Showing posts with label Rohtak News. Show all posts
Showing posts with label Rohtak News. Show all posts

Monday, July 31, 2017

तीन दिन में हरियाणा में 27 बैठकों को सम्बोधित करेंगे अमित शाह, उद्योग मंत्री

तीन दिन में हरियाणा में 27 बैठकों को सम्बोधित करेंगे अमित शाह, उद्योग मंत्री

रोहतक  31 जुलाई  भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के तीन दिवसीय दौरे के लिए हरियाणा सरकार और बीजेपी की तरफ से तैयारियां जोरों पर हैं। उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने सोमवार को हरियाणा पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ तिलयार कन्वेंशन हॉल में मीटिंग कर सुरक्षा के साथ उनके दौरे से जुड़ी सभी व्यवस्थाओं का जायजा लिया। साथ ही उन्होने अमित शाह के स्वागत के लिए कार्यकर्ताओं के साथ भी बैठक की। अमित शाह 2 जुलाई से 4 जुलाई तक तीन दिन तक हरियाणा के दौरे पर रहेंगे और इस दौरान करीब 27 बैठकों में शिरकत करेंगे। दिल्ली से आते हुए बहादुरगढ़ में स्वागत के साथ रोहतक में अमित शाह का रोड शो भी होगा। इस दौरान अमित शाह पार्टी और सरकार के कार्यों की समीक्षा और भविष्य के लिए दिशा निर्देश देने का भी कार्य करेंगे। अमित शाह के दौरे को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं में काफी उत्साह देखा जा रहा है। 

उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष का दौरा सरकार और पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए काफी अहम है। उन्होने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सरकार को इस दौरे के लिए जो गाइडलाइंस दी हैं उसके अनुसार पुख्ता सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं और थ्री डी सुरक्षा का इंतजाम किया गया है जिसमें सादी वर्दी में पुलिसकर्मियों की नियुक्ति के साथ हरियाणा पुलिस का खास कंमाडो दस्ता भी तैनात रहेगा। विपुल गोयल ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष का दौरा सरकार ,पार्टी और हरियाणा के नागरिकों के लिए हर्ष का विषय है और प्रदेश की जनता उनका स्वागत करने को तैयार है। 
उद्योग मंत्री ने कहा कि उनके दौरे से सरकार को जनहित के कार्यों के लिए एक नई ऊर्जा मिलेगी तो वहीं संगठन को भी मजबूती मिलेगी। उन्होने कहा कि पार्टी संगठन किसी भी पार्टी और सरकार के लिए सबसे अहम होता है,इसीलिए पार्टी अध्यक्ष की संगठन स्तर पर ज्यादा बैठकें रखी गई हैं। विपुल गोयल के साथ हरियाणा सरकार में मंत्री और स्थानीय विधायक मनीष ग्रोवर और वरिष्ठ बीजेपी नेता संजय भाटिया भी मौजूद रहे। 

Saturday, July 29, 2017

तीन वर्षों में  विकास को पटरी से उतर गया रोहतक, दीपेन्द्र हुड्डा

तीन वर्षों में विकास को पटरी से उतर गया रोहतक, दीपेन्द्र हुड्डा

Rohtak-MP-Deepender-Hooda-Attack-BJP
अनूप कुमार सैनी: रोहतक, 29 जुलाई। सांसद दीपेन्द्र हुड्डा आज अनेक सामाजिक कार्यक्रमों में शिरकत करने पहुंचे। उन्होंने झंग कालोनी और मानसरोवर पार्क कालोनी में आयोजित कई चाय कार्यक्रमों में शिरकत की, जहाँ बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों ने उनका भव्य स्वागत किया। लोगों के इस अपनेपन और जोशीले स्वागत के लिये सांसद ने सभी का आभार जताया। इसके बाद वे खिडवाली पहुंचे जहाँ थाईलैंड रेसलिंग चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने कर हरियाणा का मान बढ़ाने वाले पहलवान मोहित को उन्होंने सम्मानित किया।

     सांसद ने कहा कि केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार ने पिछले तीन साल में रोहतक के विकास तो पटरी से उतार दिया। पूर्ववर्ती हुड्डा सरकार के कार्यकाल में शुरू किये गये अनगिनत विकास कार्य ठप पड़े हैं और मौजूदा सरकार इन मंजूरशुदा परियोजनाओं को तरह तरह के बहाने बनाकर हर हाल में बंद कराने पर तुली है। राजनीतिक भेदभाव के चलते प्रदेश से 15-20 हज़ार करोड़ की लागत वाली अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे जैसी बड़ी परियोजनायें दूसरे प्रदेशों में स्थानातरित हो गई।

          रोहतक महम हांसी रेलवे लाइन जैसी जनहित की परियोजनाओं पर तीन साल में एक ईंट जोड़ने का काम भी नहीं हुआ है। प्रदेश की भाजपा सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी है और युवाओं की रोज़गार संभावनाओं पर पानी फेरने का काम कर रही है। सांसद ने कहा कि भाजपा की मौजूदा प्रदेश सरकार हरियाणा के हितों की वकालत करने में हर मोर्चे पर पूरी तरह से नाकाम साबित हुई है।
        दीपेन्द्र ने बताया कि इलाके के विकास को पटरी से उतारने के खिलाफ सरकार को चेतावनी देने लिये आगामी 1 अगस्त को नयी अनाज मंडी हांसी में धरना प्रदर्शन किया जाएगा।

