Showing posts with label Sonipat News. Show all posts
Showing posts with label Sonipat News. Show all posts

Saturday, July 15, 2017

विश्व देख रहा हिंदुस्तान की ओर-देश की निगाहें हरियाणा पर: मंत्री विपुल गोयल

विश्व देख रहा हिंदुस्तान की ओर-देश की निगाहें हरियाणा पर: मंत्री विपुल गोयल

सोनीपत, 15 जुलाई।  उद्योग एवं वाणिज्य तथा कौशल विकास मंत्री विपुल गोयल ने कहा कि भारत विश्व का सबसे युवा देश है, जिस पर पूरी दुनिया की नजरेंं टिकी हैं। जबकि देश की निगाहें हरियाणा पर लगी हुई हैं कि यहां का युवा कौशल विकास के बूते किन ऊंचाइयों पर पहुंचेगा। उन्होंने कहा कि कौशल विकास के बल पर सफलता हासिल की जा सकती है। 

उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री विपुल गोयल शनिवार को आईटीआई सोनीपत में आयोजित विश्व युवा कौशल दिवस के आयोजन एवं दो दिवसीय रोजगार मेले के समापन समारोह में उपस्थित युवाओं को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आज का दिन भारत के लिए गर्व का दिन है। आज विश्व स्तर पर कौशल विकास दिवस मनाया जा रहा है, जिसका श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है। प्रधानमंत्री के प्रयासों के फलस्वरूप ही योग दिवस का आयोजन भी विश्व स्तर पर किया जाने लगा है। योग हिंदुस्तान की धरोहर है, जिससे देश का मान-सम्मान पूरी दुनिया में बढ़ा है। 
उद्योग मंत्री ने कहा कि हाल ही में उन्होंने फरीदाबाद में रोजगार मेला लगवाया, जिसमें 2000 से अधिक आवेदक आये व 500 से अधिक युवाओं को रोजगार मिला। इसके बाद पलवल मेंं रोजगार मेले का सफल आयोजन किया गया। इन सफलताओं के बाद मुख्यमंत्री ने सोनीपत  में भी रोजगार मेले की अनुमति दी। यहां हजारों युवाओं का रोजगार देने के लिए चयन किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने युवाओं को कौशल विकास में प्रशिक्षित करने का जो प्रयास किया है उसमें सफलता मिल रही है। आज के दौर में इसकी आवश्यकता महसूस की जा रही है। हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रधानमंत्री के स्वप्र को साकार करने की दिशा में विशेष कदम बढ़ाये हैं। मुख्यमंत्री का प्रयास है कि हर व्यक्ति को हर घर में रोजगार प्रदान किया जाये। कौशल विकास की दिशा में लाखों युवाओं को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। 

उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री ने कहा कि आईटीआई में विभिन्न प्रकार के प्रशिक्षणों को बढ़ावा दिया जा रहा है। युवाओं को दक्ष बनाया जा रहा है ताकि उनकी मांग विदेशों में भी हो। आईटीआई में सबको प्रशिक्षण देने की व्यवस्था की गई है। अब आईटीआई के युवा केवल कुशल कारीगर व मजदूर ही नहीं अपितु स्नातक व स्नातकोत्तर भी बनेंगे। इस दौरान उन्होंने विश्व कौशल दिवस व रोजगार मेले के सफल आयोजन पर बधाई देते हुए कहा कि भविष्य में भी रोजगार मेले आयोजित किये जाते रहेंगे। उन्होंने रोजगार मेले में रोजगार प्राप्त करने वाले युवाओं को भी बधाई दी। 

शहरी स्थानीय निकाय तथा महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन ने विश्व कौशल दिवस की बधाई देते हुए कहा कि युवा शक्ति के सहारे ही भारत पुन: विश्वगुरू की उपाधि ग्रहण करेगा। भाजपा सरकार का प्रयास है कि युवाओं की शक्ति एवं ऊर्जा का सार्थक उपयोग किया जाए। भारत विकासशील देश है जिसकी सबसे बड़ी ताकत उसके युवा हैं जो देश को नंबर-1 स्थान दिलाएंगे। उन्होंने पूर्व सरकार पर कटाक्ष किया कि देश की आजादी को 70 वर्ष हो चुके हैं किंतु आज भी युवा दर-दर की ठोकर खा रहे हैं, क्योंकि पूर्व सरकार ने शिक्षा व रोजगार के लिए कोई कारगर योजना नहीं बनाई। युवाओं को रोजगार देने के लिए मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने राज्य में कौशल विकास मिशन की स्थापना की है। हरियाणा को कौशल राज्य बनाना है, जिसके तहत पलवल में कौशल विकास विश्वविद्यालय की स्थापना की गई है। उन्होंने कहा कि युवाओं को प्रशिक्षण देने के लिए 76 ट्रेड चिन्हित की गई हैं जिनके सहारे वे स्व-रोजगार की ओर सरलता से बढ़ सकेंगे। 

