक थी। इसके बावजूद  प्रशासन की ओर से कोई कदम नहीं उठाया गया। वहीं, दूसरी ओर गुड़गांव पुलिस के एसी.पी. मनीष सहगल ने बताया कि उन्हें इस कार्रवाई की जानकारी नहीं है और अगर किसी ने वैध दुकानों को जबरन बंद कराया है तो उसके खिलाफ कानून कार्रवाई की जाएगी। सोशल मीडिया पर इस खबर पर मिली जुली प्रतिक्रियाएं आ रहीं हैं कुछ लोग नवरात्रि में इसे अच्छा फैसला बता रहे हैं तो कुछ शिवसेना की गुंडागर्दी भी बता रहे हैं । कुछ लोगों का कहना है कई मंदिरों के पास ये मीट की दुकानें थीं जहां आने जाने वाले लोग परेशान थे और इस समय नवरात्रों में लोग ठीक से मंदिर नहीं जा पाते थे । वैसे हरियाणा के अधिकतर लोग चाहते हैं सरकार बूचड़खाने बन करवाये जैसे उत्तर प्रदेश और झारखंड की सरकार ने किया है । 

Saturday, March 25, 2017

बीजेपी ने चकनाचूर किया हरियाणा पुलिस का मनोबल, यहाँ कोतवाल डांटने लगे चोर?

बीजेपी ने चकनाचूर किया हरियाणा पुलिस का मनोबल, यहाँ कोतवाल डांटने लगे चोर?

फतेहाबाद काण्ड में घायल पुलिस अधिकारी 
नई दिल्ली/ चंडीगढ़/ फतेहाबाद 25 मार्च : यहाँ से कुछ किलोमीटर दूर भाजपा की योगी सरकार है तो यहाँ हरियाणा में भाजपा की ही खट्टर सरकार है । योगी को दबंग सी एम् बताया जा रहा है तो खट्टर को खटारा? उत्तर प्रदेश चुनावों में भाजपा ने वहाँ की क़ानून व्यवस्था पर हमला बोल जीता था जिसके बाद योगी के सीएम बनते ही क़ानून व्यवस्था में सुधार देखा जा रहा है लेकिन खट्टर को ढाई साल हो गए और सूत्रों की मानें तो ये अभी तक अखिलेश की राह पर चल रहे हैं । आखिर ऐसा क्यू लिखना पड़ रहा है नीचे पढ़ें समझ जाएंगे । 

हाल में जाट आंदोलन के दौरान फतेहाबाद में लगभग दो सौ पुलिस के जवानों को बंधक बनाया गया था और कई पुलिसकर्मी एवं अधिकारी घायल भी हुए थे लेकिन अब सूत्रों द्वारा पता चला है कि जिन्होंने पुलिस पर हमला किया था सरकार उन्हें बचाने में जुटी है और उलटा पुलिसकर्मियों पर भी कार्यवाही का प्लान बना रही है और ऐसा कुछ जाट मंत्रियों सांसदों के दबाव में किया जा रहा है । इस कारण फतेहाबाद पुलिस का मनोबल काफी गिर गया है । अभी तक किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी भी नहीं हुई है ।  मालूम हो पिछले हफ्ते दिल्ली कूच के दौरान आंदोलनकारियों ने हमला कर 19 पुलिस जवानों जिनमें एक डीएसपी भी शामिल हैं, को घायल कर दिया था। इस दौरान नया घटनाक्रम यह सामने आया है कि करीब 28 आंदोलनकारी भूना के कम्युनिटी हेल्थ सेंटर में दाखिल हो गए हैं। बुधवार को 22 लोग भर्ती हुए थे और बृहस्पतिवार को 6 और जिनमें 2 महिलाएं भी शािमल हैं अस्पताल में दाखिल हो गए। आखिर घटना के इतने दिन बाद ये लोग क्यू अस्पताल पहुँच रहे हैं । शायद किसी ने इन्हें राय दी होगी कि क्रास केस बन जायेगा इसलिए अस्पताल में दाखिल हो जाए । अब जो अस्पताल में दाखिल हो रहे हैं उनका आरोप है कि शांतिपूर्ण धरना दे रहे थे पुलिस ने उनपर हमला किया है । 