Friday, July 21, 2017

 पीजीआई रोहतक में डॉक्टर को थप्पड़ मारा, दो घंटे हंगामा, 2 गिरफ्तार

पीजीआई रोहतक में डॉक्टर को थप्पड़ मारा, दो घंटे हंगामा, 2 गिरफ्तार

अनूप कुमार सैनी: रोहतक: पीजीआई रोहतक में मरीजों एवं डाक्टरों के बीच मारपीट होने की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। ऐसी ही एक घटना पीजीआई की इमरजेंसी में बुधवार रात साढ़े 9 हो गई। जिला झज्जर के गांव भदानी से इलाज कराने आए मरीज के परिजनों ने डाक्टरों पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए एक डॉक्टर को थप्पड़ रसीद कर दिया। इससे इमरजेंसी में करीब दो घंटे हंगामा होता रहा। इस दौरान दोनों पक्षों के बीच हाथापाई भी हुई। 
मारपीट के विरोध में विभाग के दूसरे जूनियर डॉक्टर भी काम छोडक़र वहां आ गए। सुरक्षा कर्मचारियों को बुला कर डॉक्टरों ने मारपीट करने वाले को हालांकि पुलिस के हवाले कर दिया लेकिन गुस्साए डॉक्टरों ने घटना से नाराज होकर हड़ताल की तैयारी कर ली। वहीं पुलिस का कहना है कि आरोपी नीरज, जौनी व सत्यपाल के खिलाफ केस दर्ज कर आरोपी सत्यपाल व जौनी को गिरफ्तार कर लिया है। 
झज्जर के गांव भदानी निवासी नीरज का बुधवार की देर शाम एक्सीडेंट हो गया था। बुधवार देर रात झज्जर जिले के गांव भदानी निवासी सतपाल और उसका बेटा जॉनी, नीरज को इलाज कराने के लिए झज्जर अस्पताल से रैफर होकर पीजीआई की इमरजेंसी लाए थे। ये मरीज एक सडक़ हादसे में घायल हो गए थे। पीजीआई की इमरजेंसी में ओ.टी. के बाहर डॉक्टर का इंतजार कर रहे मरीज उसके सहायकों ने स्टाफ से जल्दी इलाज करने की अपील की।
मरीज के परिजनों का आरोप है कि डॉक्टर ने उनके साथ बदतमीजी की और उपचार भी नहीं कर रहे थे, जिसके बाद मारपीट हो गई। मारपीट के बाद डाक्टरों ने मरीज का इलाज करने से साफ इंकार कर दिया। विरोध के बीच आरोपी पक्ष घायल को निजी अस्पताल में ले गया। इस दौरान सर्जरी विभाग के तीनों पीजी स्टूडेंट ओटी में सडक़ हादसे में घायल मरीजों को संभाल रहे थे। 
डाक्टरों ने बताया कि डॉ. दीपांशु सांपला से आए मरीज शत्रुघन को सांस लेने में तकलीफ के चलते गले में पाइप लगा कर ओटी से बाहर रहे थे। आरोप है कि डॉ. दीपांशु के ओटी से बाहर आते ही मरीज के साथ आए एक व्यक्ति सतपाल ने उसे थप्पड़ जड़ दिया। मरीजों ने भी डॉक्टर के साथ गली गलौज की। इसके बाद गार्ड दौड़ कर इमरजेंसी में पहुंचे और डॉक्टर को बचाया। गार्ड ने सतपाल और उसके बेटे जॉनी को पकड़ लिया और पुलिस को सूचना दी। इसके बाद वहां हंगामा खड़ा हो गया। दूसरे डॉक्टरों के वहां आने से कुछ समय के लिए मरीजों का इलाज भी बाधित हो गया। 
रेजीडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. जंगबीर ग्रेवाल, महासचिव डा. अनूप अग्रवाल ने बताया कि डॉक्टरों से बार-बार मारपीट हो रही है, इसे किसी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। घटना को लेकर डॉक्टरों में रोष है। उन्होंने आरोप लगाया कि मरीज और उनके सहायक पहले से ही शराब के नशे में थे। इस मामले में देर रात करीब 3 बजे बैठक कर हड़ताल पर जाने का फैसला लिया गया। यह हड़ताल साढ़े 11 बजे तक जारी रही। 
डॉ. जंगबीर ग्रेवाल ने बताया कि पुलिस ने मरीज व अन्य सहायकों के खिलाफ मामूली धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था। जिस कारण डाक्टरों में तीव्र रोष था। यही कारण था कि उन्होंने रात्रि 3 बजे ही हड़ताल करने का फैसला कर लिया था। इसके बाद रेजीडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों की पीजीआई के कुलपति डा. ओ.पी. कालरा, मेडिकल सुपरिटैंडेंट डा. अशोक चौहान से मुलाकात हुई थी। वे पीजीआई पुलिस थाना के प्रभारी राकेश सैनी से भी मिले थे औन उनकी मांगों के अनुसार पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था। पीजीआई प्रशासन ने भी भविष्य में उनकी सुरक्षा का भरोसा दिलाया है। इस कारण रेजीडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन ने अपनी हड़ताल वापिस लेने का ऐलान कर दिया था।
सीनियर्स डॉक्टरों ने आकर हड़ताल पर जाने से रोका 
सूचना मिलने पर डीएमएस डॉ. संदीप वहां पहुंचे। उन्होंने डॉक्टरों को हड़ताल पर जाने से रोकते हुए तुरंत कार्रवाई करवाई। सीएमओ डॉ. दिनेश, डॉ. बी.एस. सैनी डॉ. विनीत ने थाने में शिकायत दी। पुलिस का कहना है कि आरोपी नीरज, जोनी सत्यपाल के खिलाफ केस दर्ज कर आरोपी सत्यपाल को गिरफ्तार कर लिया है। चिकित्सा अधीक्षक डॉ. अशोक चौहान ने भी स्थिति का जायजा लिया। 
इधर एसएचओ राकेश सैनी ने बताया कि डॉक्टर दीपांशू की तरफ से शिकायत आई है। जांच की जा रही है। सतपाल और जॉनी से भी पूछताछ की जा रही है।

दूसरे पक्ष ने मरीज महिला से अभद्रता का लगाया आरोप 
भदानी निवासी अमित का आरोप है कि उसके भाई नीरज जोनी को पीजीआई में इलाज के लिए लाए थे। यहां डॉक्टर ने पहले इलाज में देरी की। बाद में मरीज मेरी मां से भी अभद्रता की। बाद में मरीज को इलाज के लिए चक्कर लगवाते रहे। पहले उसे 3 नम्बर में ले जाने को कहा। वहां गए तो उसे ओ.टी. में ले जाने से रोक दिया। इस बारे में टोका तो डॉक्टरों ने तीखे लहजे में बात करते हुए इलाज से इनकार कर दिया। 
माहौल से डरकर अब हम मरीज को निजी अस्पताल ले जा रहे हैं। मरीज नीरज के चाचा सुखबीर ने कहा कि मरीज को इलाज के लिए 3 नम्बर में ले गए तो डॉक्टरों ने सुनवाई नहीं की। यहां कई डॉक्टर गए और हमें धमकाने लगे। मोबाइल पर रिकॉर्डिंग करने लगा तो मेरा मोबाइल छीनने का प्रयास किया। बड़ी मुश्किल से मरीज को वहां से निकाल कर लाए।

Wednesday, July 19, 2017

हटाये गये संसदीय सचिवों की विधायक की सदस्यता रदद करने की मांग

हटाये गये संसदीय सचिवों की विधायक की सदस्यता रदद करने की मांग

रोहतक, 19 जुलाई। अनूप सैनी : आज रोहतक में आम आदमी पार्टी हरियाणा प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद ने प्रेसवार्ता में हाई कोर्ट द्वारा हटाए गए संसदीय सचिवों की विधायकी सदस्यता रदद करने की मांग की। जयहिंद ने कहा कि दिल्ली में विधायको को न तो कोई सुरक्षा दी गई थी न ही किसी प्रकार की मंत्री पद,न ही कोई सुविधाए दी गई थी जबकि हरियाणा में इन सभी को लाल बत्ती व मंत्री को मिलने वाली सभी प्रकार की सुख–सुविधाएं दी गई।
         नवीन जयहिंद ने इनकी नियुक्ति को असंवैधानिक बताते हुए राष्ट्रपति को इनकी विधायकी सदस्यता को रदद् करने के लिए पत्र लिखा, जिसमें उन्होंने ऑफिस ऑफ़ प्रॉफिट का जिक्र करते हुए 2015 कलकता हाई कोर्ट और 2009 गोवा हाई कोर्ट के फैसले का भी जिक्र किया जिसमे न केवल संसदीय सचिवो को हटाया गया बल्कि उनकी विधायकी सदस्यता भी रदद की गई थी।

उन्होंने कहा कि खट्टर सरकार जनता का पैसा विकास कार्यो में खर्च न करके अपनी जेब भर रही है।
      नवीन जयहिंद ने हाल ही में खट्टर सरकार द्वारा बढ़ाई गई बिजली की दरो पर भी पलटवार करते हुए कहा कि दिल्ली में जबसे आम आदमी पार्टी की सरकार बनी, तबसे जनता पर न तो कोई फ़ालतू का टैक्स लगाया है और न ही बिजली दरों में बढ़ोतरी हुई है बल्कि बिजली का आधा रेट किया है और हरियाणा में बिजली की दरें दिल्ली से  डेढ़ से ढाई गुना ज्यादा हैं।
  जयहिंद ने कहा कि जनता पहले की महंगाई की मार झेल रही है गांव में तो पंचायत सेस के नाम पर एक और टैक्स लगा मुश्किलें बढ़ा दी है, जिससे साबित होता है कि भाजपा का रवैया जनहित में ठीक नहीं है। इस मौके प्रदेश प्रवक्ता डाक्टर ओमनारायण, युवा जिला अध्यक्ष एडवोकेट महाराजसिंह व अन्य कार्यकर्त्ता मौजूद थे।