सांसद रमेश कौशिक ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कौशल विकास का जो स्वप्र देखा था आज उसकी दूसरी वर्षगांठ हैं। देश-प्रदेश से बेरोजगार कैसे खत्म हो, इसके लिए प्रधानमंत्री सहित मुख्यमंत्री व मंत्री विपुल गोयल प्रयासरत हैं। उन्होंने कहा कि सोनीपत रोजगार-हब के रूप में विकसित हो रहा है जिसका लाभ युवाओं को मिलेगा। उन्होंने कहा कि इसके लिए औद्योगिक इकाइयों को बढ़ावा दिया जा रहा है। उन्होंने युवाओं का आह्वान किया कि वे काम करने की आदत डालें। उन्होंने कहा कि गन्नौर में रेलवे कोच फैक्टरी का निर्माण किया जाएगा, जिसे यहां लाने में मंत्री विपुल गोयल ने विशेष मदद की है। इसके लिए वे उनके आभारी हैं। फैक्टरी की स्थापना से यहां रोजगार के अवसरों का सृजन होगा। 

इस मौके पर भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी राजीव जैन ने कहा कि आईटीआई का प्रशिक्षण पूर्ण करने वाले युवाओं को आज रोजगार मेले के माध्यम से प्लेसमेंट मिली है। ऐसे युवाओं को बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि हरियाणा में पांच मॉडल आईटीआई निर्मित की जानी हैं, जिनमें से एक मॉडल आईटीआई सोनीपत के हिस्से में आई है। इसके लिए उन्होंने मंत्री विपुल गोयल का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इसका लाभ युवाओं को मिलेगा। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार जनकल्याण के उद्देश्य को लेकर आगे बढ़ रही है। 
इस दौरान युवाओं को एप्रेंटिस नियुक्ति पत्र तथा प्लेसमेंट प्रमाणपत्र भी सौंपे गये। सक्षम युवाओं को भी प्रमाणपत्र दिये गये। राज्य स्तरीय प्रतियोगिता एवं राज्य स्तरीय प्रदर्शनी के विजेताअेां को भी पुरस्कृत किया गया। साथ ही राष्ट्रीय उद्यमी प्रोत्साहन योजना के तहत उद्योगपतियों को भी चैक वितरित किया गये। इस मौके पर कविता चौधरी, गुलशन ठेकेदार, नवीन मंगला, मनिंद्र सन्नी, निशांत छोक्कर, सुनीता लोहचब, निदेशक पंकज सिंह, कांता सिंह, उपायुक्त के. मकरंद पांडुरंग, सोनिया आदि मौजूद थे। 

Sunday, March 26, 2017

सरकारी एजेंट बनकर जाट समाज को धोखा दे रहे हैं यशपाल मलिक, जाट नेता दहिया

सरकारी एजेंट बनकर जाट समाज को धोखा दे रहे हैं यशपाल मलिक, जाट नेता दहिया

चंडीगढ़/ सोनीपत: जाट संघर्ष समिति हरियाणा के प्रदेश अध्यक्ष  मूलचंद दहिया ने कल  अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक पर आरोप लगाया कि वे सरकार के एजेंट की तरह काम कर रहे हैं। दहिया के  मुताबिक फतेहाबाद के एसपी के खिलाफ टिप्पणी के मामले में मलिक का विरोध कर रहे कथूरा गांव वासियों पर सरपंच की ओर से कथित रूप से दबाव बनाने का प्रयास किया गया है। दहिया ने कहा कि  यह सब यशपाल मलिक के इशारे पर हो रहा है। 

उन्होंने कहा कि मलिक ने हरियाणा के जाट समाज को धोखा दिया है। दहिया ने कहा कि  मलिक ने धरने से हटने की जो शर्तें रखी थी, वे पूरी नहीं हुई और धरने हटा लिए गए वहीं 18 मार्च की रात को केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह के आए फोन पर अगले दिन ही दिल्ली में बैठकर समझौता कर लिया। वहीं जाट संघर्ष समिति के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष राजेश दहिया ने कहा कि मलिक के इशारे पर कार्य करने वाले कथूरा गांव के सरपंच के खिलाफ समिति ने नोटिस भेजा है।