कुछ पुलिस अधिकािरयों ने स्वीकार किया कि चंडीगढ़ से जिला पुलिस को किसी भी हमलावर को गिरफ्तार न करने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं एक अन्य पुलिस अधिकारी के अनुसार हम इसका इंतजार कर रहे हैं कि हमारे जवानों पर निर्ममता से हमला कर उन्हें घायल करने वाले आरोपियों की गिरफ्तारी होगी, नया घटनाक्रम इसका संकेत दे रहा है कि पुलिस पर जवाबी कार्रवाई हो सकती है। पुलिस ने हमलावर आंदोलनकारियों के खिलाफ जो एफआईआर दर्ज की है, उसमें 45 नामजद और 200 अन्य अज्ञात हैं।  एक पुलिस कर्मी के मुताबिक घटना के तीन दिन बाद तक कोई आंदोलनकारी अस्पताल नहीं पहुंचा था, लेकिन अब 28 भर्ती हो गए हैं। जाट नेताओं की ओर से आंदोलनकारियों पर कोई कार्रवाई न किए जाने की चेतावनी से यह माहौल बन रहा है कि हमलावर छोड़ दिए जाएंगे।

वहीं एसपी के मुताबिक पुलिस ने सिर्फ अपना बचाव किया, जवानों की ओर से हमलावरों पर कोई जवाबी वार नहीं किया गया। वहीं आंदोलनकारियों की ओर से पुलिस जवानों के खिलाफ अभी तक कोई एफआईआर दर्ज नहीं कराई गई है। इस मामले में ताजा जानकारी के मुताबिक़ जाट नेता यशपाल मलिक ने मांग की है कि पुलिस अधिकारियों पर कार्यवाही की जाए । मलिक ने डीसी एन के सोलंकी से मुलाकात कर कहा कि उनके दो दर्जन लोग पुलिस के हमले में घायल हुए हैं उनपर कार्यवाही की जाए । कुल मिलाकर यहाँ का माहौल अब वैसे है जैसे दो हफ्ते पहले उत्तर प्रदेश का हुआ करता था, जहां चोर कोतवाल को डांट देता था । यहाँ भी अब चोर कोतवाल को डांटने लगे हैं । सच कड़वा होता है जिसे लगे लगता रहे । 

Monday, March 20, 2017

फतेहाबाद में कल पुलिस और पत्रकारों पर हमला करने वाले दंगाइयों को बख्शा नहीं जाएगा, DGP

फतेहाबाद में कल पुलिस और पत्रकारों पर हमला करने वाले दंगाइयों को बख्शा नहीं जाएगा, DGP

चण्डीगढ़, 20 मार्च - हरियाणा के पुलिस महानिदेशक श्री के.पी.सिंह ने कहा है कि भविष्य में प्रदेश में कहीं भी संवेदनशील जगहों की कवरेज करने वाले पत्रकारों को बॉडी प्रोटेक्टर व हैलमेट उपलब्ध करवाए जाएंगे, ताकि किसी भी प्रकार की दंगे की स्थिति में उन्हें घायल होने से बचाया जा सके।
पुलिस महानिदेशक आज ढाणी गोपाल चौक के समीप असामाजिक तत्वों द्वारा किए गए हमले में घायल हुए पत्रकारों व पुलिसकर्मियों का हाल जानने फतेहाबाद पहुंचे थे।
उन्होंने 15 अगस्त,2017 को होने वाले प्रदेश स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह में घायल पत्रकारों को सम्मानित करवाने तथा अपनी तरफ से उन्हें प्रथम श्रेणी का प्रशंसा पत्र व 5,000 रुपये की राशि देने की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि घायल पत्रकारों और पुलिसकर्मियों के ईलाज का सारा खर्च प्रशासन द्वारा वहन किया जाएगा।
नागरिक अस्पताल फतेहाबाद में घायल पत्रकारों से बात करते हुए पुलिस महानिदेशक ने कहा कि दंगाइयों द्वारा तोड़े गए उनके कैमरे, मोबाइल फोन तथा लूटी गई नकदी की भरपाई भी प्रशासन द्वारा की जाएगी। उन्होंने कहा कि पत्रकार व पुलिस का चौली दामन का साथ है। दोनों को ही कठिन परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है और जिस बहादुरी से पत्रकारों व पुलिस के जवानों ने दंगाइयों का सामना किया, उसकी वे खुले मन से प्रशंसा करते हैं।