Tuesday, July 4, 2017

अनशन के 33वें दिन संत गोपाल दास ने खट्टर को याद दिलाया भाजपा का वादा

अनशन के 33वें दिन संत गोपाल दास ने खट्टर को याद दिलाया भाजपा का वादा

हर्षित सैनी: रोहतक, 4 जुलाई। गौचरान भूमि को मुक्त करवाने के लिए 33 दिनों से अनशन पर बैठे संत गोपाल दास ने राज्य सरकार को सत्ता में आने से पहले किये गये 10 वायदों की याद दिलवाकर उन पर कार्यवाही करने की मांग की है। संत गोपाल दास ने कहा कि जो सरकार गौ संरक्षण का वादा करके सरकार में आई थी वो अब अपने किये हुए वायदों से दूर भाग रही है।

संत ने भाजपा ने नारा दिया था कि ‘भाजपा का सन्देश, बचेगी गाय-बचेगा देश’ पर पूछा कि क्या इस गौभक्त भाजपा सरकार ने कोई कानून बनाकर गौहत्या का कलंक भारत की भूमि से समाप्त कर दिया है ? सन 2014 में बीफ एक्सपोर्ट में भारत देश-दुनिया में दूसरे स्थान पर था। लेकिन आज इस तथाकथित गौ भगत सरकार के कारनामे से भारत दुनिया भर में बीफ एक्सपोर्ट में पहले स्थान पर पहुंच गया है।

वहीं सरकार का वायदा था कि देशी गौवंश का संरक्षण एवं संवर्धन किया जायेगा। जबकि हकीकत यह है कि 2600 करोड़ रूपये का विदेशी नसल के सांडों का ब्रुसोलीस से संक्रमित वीर्य आयात करके उल्टे हमारी देशी गौवंश की नस्ल को खराब करने का काम किया है। क्या इसी तरह सरकार हमारी देशी गौवंश का संरक्षण एवं संवर्धन करेगी ?
भाजपा का वायदा था कि सरकार बनने पर कत्लखानों को पूर्ण रूप से बन्द किया जायेगा। लेकिन क्या गाय माता को ये पहचान है कि जिस कत्लखाने में तेरा वध किया जा रहा है वह लाईसैंसशुदा है या गैर लाईसेन्सशुदा है। केवल 29 अवैध बूचडख़ाने बन्द करके क्या सरकार ने गऊ माता की जान बचा दी है ?
वहीं भाजपा का वायदा था कि कत्लखानों पर सरकारी अनुदान बन्द किया जायेगा। लेकिन पिछली यूपीए सरकार में कत्लखानों की मशीनरी आयात करने पर 10 प्रतिशत आयात शुल्क लगता था, जिसको घटाकर आधुनिक गौभक्त मोदी सरकार ने 6 प्रतिशत कर दिया है। क्या इससे गौवंश का संरक्षण हो गया या गौवध को बढ़ावा मिला ?
भाजपा का नारा है कि दुग्ध उत्पादन में दुनिया भर में भारत को प्रथम स्थान पर लाना। गुलाबी क्रांति को बंद करके देश में दूध की नदियां बहायेंगे। लेकिन सन 1951 के सर्वेक्षण अनुसार एक हजार व्यक्तियों पर 430 गौवंश था जो घटकर सन 2001 में मात्र 110 रह गया है। क्या आजादी के बाद उपलब्ध गौवंश की तुलना में आज हम अपना तीन-चौथाई गौवंश कत्लखानों की भेंट चढ़ा चुके हैं ? इस तरह क्या हम दुग्ध उत्पादन में 20 प्रतिशत गौवंश के साथ प्रथम स्थान पा सकेंगे ? विदेशों से आयातित एक्सपायरी डेट के मिल्क पाऊडर जो विदेशी नस्ल की संक्रमित गायों का उत्पाद है। इस तरह के दूध को भारत सरकार दूध उत्पादन में गिनकर भारत को नम्बर एक पर लाना चाहती है। केन्द्रीय एजेन्सी एपीडीए के अनुसार 88 प्रतिशत दूध मिलावटी है जो जानलेवा रसायनों व मिल्क पाऊडरों से तैयार किया जाता है।

भाजपा ने वायदा किया था कि देश में उपलब्ध गौचरण भूमि को गौवंश को सुपुर्द व समर्पित किया जायेगा। लेकिन हमारे देश में 3 करोड़ 32 लाख 50 हजार एकड़ गौचराण भूमि है। आज की आधुनिक गौभगत मोदी सरकार के तीन साल पूरे होने के बाद सन 2017 में माननीय सर्वोच्च न्यायालय के अहम फैसले की अवमानना करके एक ही बार दो साल के लिये सन 2019 तक पट्टे पर दे चुकी है जो गौचरण जमीन हमारे पूजनीय गौवंश की जीवन रेखा है को समाप्त करके देश में गुलाबी क्रांति के ठेकेदारों के कत्लखानों के लिये एक तरह से कच्चा माल गौवंश उपलब्ध करा रही है क्योंकि आधुनिक परम पूजनीय श्री श्री 1008 अमित शाह जी ने मीट एक्सपोर्ट लॉबी से 300 करोड़ रूपये चुनावी चन्दा जो लिया है।  उसके बदले में गौचरण जमीन को समाप्त करने का ठेका अमित शाह जी ने लिया है।
सरकार का दावा है कि गौ संरक्षण एवं संवर्धन के लिये गौ अभ्यरणों का निर्माण करना एवं इसके लिये बजट उपलब्ध कराया जा रहा है। जबकि आज 2017 तक आधुनिक गौभगत सरकार पूरे देश में एक भी गौ अभ्यरण नहीं बनवा पाई है और बजट के रूप में हरियाणा सरकार की करतूत देखिये एक बजट वर्ष में गैया-मैया के लिये मात्र तीन करोड़ रूपये और कुत्तों की नसबन्दी के लिये एक साल में 30 करोड़ रूपये का बजट उपलब्ध कराती है। हरियाणा गौसेवा आयोग ने जितना बजट गऊ के लिये दिया है उससे कहीं ज्यादा अपने वेतन व भत्तों पर खर्च किया है। क्या इसी रूप में सरकार गौ संरक्षण एवं संवर्धन तथा गौ अभ्यरणों के लिये कार्य करेगी।
सरकार ने दावा किया था कि गौ संरक्षण एवं संवर्धन के लिये बनाये गये कानूनों का सख्ताई से पालन किया जायेगा। वहीं हरियाणा सरकार के गौसेवा आयोग ने जो काऊ टास्क फोर्स का गठन किया है। उसमें जिलेवार एक इंस्पेक्टर और एक हवलदार कुल दो आदमी बगैर गाड़ी, बगैर हथियार क्या गौवंश की रक्षा कर पायेंगे ? गौसेवा आयोग द्वारा मेवात में जो ‘बिरयानी’ के सैम्पल लिये थे वे सैम्पल परीक्षण के दौरान ला. लाजपत राय पशु विज्ञान विश्वविद्यालय हिसार द्वारा गौवंश मांस के पाये गये, जिन पर हरियाणा सरकार ने अब तक एफआईआर दर्ज करने की हिम्मत नहीं जुटा पाई है। क्या हम गौभगत इसकी एफआईआर केरल राज्य में जाकर दर्ज करायें ?
भाजपा ने वादा किया था कि गौभगतों पर दर्ज 450 मुकदमें शपथ ग्रहण करते ही एक मिनट में वापिस लेगी। जोकि पूर्व की हुड्डा सरकार के समय में दर्ज हुये थे तथा गौ भगतों को पूरा मान-सम्मान दिया जायेगा। लेकिन आज तक आदरणीय मुख्यमंत्री खट्टर साहब ने एक भी मुकदमा वापिस नहीं लिया है। गौरक्षा करते हुये हमारे नौ साथी शहीद हो चुके हैं जो गोरक्षक बगैर सरकारी वेतन पाये अपनी जान की बाजी लगाकर गौरक्षा कर रहे हैं। उनको परम आदरणीय मोदी जी 80 प्रतिशत असली गौरक्षकों को गुण्डा बता रहे हैं। ये सम्मान की पदवी गौभगतों को प्रधानमंत्री जी ने दी है। हम सभी गौ भगत अपने शहीद गौ भगत साथियों को सेना में शहीद सैनिकों वाला शहीद का दर्जा देने की मांग करते हैं।
वहीं अंत में सरकार का वायदा था कि गऊ माता को विशिष्ट प्राणी का दर्जा दिया जायेगा। लेकिन हरियाणा में हमारा राजकीय पशु नील गाय है। क्या राज्य व केन्द्रीय सरकार ने गऊ माता को राज्य एवं केन्द्र में विशिष्ट प्राणी का दर्जा प्रदान किया है ?
गौ भगत जितेन्द्र मलिक ने कहा कि उपरोक्त हालातों में गऊ माता की दुदर्शा को देखते हुये अपनी अन्तर आत्मा से हमारे संत गोपाल दास व गौ भगत मानसरोवर पार्क में 2 जून से अनशन व सत्याग्रह पर हैं। जब तक उपरोक्त वायदे व मांगे खाली घोषणा ही नहीं बल्कि लागू नहीं कर दी जाती हमारे संत जी का आमरण अनशन अनवरत जारी रहेगा। अगर इस दौरान उन्हें कुछ हो जाता है तो इसकी पूरी जिम्मेदारी सरकार की होगी।