Sunday, December 11, 2016

फरीदाबाद, गुरुग्राम से ज्यादा तरक्की करेगा सोनीपत, खट्टर

फरीदाबाद, गुरुग्राम से ज्यादा तरक्की करेगा सोनीपत, खट्टर

चंडीगढ़, 11 दिसंबर- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि आने वाले समय में सोनीपत जिला गुरुग्राम और फरीदाबाद से भी अधिक तरक्की करेगा। एक ओर जहां कुण्डली तक मैट्रो आएगी वहीं दूसरी ओर जिले से गुजरने वाले कुण्डली-मानेसर-पलवल (केएमपी) एक्सप्रेस वे बनेगा, जिसके दोनों ओर बड़े-बड़े उद्योग लगेंगे और उनका सबसे अधिक लाभ इसी इलाके के लोगों को मिलेगा। 

    उन्होंने यह बात कल सोनीपत जिला की बरोदा विधानसभा की हलका विकास रैली को संबोधित करते हुए कही। गोहाना की नई सब्जी मंडी में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने बरोदा विधानसभा क्षेत्र के विकास के लिए 161 करोड़ रुपए की घोषणाएं की। इस अवसर पर हरियाणा की शहरी स्थानीय निकाय व सूचना, जनसम्पर्क एवं भाषा मंत्री श्रीमती कविता जैन तथा सोनीपत के सांसद श्री रमेश कौशिक भी उपस्थित रहे। बरोदा से गत विधानसभा चुनावों में भाजपा प्रत्याशी रहे दादा बलजीत सिंह मलिक रैली के संयोजक थे।  

    श्री मनोहर लाल ने विमुद्रीकरण के जरिए देश में भ्रष्टाचार, काले धन की अर्थव्यवस्था पर बड़ा प्रहार करने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को लौह पुरुष की संज्ञा दी। हरियाणा में भाजपा की सरकार बनने के बाद पारदर्शी व भ्रष्टाचार मुक्त व्यवस्था लाने के लिए हमने अनेक प्रयास किए थे, लेकिन 8 नवंबर की रात 8 बजे प्रधानमंत्री के निर्णय ने सौ सुनार की, एक लुहार की कहावत को साबित कर दिखाया। उन्होंने जनसभा में आए लोगों से नकदी रहित खरीददारी व अन्य लेन-देन करने की दिशा में आगे बढऩे की बात कहते हुए बताया कि मोबाइल के जरिए आप ई-वैलेट, पेटीएम या अन्य बैंकिंग संस्थानों के एप के जरिए आसानी से बाजार में खरीददारी कर सकते हैं। दुनिया बदल रही है, ऐसे में हमें भी नए तौर तरीके अपनाने होंगे। उन्होंने कहा कि कैशलेस व्यवस्था से आपको सब मालूम हो जाएगा कि किसकी कितनी कमाई है, कौन कितना टैक्स भरता है और किसने चोरी की है। उन्होंने नकदी रहित व्यवस्था को आगे बढ़ाने के लिए नौजवानों के सहयोग का आह्वान भी किया। रूपे कार्ड के जरिए भुगतान करने से तो न तो जेब कटेगी बल्कि कमीशन की व्यवस्था समाप्त होगी और छूट भी मिलेगी। 

    मुख्यमंत्री ने कहा कि दो वर्ष पहले जब आपने हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी के प्रति जो विश्वास, प्रेम, अपेक्षाएं और आकांक्षाएं दिखाई थी तो उस समय हरियाणा की अढ़ाई करोड़ जनता के लिए काम करने के हमने भी अरमान संजोए थे। आज यह बात गर्व के साथ कही जा सकती है कि इसी 25 दिसंबर तक वे हरियाणा की सभी 90 विधानसभा क्षेत्रों का दौरा पूरा करेंगे। दो वर्षों में हर हलके में जाना एक बड़ी उपलब्धि है। जबकि पहले भी मुख्यमंत्री हुए है लेकिन पहले दो वर्षों में राज्य के हर क्षेत्र में कोई नहीं गया, गए तो सिर्फ चुनाव के वर्ष में। 
  