उन्होंने कहा कि पुलिस बल की तरफ से यदि सूझबूझ का परिचय न दिया गया होता तो कई लोगों की जान जा सकती थी। पुलिस महानिदेशक ने दंगे की स्थिति के दौरान पुलिस अधिकारियों, कर्मचारियों विशेषकर महिला पुलिसकर्मियों द्वारा दिखाए गए हौंसले की प्रशंसा करते हुए कहा कि उस परिस्थिति में जिस नीडरता व साहस का परिचय दिया गया, उसके लिए सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को सम्मानित किया जाएगा।

पुलिस महानिदेशक ने कहा कि पुलिस व पत्रकारों पर जान लेवा हमला करने वाले दंगाइयों की पहचान की जा रही है। पुलिस के पास वीडियो फुटेज भी उपलब्ध है, जिसमें इन असामाजिक तत्वों के चेहरे साफ दिखाई दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस के पास ऐसी सूचना थी कि फतेहाबाद सीमा से लगने वाले हिसार जिला के कुछ गांवों से असामाजिक तत्व हथियारों से लैश होकर ढाणी गोपाल चौक पर लगाए गए धरने में पहुंचेगे और स्थिति को बिगाडऩे का प्रयास करेंगे। इसी आधार पर पुलिस ने नाका लगाकर इन लोगों को रोकने की कोशिश की और कहा कि आप सभी यदि हथियार व पत्थर छोडक़र धरना स्थल पर जाना चाहे तो जा सकते हैं, लेकिन उनको यह मंजूर नहीं था और उन्होंने पुलिस बल पर ही हमला बोल दिया।
इससे पूर्व भूना रोड़ पर स्थित लोक निर्माण विश्राम गृह में पहुंचे पुलिस महानिदेशक श्री के.पी.सिंह को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। इस अवसर पर पुलिस महानिरीक्षक ए.एस. ढिल्लो, उपायुक्त एन.के. सोलंकी, पुलिस अधीक्षक श्री ओ.पी.नरवाल, एसडीएम श्री सतबीर जांगु सहित अन्य प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारीगण मौजूद थे।

Sunday, March 19, 2017

हरियाणा में हिंसक हुआ जाट आंदोलन, DSP समेत दर्जनों पुलिस कर्मी घायल

हरियाणा में हिंसक हुआ जाट आंदोलन, DSP समेत दर्जनों पुलिस कर्मी घायल

चंडीगढ़: आखिर वो सब शुरू हो गया जिसकी आशंका थी । फतेहाबाद में आज  दोपहर एक बजे के आसपास जाट आरक्षण समर्थक आंदोलनकारियों व पुलिस में झड़प हो गयी। जिसमें आंदोलनकारियों ने दो बसों में आग लगा दी। आंदोलनकारियों द्वारा किए गए पथराव में डीएसपी सहित दर्जनों पुलिसकर्मी घायल हो गए। पुलिस ने आंसू गैस का गोला छोड़कर आंदोलनकारियों को पीछे खदेड़ा। अभी मौके पर तनाव बरकरार है। घटना स्थल व आसपास के क्षेत्र में भारी पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है। 

जानकारी के अनुसार, यह घटना उस वक्त हुई जब फतेहाबाद में ढा़णी गोपाल गांव में चल रहे धरने में हिसार की तरफ से कुछ लोग शामिल होने के लिए आने लगे। इस पर खैरी रोड़ पर नहर के नजदीक नाकेबंदी कर खड़े पुलिस के जवानों ने आंदोलनकारियों के वाहनों को रोक दिया। पुलिस के जवानों ने आंदोलनकारियों को बताया कि धारा 144 लागू होने के कारण वह आगे नहीं जा सकते हैं। इसको लेकर दोनों की पक्ष आमने सामने आग गए। आक्रोशित आंदोलनकारियों ने पुलिस बल पर पथराव प्रारम्भ कर दिया। जिसे रोकने के लिए पुलिस के जवानों को लाठीचार्ज करना पड़ा। लेकिन आंदोलनकारी पीछे हटने को तैयार नहीं थे। 