Saturday, July 1, 2017

निदेशक ने दिए आदेश शिक्षा विभाग में ही होगा लिपिकों का टाईप टैस्ट

निदेशक ने दिए आदेश शिक्षा विभाग में ही होगा लिपिकों का टाईप टैस्ट

रोहतक 1 जुलाई। हर्षित सैनी: स्थानीय मिनि सचिवालय स्थित जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में जिला शिक्षा अधिकारी सुनीता रूहिल के साथ हरियाणा एजुकेशन मिनिस्ट्रीयल स्टाफ एसोसिएशन हेमसा संबंधित सर्व कर्मचारी संघ की टाईपिंग टैस्ट मामले को लेकर राज्य प्रधान संदीप सांगवान की अध्यक्षता में बैठक सम्पन्न हुई। जिसमें टाईपिंग टैस्ट मामले को लेकर विस्तृत चर्चा की गई।
     हेमसा की राज्य उप प्रधान शर्मिला देवी ने जानकारी देते हुए बताया कि निदेशक स्कूल शिक्षा हरियाणा के आदेश है कि हर तीन माह के बाद लिपिक वर्गीय कर्मचारियों का टाईप टैस्ट लिया जाना अनिवार्य है, लेकिन शिक्षा विभाग के आला अधिकारियों ने 5 वर्ष के दौरान केवल 4 बार ही टाईप टैस्ट लिया है। जिसकों लेकर शिक्षा विभाग के कर्मचारियों में रोष बना हुआ है। 

              गौरतलब है कि लिपिक वर्गीय कर्मचारियों को वार्षिक वेतन वृद्धि का लाभ टाईप टैस्ट पास करने के उपरांत ही लगता है। शिक्षा विभाग में लगभग 32 लिपिक वर्गीय कर्मचारी वर्षों से वेतन वृद्धि का इंतजार कर रहे हैं। निदेशक ने पुन: आदेश जारी करते हुए जिला शिक्षा अधिकारी को लिखा है कि हर तीन माह में लिपिकों का टाईप टैस्ट शिक्षा विभाग में ही लिया जाए ताकि समय रहते लिपिक वर्गीय कर्मचारियों को वेतन वृद्धि का लाभ मिल सके। टाईपिंग टैस्ट से वंचित लिपिक  वर्गीय कर्मचारियों को प्रति माह 2500-3000 रूपए का आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है। 
      शर्मिला देवी ने जिला शिक्षा अधिकारी के सामने टाईपिंग टैस्ट मामले पर चर्चा करते हुए लिपिक वर्गीय कर्मचारियों का पक्ष रखते हुए कहा कि जुलाई माह में सभी कर्मचारियों का वार्षिक वेतनवृद्धि लगता है। इसलिए शिक्षा विभाग के लिपिक वर्गीय कर्मचारियों का इसी जुलाई माह में टाईपिंग टैस्ट लिया जाए ताकि वर्षों से बाट  ज्योह रहे लिपिकों को राहत की सास मिले तथा वार्षिक वेतनवृद्धि का फायदा हो सके ताकि शिक्षा विभाग का कार्य निरंतर आगे बढ़े। जिला शिक्षा अधिकारी ने प्रतिनिधिमण्डल से वार्तालाप के दौरान ही आश्वासन दिया कि जुलाई माह में ही लिपिकों का टाईप टैस्ट लिया जाएगा।
खट्टर की आँख की किरकिरी बने हरियाणा के दो संत

खट्टर की आँख की किरकिरी बने हरियाणा के दो संत

चंडीगढ़/ फरीदाबाद/ रोहतक: अनूप कुमार सैनी:  हरियाणा में दो संत खट्टर सरकार की आंख की किरकरी बने हुए हैं। एक ओर फरीदाबाद नगर निगम गेट पर 46 दिन से सत्याग्रह और 6  दिन से आमरण अनशन कर रहे बाबा रामकेवल ने जीभ में सूआं डाल कर मौन व्रत धारण कर सरकार के लिए मुसीबत बने बैठे हैं। बाबा रामकेवल ने कहा कि सरकार बहरी हो गई है। एक तरफ सरकार भ्रष्टाचार को खत्म करने का दम भर रही है, वहीं दूसरी ओर सरकार को हमारी आवाज सुनाई नहीं दे रही है, इसलिए वह मौन व्रत कर रहे हैं। फरीदाबाद नगर निगम में करोड़ों के घोटाले हुए हैं। भ्रष्टाचार पूरी तरह से फैला हुआ है। उनके शहर के लोगों की खून पसीने की कमाई को निगम अधिकारी लूट रहे हैं। उनकी बस इतनी सी मांग है कि इन अधिकारियों के घोटालों की जांच करवाई जाए। इसी मांग को लेकर बाबा सत्याग्रह पर बैठे हुए थे और अब अनशन के दौरान ही मौन व्रत धारण कर लिया है। बाबा ने चेतावनी देते हुए कहा है कि उनकी जीभ से ये सुआ तब तक नहीं निकलेगा, जब भ्रष्टाचारियों की जांच नहीं करवाई जाती। पता नहीं क्यों निगमायुक्त और सरकार जांच नहीं करवाना चाहती।

          वहीं दूसरी ओर रोहतक में पिछले 29 दिनों से गोचर विकास बोर्ड के गठन की मांग को लेकर रोहतक में अनशनरत संत गोपालदास ने भाजपा सरकार को जगाने के लिए कड़ा कदम उठाते हुए आज देर सांय बाबा अम्बेडकर चौक पर ईसाई समुदाय के भगवान ईसा मसीह की भांति अपने आपको क्रास पर अपने आपको बांध कर खड़े हो गए। उन्होंने बाबा साहेब अम्बेडकर की पुस्तक को पेट पर बांध और मुंह पर काला कड़ा लपेट कर सरकार के लचीले रवैए पर अपना कड़ा विरोध जताया। उन्होंने भगवान ईसा मसीह की तरह ही अपने हाथों व पैरों को क्रास पर बांध रखा था। इधर अनशनकारी संत गोपालदास के समर्थक भी हाथों में मामबत्तियां लेकर और मुंह पर काली पट्टी बांध कर खड़े हो गए।
         जैसे ही इसकी भनक प्रशासन को लगी, प्रशासनिक एवं प्रलिस अधिकारियों की सांसे फूल गई। मौके पर तुरन्त डीएसपी ताहिर हुसैन भारी संख्या में पुलिस बल के साथ पहुंच गया। बाद में रोहतक के एसडीएम भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने अनशनरत संत गोपालदास के समर्थकों को वहां से हटाने और मनाने की भरपूर कोशिश की लेकिन वे उन्हें नहीं मना पाए। अन्तत: करीब 2 घण्टे के बाद प्रशासन की मान मनौव्वल के बाद संत गोपाल दास को क्रास पर से नीचे उतारा गया। तब जाकर प्रशासन ने राहत की सांस ली। बाद में संत गोपाल दास अपने समर्थकों के साथ अनशन स्थल मानसरोवर पार्क की ओर रवाना हो गए।

        इससे पहले पत्रकारों से बात करते हुए अनशनरत संत गोपालदास ने कहा कि मोदी सरकार गऊओं की रक्षा करने का वायदा करके सत्ता में आई थी लेकिन अब वह अपने वायदे से पीछे हट गई है। अगर मोदी गाय की पवित्रता के बारे में नहीं जानते तो चुनाव घोषणा पत्र में भाजपा ने इसे शामिल क्यों किया था। गाय चारा की बजाए पोलीथीन खा कर मर रही हैं। भाजपा सरकार गायों की चारागाहों को खत्म करने का काम कर रही है। 
         संत गोपालदास का कहना था कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तो संविधान के रचियता बाबा साहेब अम्बेडकर की मान्यताओं को तार-तार किया जा रहा है। राष्ट्रपति पद के अपने प्रत्याशी को जिताने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दलित की ब्रांडि़ंग कर रहे हैं। जब दलित का संविधान में कोई प्रावधान नहीं है तो इससे जनता समझ सकती है कि भाजपा सरकार की कथनी और करनी में कितना फर्क है। उनका कहना था कि अगर भारत में लोकतांत्रिक स्वरूप नहीं है तो इसे तानाशाह राष्ट्र घोषित कर देना चाहिए।

      उन्होंने आरोप लगाया कि हरियाणा गोसेवा आयोग भ्रष्टाचार का अड्डा बन गया है। सारे फसाद की जड़ यही है, जिसकी निष्क्रियता से बेसहारा गोवंश दर-दर भटक रहा है। गोभक्त गोमाता की उपेक्षा बर्दाश्त नहीं करेंगे। तीन वर्ष के कार्यकाल में सरकार व गोसेवा आयोग ने गोवंश के लिए कुछ भी नहीं किया। इन दोनों के खिलाफ प्रदेश स्तर पर आंदोलन चलाया जाएगा।
        अनशनकारी संत गोपालदास ने बताया कि उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से इच्छा मृत्यु की मांग की है ताकि वे तिल-तिल मरने की बजाए एक बार ही मौत को गले लगा सकें क्योंकि हरियाणा की खट्टर सरकार उनकी मांगों को कोई तवज्जों नहीं दे रही है। वे पिछले 30 दिनों से अनशन पर बैठे हैं लेकिन उनकी मांगों को सरकार के ही नुमाईदे तारपीडो कर रहे हैं। 
ऊपर एक वीडियो कर देर रात्रि का है जब हरियाणा अब तक ने बाबा रामकेवल के आमरण अनशन स्थल का निरीक्षण किया तो वहाँ पहुँचते ही बाबा नींद से जाग गए और एक कागज़ पर लिखकर उन्होंने सवाल किया कि भ्रष्टाचार पर स्थानीय नेता क्यू खामोश हैं क्या चोर चोर मौसेरे भाई हैं सभी, उन्होंने इशारा किया कि दान की बछिया के दांत गिनने वाले ज्यादा दिन तक सत्ता में नहीं रहेंगे | उन्होंने इशारा किया कि ऐसे रहा तो सरकार बदल देगी जनता | 

Wednesday, June 14, 2017

BREAKING: कोर्ट का आदेश, बाबा रामदेव को तुरंत गिरफ्तार किया जाए

BREAKING: कोर्ट का आदेश, बाबा रामदेव को तुरंत गिरफ्तार किया जाए

हर्षित सैनी, रोहतक। स्‍थानीय अदालत ने योगगुरु स्‍वामी रामदेव के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया है। अदालत ने राेहतक के एसपी को निर्देश दिया है कि स्‍वामी रामदेव को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया जाए। स्‍वामी रामदेव के खिलाफ यह वारंट भड़काऊ भाषण देने के मामले में जारी किया गया है। वे कई बार निर्देश के बाद भी अदालत में पेश नहीं हुए थे।

       कांग्रेस के पूर्व मंत्री सुभाष बत्रा ने स्‍वामी रामदेव के खिलाफ पर भड़काऊ भाषण देने का केस दर्ज कराने के लिए अदालत में याचिका दायर की थी। इस मामले में अदालत ने उनको कई बाद अदालत में पेश होने को कहा था लेकिन वह पेश नहीं हुए। पिछली तारीख पर केवल पेश होने का वारंट जारी किया गया था।
      बुधवार को इस मामले पर हरीश गोयल की अदालत में सुनवाई शुरू हुई। आज भी जब स्‍वामी रामदेव पेश नहीं हुए तो अदालत ने इस पर कड़ा संज्ञान लिया आैर स्‍वामी रामदेव के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया। अदालत ने रोहतक के एसपी को निर्देश दिया कि स्‍वामी रामदेव को गिरफ्तार कर अदालत में पेश करें।
यह है मामला

जाट आरक्षण आंदोलन में हिंसा के बाद रोहतक में सद्भावना सम्मेलन हुआ था। इसमें भाग लेने स्‍वामी रामदेव भी पहुंचे थे। आरोप है कि सम्‍मेलन में उन्‍होंने भड़काऊ भाषण दिया। कांग्रेेस के पूर्व मंत्री सुभाष बत्रा ने इस संबंध में स्‍वामी रामदेव के खिलाफ मामला दजे कराने के लिए अदालत मेें याचिका दी।
        बत्रा ने आरोप लगाया कि सम्‍मेलन में अपने भाषण में स्‍वामी रामदेव ने कहा कि यदि उनके हाथ कानून से बंधे नहीं होते तो भारत माता की जय नहीं बोलने वाले लोगों के सिर कलम कर देते। पूर्व मंत्री बत्रा ने इसके लिए स्‍वामी रामदेव के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की मांग की थी।