इसके बाद आंदोलनकारियों ने वहां खड़ी दो बसों में आग लगा दी। इस पर पुलिस के जवानों ने आंदोलनकारियों पर आंसू गैस के गोले छोड़े जिसके बाद प्रदर्शनकारी पीछे हटे। आंदोलनकारियों द्वारा किए गए पथराव में डीएसपी गुरूदेव सिंह, इंस्पेक्टर विमला देवी, भूना एसएचओ कुलदीप सिंह सहित दर्जनों पुलिसकर्मी घायल हो गए। अभी भी मौके पर तनाव बरकरार है। मौके पर तनाव को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस के जवान तैनात किए गये है। पढ़ें अभी अभी मुख्यमंत्री ने क्या कहा 



हरियाणा वालों चैन से कहीं आओ, जाओ पुलिस आपको कोई परेशानी नहीं होने देगी, DGP KP Singh

हरियाणा वालों चैन से कहीं आओ, जाओ पुलिस आपको कोई परेशानी नहीं होने देगी, DGP KP Singh

Chandigarh 19 March 2017: हरियाणा सरकार और जाट समुदाय के नेताओं के बीच आज बातचीत चल रही है शायद कुछ देर बात बैठक का कोई नतीजा निकल आये । जाटों ने कल दिल्ली कूच करने का प्लान बना रखा है जिसे देखते हुए  प्रदेश की डीजीपी केपी सिंह ने कहा है कि हरियाणा की जनता किसी प्रकार की चिंता न करे हरियाणा पुलिस जनता को कोई परेशानी नहीं होने देगी । देखें वीडियो

Thursday, March 2, 2017

Mr इंडिया का खिताब जीतना चाहता है हरियाणा पुलिस का ये जवान, CP ने किया सम्मानित

Mr इंडिया का खिताब जीतना चाहता है हरियाणा पुलिस का ये जवान, CP ने किया सम्मानित

Faridabad 02 March 2017:  पुलिस आयुक्त डा0 हनीफ कुरैषी भा0पु0से0 ने राहुल यादव को सीनियर हरियाणा बाॅडी बिल्डिंग एंड फिटनेस एसोसिएषन की ओर से 25 फरवरी 2017 को जगाधरी में होने वाली 29वी सीनियर हरियाणा बाॅडी बिल्डिंग चैंपियनषिप में गोल्ड मैडल जीतकर, हरियाणा पुलिस का नाम रोषन करने पर अपने कार्यालय में बुलाकर सम्मानित किया और आगे भी फरीदाबाद व हरियाणा पुलिस का नाम रोषन करने के लिए प्रोत्साहित करते हुए निरंतर तरक्की के लिए अपनी षुभकामनाए दी।

आप को बताते चले कि 1985 में गुडगांवा षहर में जन्में राहुल यादव ने हरियाणा पुलिस में बतौर सिपाही के पद पर 2012 में ज्वाईन किया था। राहूल का पुलिस में भर्ती होने से पहले बाॅडी बिल्डिंग करने का षोक था पुलिस में भर्ती होने के बाद भी राहुल ने ओ.एस.आई राजेष बागडी के द्वारा प्रोत्साहित करने व प्रैक्टिस के लिए समय मिलने के कारण अपने षोक को जारी रखा।

डयूटी के अलावा जब भी समय मिलता राहूल अपनी प्रैक्टिस में लगा रहा है। 6 फिट 2 इंच लम्बे राहुल यादव ने इससे पहले बाॅडी बिल्डिंग की प्रतियोगिता में बहतरीन प्रदर्षन कर कई मैडल जीत चुका है। प्रदेष ही नही बल्कि देष के विभिन्न हिस्सो में आयोजित होने वाली प्रतियोगिता में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा चुके है। इस चैंपियनषिप में गोल्ड मैडल जीतकर राहुल ने मिस्टर हरियाणा का गौरव प्राप्त किया है।

राहुल का सपना अब मिस्टर इंडिया का खिताब जीतने का है उन्होने कहा कि वह बाॅडी बिल्डिंग में हरियाणा पुलिस का नाम और उंचाईयों पर पहुंचाना चाहते है। वह जीत का श्रेय अपने सीनियर अधिकारियों के साथ साथ एस.आई राजेष बागडी को श्रेय देता है। राहुल अब तक लगभग 300 प्रतियोगिता में हिस्सा ले चुका है।