Thursday, June 1, 2017

 हरियाणा में हाहाकार, फेल हुई खट्टर सरकार, भूपेंद्र सिंह हुड्डा

हरियाणा में हाहाकार, फेल हुई खट्टर सरकार, भूपेंद्र सिंह हुड्डा

चंडीगढ़ 01 जून : पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र  सिंह हुड्डा ने कहा कि सीबीआई और ईडी ने प्लांट आंवटन मामले में जो पूछा उसी का जबाव दिया। हुड्डा ने बताया कि 8 घंटे तक अधिकारी सवाल करते रहे और वह जवाब देते रहे। उन्होंने कोई ऐसा गलत काम नहीं किया, जिससे किसी का डर हो। जांच में दूध का दूध और पानी का पानी होगा। प्रदेश में भाजपा सरकार को जनता से कोई लेना देना नहीं है। बिजली पानी को लेकर चारों तरफ हाहाकार मचा हुआ है, लेकिन कोई सुध लेने वाला नहीं है। प्रदेश में ऐसा माहौल है कि सरकार नाम की कोई चीज नहीं है।

पूर्व सीएम ने कानून व्यवस्था पर भी सवाल उठाए और कहा कि रेवाड़ी में छात्राएं स्कूलों के अपग्रेडेशन के लिए नहीं बल्कि असुरक्षा के माहौल से चिंतित थी। बुधवार को पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा रोहतक स्थित अपने आवास पर पहुंचे और कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। पत्रकारों से बातचीत में पूर्व सीएम ने कहा कि प्लाट आवंटन मामले को लेकर उन्होंने ही विधानसभा में जांच की मांग उठाई थी और इस मामले में कोई भी गलत काम नहीं किया गया, जिस तरह से कार्रवाई चल रही है, वह राजनीति से प्रेरित है। वहीं भाजपा महामंत्री अनिल जैन ने कल फरीदाबाद में हुडा पर हमला बोलते हुए कहा कि पूर्व सीएम हुड्डा ने अपने कार्यकाल में जमकर प्रॉपर्टी डीलिंग की और मैडम को खुश करने के सिवा कुछ नहीं किया | 

Friday, April 14, 2017

बेईमानों के आएंगे बुरे दिन, BJP का कार्यकर्ता भी बन सकता है CM, PM, गोयल

बेईमानों के आएंगे बुरे दिन, BJP का कार्यकर्ता भी बन सकता है CM, PM, गोयल

Chandigarh 14 April 2017:  केंद्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल कल हरियाणा के रोहतक जिले में कार्यकर्ताओं की नब्ज टटोलने पहुंचे थे जहां भाजपा कार्यकर्ताओं ने वही पुराना दुखड़ा बयां किया कि प्रदेश में भाजपा की सरकार है लेकिन प्रदेश के अधिकारी तानाशाही रवैय्या अपनाते हैं और कार्यकर्ताओं की नहीं सुनी जाती |  केन्द्रीय मंत्री ने कार्यकर्ताओं की बात तो सुनी, लेकिन कहा कि वे उनसे सहमत नहीं हैं। उत्तरप्रदेश का उदाहरण देते हुए गाेयल ने कहा कि बेईमान लोग लम्बे समय तक नहीं टिक सकते। सही काम के लिए पार्टी पूरी तरह कार्यकर्ता के साथ है। देर सवेर हो सकती है, लेकिन कार्यकर्ता की अनदेखी नहीं हो सकती। बीजीपी लोकतांत्रिक पार्टी है और पार्टी के स्टैंड पर कोई भी बात रख सकता है।

पार्टी कार्यकर्ताओं को मूल मंत्र देते हुए पीयूष गोयल ने कहा कि भाजपा ही ऐसी पार्टी है जो परिवारवाद और वंशवाद से दूर है और छोटे से छोटा कार्यकर्ता भी प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री बन सकता है। प्रदेश में अभी लोकसभा चुनाव में दो वर्ष का समय बाकी है, लेकिन भाजपा ने अभी से मिशन 2019 की शुरुआत कर दी है। उन सीटों पर ध्यान दिया जा रहा है, जिस पर वर्ष 2014 में भाजपा को शिकस्त मिली थी। केन्द्रीय मंत्री ने रोहतक लोकसभा क्षेत्र से हार के कारणों के बारे में कार्यकर्ताओं से चर्चा की। इस दौरान पार्टी के वरिष्ठ नेता और कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Friday, January 27, 2017

जाट आंदोलन: रोहतक में धारा 144  लागू, खुले में डीजल पेट्रोल की बिक्री पर प्रतिबन्ध लगाया

जाट आंदोलन: रोहतक में धारा 144 लागू, खुले में डीजल पेट्रोल की बिक्री पर प्रतिबन्ध लगाया

चंडीगढ़, 27 जनवरी- रोहतक के जिलाधीश श्री अतुल कुमार ने सभी पैट्रोल पम्प आदि पर धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर खुले रूप में पैट्रोल व डीजल सहित अन्य ज्वलनशील पदार्थ बेचने पर प्रतिबंध लगा दिया है। जिलाधीश द्वारा जनहित में ऐसे आदेश जारी किए गए हैं। 
     जारी आदेशों में कहा गया है कि रोहतक जिला में पैट्रोल पम्प इत्यादि द्वारा खुला पैट्रोल/डीजल व ज्वलनशील पदार्थ की बिक्री से क्षेत्र की शांति बिगड़ सकती है और आम जनमानस को हानि हो सकती है। साथ ही इससे कानून व्यवस्था बनाए रखने में भी परेशानी आ सकती है। सभी बातों को ध्यान में रखते हुए क्षेत्र में शांति व कानून व्यवस्था बनाए रखने और आम जनमानस की सुरक्षा सुनिश्चित करने के उद्देश्य से दंड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के तहत खुला पैट्रोल, डीजल व अन्य ज्वलनशील पदार्थ बेचने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। पुलिस अधीक्षक व जिला खाद्य एवं पूर्ति नियंत्रक को आदेशों की पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं।



चंडीगढ़, 27 जनवरी- रोहतक जिला प्रशासन ने हिदायत जारी कर जिला के सभी केबल आप्रेटरों, पत्रकारों व टीवी चैनलों को किसी भी प्रकार की आपत्तिजनक भाषा व चलचित्र आदि का प्रसारण नहीं करने की सलाह दी है। पुलिस व प्रशासन की ओर से जारी दिशा-निर्देशों मेें कहा गया है कि जाट जागृति सेना और अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति द्वारा प्रस्तावित धरना प्रदर्शन व अन्य धरना प्रदर्शन को देखते हुए कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने व सरकारी सम्पत्ति और आम जनमानस को नुकसान से बचाए रखने के लिए व्यापक कदम उठाने की आवश्यकता है। इसको ध्यान में रखते हुए सभी टीवी चैनल व केबल आप्रेटरों और पत्रकारों को जाट आरक्षण के धरना प्रदर्शन से संबंधित किसी भी प्रकार की आपत्तिजनक भाषा व चलचित्र इत्यादि का प्रसारण नहीं करने की सलाह दी जाती है। 

Friday, January 13, 2017

राष्ट्रीय युवा महोत्सव के आयोजन की मेजबानी हरियाणा को दे दो मोदी जी, खट्टर

राष्ट्रीय युवा महोत्सव के आयोजन की मेजबानी हरियाणा को दे दो मोदी जी, खट्टर

चंडीगढ़,  13 जनवरी- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि पंजाब चुनाव में प्रचार-प्रसार पार्टी का काम है। पार्टी जिसे जो जिम्मेदारी सौंपेगी वह उसे पूर्ण ईमानदारी व कर्मठता से निभाएगा। एसवाईएल पर पूछे गये एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि यह कोई चुनावी मुद्दा नहीं है और एसवाईएल पर हरियाणा अपना रूख स्पष्ट करते हुए पक्ष रख चुका है।

      वे आज रोहतक में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने लोहड़ी एवं मकर सक्रांति पर्व की बधाई देते हुए कहा कि हाल ही में गुरुग्राम में प्रवासी सम्मेलन का सफल आयोजन किया गया, जिसमें करीब 35 देशों के प्रवासी भारतीयों ने हिस्सा लिया। सम्मेलन के दौरान 24 एमओयू किये गये, जिससे लगभग 20 हजार करोड़ रुपये का निवेश हरियाणा में होगा। इसका लाभ प्रदेश और प्रदेशवासियों को मिलेगा, जिससे रोजगार के अवसरों में भी बढ़ोतरी होगी। 

इससे पूर्व, जाट कालेज रोहतक  में आयोजित शिल्पकला प्रदर्शनी का शुभारंभ करते हुए उन्होंने कहा कि देश की एकता एवं अखंडता बनाये रखने के लिए राष्ट्रीय युवा महोत्सव  सरीखे कार्यक्रमों आयोजन अति आवश्यक है। उन्होंने कहा कि इससे देश के विभिन्न राज्यों के युवाओं को एक-दूसरे से मिलकर सांस्कृतिक आदान-प्रदान का अवसर मिलता है, जिससे सौहार्द और आपसी भाईचारे को मजबूती मिलती है। 

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से निवेदन किया था कि इस बार राष्ट्रीय युवा महोत्सव के आयोजन की मेजबानी हरियाणा को दी जाये। प्रधानमंत्री ने इस मांग को स्वीकारा जिसके लिए वे प्रधानमंत्री मोदी के आभारी हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा अपना स्वर्ण जयंती वर्ष मना रहा है, जिससे 21वें राष्ट्रीय युवा महोत्सव का आयोजन महत्वपूर्ण है। देश के अलग-अलग राज्यों से करीब 5000 महिला-पुरुष कलाकार अपनी कला का प्रदर्शन करने के लिए महोत्सव में आये हैं। एक ही स्थान पर विभिन्न राज्यों के युवाओं का एकत्रित होना काफी महत्व रखता है। 
इस दौरान मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने नेहरू युवा केंद्र के संयोजन में आयोजित प्रदर्शनी का अवलोकन किया। उन्होंने प्रदर्शनी में शिल्पकला को बढ़ावा देते कलाकारों से भेंट भी की। विभिन्न राज्यों की स्टॉलों का अवलोकन करते हुए उनके उत्पादों के विषय में जानकारी ली। इसके उपरांत उन्होंने कौशल विकास को दर्शाती प्रदर्शनी का अवलोकन किया। मुख्यमंत्री ने परिसर में आयोजित भोजन उत्सव का भी जायजा लेते हुए एडवेंचर्स गेम्स परिसर का भी अवलोकन किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कलाकारों व शिल्पकारों को युवा महोत्सव की बधाई देते हुए उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं भी दी। 
इस मौके पर सहकारिता राज्य मंत्री मनीष ग्रोवर, डॉ० के.के. खंडेलवाल सहित अन्य अधिकारीगण व गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे। 

Monday, October 17, 2016

काली दीवाली मनाएंगे जाट, कहा सिर्फ वित्त मंत्री की कोठी की ही जांच CBI से क्यू?

काली दीवाली मनाएंगे जाट, कहा सिर्फ वित्त मंत्री की कोठी की ही जांच CBI से क्यू?


चंडीगढ़ 17 October 2016: फरवरी में जाट आंदोलन के दौरान लगभग 31 मौतें भी हुईं थीं लेकिन  सीबीआई जांच सिर्फ वित्त मंत्री के कोठी की ये बात कुछ हजम नहीं हुई । अखिल भारतीय जाट आरक्षण समिति ने तीन मामलों की सीबीआई जांच पर सवाल खड़ा करते हुए कहा है कि हरियाणा सरकार को 31 मृत बेकसूर युवकों का ख्याल नहीं आया सिर्फ उन्हें वित्त मंत्री की कोठी प्यारी लग रही है ।

  समिति ने कहा  है कि हम उन युवकों को कभी नहीं भूल सकते इसलिए इस साल काली दीवाली मनाएंगे । रोहतक के छोटूराम धर्मशाला में हुई बैठक में ये निर्णय लिया गया । समिति उन युवकों की रिहाई भी चाहती है जो जेलों में बंद हैं । समिति काली दीवाली मनाकर सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन करेगी । 

Monday, October 10, 2016

झाड़ियों में चलाते थे सेक्स रैकेट, दिल्ली से लाते थे कालगर्ल, 4 दबोचे गए

झाड़ियों में चलाते थे सेक्स रैकेट, दिल्ली से लाते थे कालगर्ल, 4 दबोचे गए


रोहतक हरियाणा: लोग पैसे कमाने के लिए तरह तरह के हथकंडे अपनाते हैं सोंचते हैं नए नए हथकंडे पुलिस की पहुँच से बाहर होंगे लेकिन गलत काम गलत होता है और एक न एक दिन गलत  कामों का भंडाफोड़ जरूर होता है । हरियाणा के रोहतक जिले में चार लोग गिरफ्तार किये गए हैं जिन पर जिस्मफरोशी के धंधे का आरोप है । एक जानकारी के मुताबिक दिल्ली से कालगर्ल लाकर  झाड़ियों में उनसे सेक्स का धंधा करवाते हैं । रोहतक पुलिस ने एक महिला दलाल को भी गिरफ्तार किया है ।


पुलिस के अनुसार ड्रेन नंबर-8 के किनारे झाड़ियों में जिस्मफरोशी की सूचना मिली थी जिसके बाद पुलिस ने एक ASI को फर्जी ग्राहक बना कर भेज और एक हजार की नोट थमाते थे इशारा किया तो महिला पुलिस ने महिला दलाल को दबोच लिया । पुलिस ने उसी समय आस पास देखा तो नहर के किनारे झाड़ियों में एक काल गर्ल के साथ दो युवक आपत्तिजनक हालात में दिखे पुलिस ने चारों को दबोच कर कोर्ट में पेश किया जहाँ से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया ।

पुलिस ने कालगर्ल व् महिला  दलाल से पूंछतांछ की तो पता चला रोहतक में कई  जगह ये धंधा फलफूल रहा है और अधिकतर कालगर्ल दिल्ली से लाइ जाती हैं ।


Tuesday, October 4, 2016

फेसबुक पर नेताओं को गाली के आरोप में हरियाणा के युवक पर देशद्रोह का मामला दर्ज

फेसबुक पर नेताओं को गाली के आरोप में हरियाणा के युवक पर देशद्रोह का मामला दर्ज

Chandigarh 04 October 2016: हरियाणा के रोहतक जिले के एक युवक पर देश द्रोह का मामला दर्ज किया गया है । युवक पर आरोप है कि वो फेसबुक पर नेताओं को गाली दे रहा है अपशब्द लिख रहा था । युवक ने फेसबुक पोस्ट में जाट आरक्षण को लेकर अभद्र भाषा लिख साम्प्रदायिक तनाव बढ़ाने तथा  देवी देवताओं के खिलाफ भी अभद्र टिप्पणियां की थी । रोहतक के कबीर कालोनी में रहने वाले इस युवक को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस लगातार दबिश दे रही है । 

चंडीगढ़ से ख़ुफ़िया विभाग को सूचना मिली थी कि युवक ने अपने फेसबुक वाल पर माहौल बिगाड़ने वाले शब्द लिखे हैं साथ में नेताओं को अपशब्द कहा है जिसके बाद अर्बन स्टेट पुलिस की टीम गठित की गई और कल से उसे गिरफ्तार करने के लिए दबिश दी जा रही है । अर्बन स्टेट थाना प्रभारी देवेंद्र कुमार ने बताया कि पुलिस उस युवक की तलाश में जुटी है । उन्होंने बताया कि उस पोस्ट को जिन्होंने लाइक किया है उन सबसे पूंछतांछ की जाएगी । साइबर सेल भी इस मामले की जांच में जुटा है । 

Wednesday, September 21, 2016

फट गया 3 बहनों का कलेजा, इकलौते भाई ने तोडा डेंगूं से दम, नौटंकी में व्यस्त है खट्टर सरकार

फट गया 3 बहनों का कलेजा, इकलौते भाई ने तोडा डेंगूं से दम, नौटंकी में व्यस्त है खट्टर सरकार


Chandigarh 21 September 2016: हरियाणा सरकार एक महीने बाद बड़ी नौटंकी करने जा रही है । ये सरकार अपने कार्यकाल में नौटंकियों का विश्व रिकार्ड ध्वस्त करने वाली है हाँ इस कार्यकाल के बाद सम्भव है पूरी ध्वस्त हो जाए क्यू कि जनता को नौटंकी नहीं विकास चाहिए लेकिन खट्टर को नौटंकियां करने का निर्देश पता नहीं कौन दे रहा है जिस वो एक के बाद एक नौटंकी  करने के व्यस्त रहते हैं ।

 प्रदेश की जनता ने दो साल पहले विधानसभा चुनावों में भाजपा को दिल खोलकर वोट दिया था लेकिन इस सरकार ने कई जिलों को सड़ा डाला अब प्रदेश में डेंगू चिकनगुनिया का आतंक है गरीब हों या अमीर सब इन बीमारियों से पीड़ित हैं । 

प्रदेश में इन बीमारियों ने कई मौते हो चुकी हैं प्रदेश के हेल्थ मिनिस्टर अनिल विज बयान पर बयान देते रहते हैं । ताजा जानकारी के अनुशार कल प्रदेश के रोहतक जिले में 19 वर्षीय युवक ने डेगूं से दम तोड़ दिया जो रोहतक पीजीआई में दो दिन से भर्ती था । आकाश नमक इस युवक को उन्नीस सितंबर को बुखार आया परिजन उसे पीजीआई ले गए जहाँ कल उसने दम तोड़ दिया । 

दम तोड़ने वाला युवक गरीब परिवार से था पिता मजदूरी करते थे बीकॉम द्वितीय वर्ष का छात्र था । सबसे दुःख की बात तो ये है कि युवक तीन बहनों का इकलौता भाई था । अब तीनो बहनों का रो रो कर बुरा हाल है अब किस भाई को राखी बांधेंगी, कौन सुख दुःख में उनका साथ देगा ये सोंच सोंच कर बहनो का कालेज फट जा रहा है । 

Sunday, September 18, 2016

चलती कार में गैंगरेप, निगेटिव निकला 5 युवकों का DNA टेस्ट, क्या झूंठी थी कालेज छात्रा

चलती कार में गैंगरेप, निगेटिव निकला 5 युवकों का DNA टेस्ट, क्या झूंठी थी कालेज छात्रा


Chandigarh 18 September 2016: हरियाणा के रोहतक गैंगरेप केस में नया मोड़ आ गया है इस मामले में हिरासत में लिए गए पाँचों आरोपियों के डीएनए टेस्ट की रिपोर्ट निगेटिव आई है जिस कारण कई सवाल उठ रहे हैं कि क्या कालेज छात्रा ने इन्हें फंसाने के लिए झूंठा आरोप लगाया था । 

मालुम हो कि जुलाई में भिवानी जिले की एक छात्रा ने आरोप लगाया था कि चलती कार में उसके साथ गैंगरेप किया गया था । ये छात्रा रोहतक के एक कालेज में एम् काम कर रही है यहाँ किराए पर रहकर पढ़ाई कर रही है । तेरह जुलाई को ये छात्रा कालेज के लिए घर से निकली शाम घर नहीं पहुँची बाद में सुखपुरा चौक के पास झाड़ियों में पडी मिली थी । 

छात्रा को अस्पताल ले जाया गया था होश आने के बाद उसने बताया था कि उसके साथ गैंगरेप हुआ है और गैंगरेप करने वाले वही लोग हैं जो तीन साल पहले उसके साथ गैंगरेप कर चुके हैं । जिसके बाद पांचो आरोपी गिरफ्तार किये गए थे डीएनए टेस्ट करवाया गया था अब रिपोर्ट आई है जिसमे टेस्ट निगेटिव आये हैं । 

Sunday, August 28, 2016

यशपाल मलिक में बाद आज रोहतक में दहाड़ेंगे राजकुमार सैनी, पुलिस सतर्क

यशपाल मलिक में बाद आज रोहतक में दहाड़ेंगे राजकुमार सैनी, पुलिस सतर्क


Rohtak 28 August 2016 : कुछ माह म्हारा प्यारा हरियाणा धू धू कर खूब जला तीन दर्जन लोग इस आग में जल गए तीस हजार करोड़ स्वाहा हो गए जिनका घर जला दुकाने जलीं, जिनके घर के चिराग बुझे वो फरवरी के उन दिनों को ताउम्र नहीं भूल पाएंगे । 
कल रोहतक में भाईचारा रैली थी हजारों एकत्रित हुए और रैली के वक्ताओं के संबोधनों से ऐसा लगा कि नाम भाईचारा रैली का था उद्धेश्य सिर्फ एक था आरक्षण चाहिए । 
आज रोहतक में ही कुरुक्षेत्र के सांसद राजकुमार सैनी समानता रैली को संबोधित करेंगे और सूत्रों की माने तो हरियाणा पुलिस इस रैली पर विशेष निगाह रख रही है रैली में किसी तरह के भड़काऊ बयान न दिये जाने की हिदायत दी गयी है। गौर हो कि जाटों ने रैली को निरस्त करने के लिए आईजी से भी मुलाकात की थी। इस बीच, शनिवार को आईजी व एसपी ने सुरक्षा प्रबंधों का जायजा लिया। उधर, आयोजकों का दावा है कि रैली में बीस हजार से अधिक लोग शिरकत करेंगे।
कल जाटों की रैली पूरी तरह सफल रही थी देखना है आज सैनी की रैली कैसे होती है । जाट नेताओं की नजर भी इस रैली पर टिकी है । 

ये आग कुछ घटिया नेताओं की देन है, घटिया राजनीति का परिणाम है, खट्टर सरकार की असफलता भी दिखी, उनकी कुर्सी हिलाने का प्रयास भी किया गया, उनके कुछ अपने भी इस आग के जिम्मेदार हैं ।