  मुख्यमंत्री ने कहा कि 31 मार्च, 2017 तक हरियाणा केरोसिन मुक्त होगा। भारत और हरियाणा सरकार 
मिलकर छह लाख परिवारों को रियायती दरों पर गैस सिलेंडर उपलब्ध कराएगी। उन्होंने कहा कि राशन वितरण प्रणाली को आधार कार्ड से जोडऩे पर पांच लाख ऐसे परिवारों की पहचान हुई, जो एलपीजी के साथ-साथ मिट्टी के तेल पर सब्सिडी ले रहे थे। हैरानी की बात तो तब हुई जब ऐसे परिवारों को पात्र सूची से बाहर करने पर किसी प्रकार का विरोध भी नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि ई-गवर्नेंस की दिशा में वर्तमान सरकार ने राज्य में अनेक कदम उठाए है, जिनका लाभ राज्य के लोगों को मिल भी रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य के विकास के लिए इस बार बजट में 28 फीसदी की बढ़ोतरी करते हुए 88 हजार करोड़ रुपए किया गया। 

    मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के नौजवानों को रोजगार देने के लिए निवेशकों को हरियाणा में आमंत्रित किया गया है। राज्य सरकार ने अब तक सात लाख करोड़ रुपए के 550 एमओयू निवेशको के साथ किए है। हुनर से स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए राज्य में कौशल विकास मिशन बनाया गया तथा पलवल में कौशल विकास यूनिवर्सिटी भी खोली जा रही है। उन्होंने बताया कि केवल सरकारी नौकरियों से ही रोजगार की पूर्ति नहीं हो सकती। इस समय पचास हजार पदों की भर्ती प्रक्रिया जारी है। उन्होंने हरियाणा लोक सेवा आयोग(एचपीएससी) के माध्यम से मेरिट के आधार पर इंटरव्यू के दिन ही नतीजे घोषित करने का जिक्र करते हुए कहा कि नौकरियों के मामले में कायम भाई-भतीजावाद और क्षेत्रवाद की परिपाटी अब समाप्त हो चुकी है। मुख्यमंत्री ने रैली में उपस्थित लोगों से सीधा संवाद कायम करते हुए पूछा कि इस प्रक्रिया को लेकर आपका अनुभव अच्छा रहा है तो हाथ उठाइए तो अनेक लोगों ने हाथ उठाकर मुख्यमंत्री का समर्थन किया। 

    
मुख्यमंत्री ने की घोषणाएं एवं उद्घाटन

    मुख्यमंत्री ने रैली को संबोधित करने से पहले गांव गंगेसर में करीब 40 लाख रुपए की लागत से बने ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन परियोजना का भी उद्घाटन किया। मुख्यमंत्री का गोहाना आगमन पर आयोजकों ने पगड़ी बांध कर व शॉल ओढा कर स्वागत किया। रैली में उमड़ी भीड़ से उत्साहित मुख्यमंत्री ने बरोदा के विकास के लिए रिकार्ड तोड़ घोषणाएं की। जिनमें कलानौर ब्रांच से न्यू कैहल्पा माइनर बरोदा ठुठान तक निकालने के लिए 9 करोड़ रुपए, गांव बिलबियान, गंगाना, कथूरा माइनर आदि से संबंधित पुल व अन्य कार्यों के लिए तीन करोड़ रुपए, गांव बली ब्राह्मण, बिलबिलान, छपरा, माहरा, बुसाना, भैंसवाल कलां आदि गांवों में खेल स्टेडियम के लिए 18 करोड़ रुपए, गांव छिछड़ाना, रिंढाणा, भैंसवाल कलां में कबड्डी हॉल तथा छतैहरा में स्टेडियम हॉल व अन्य गांवों में खेल परियोजनाओं के लिए 6.5 करोड़ रुपए, हलके की 17 सडक़ों के लिए 58 करोड़ रुपए, आहूलाना में पीएचसी निर्माण, रूखी व बुटाना कुण्डू आदि गांवों में स्वास्थ्य सेवाओं व  विभिन्न गांवों में पीने के पानी के लिए साढ़े पांच करोड़ रुपए, हरियाणा कृषि विपणन बोर्ड के माध्यम से सडक़ों के निर्माण व मरम्मत के लिए सात करोड़ रुए, हलके के 10 गांवों में व्यायामशालाओं के लिए 5.68 करोड़ रुपए, विभिन्न गांवों में शिक्षण संस्थाओं की मरम्मत व निर्माण के लिए पौने दो करोड़ रुपए आदि घोषणाएं की। इसके अतिरिक्त हलके के विकास के लिए 15 करोड़ रुपए देने की भी मुख्यमंत्री ने घोषणा की।

Thursday, October 20, 2016

खट्टर चिल्लाते रहते हैं न खाऊंगा न खाने दूंगा, खनन माफिया खा गए सोनीपत में यमुना

खट्टर चिल्लाते रहते हैं न खाऊंगा न खाने दूंगा, खनन माफिया खा गए सोनीपत में यमुना



Chandigarh 20 October 2016: पैसा  देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को प्यारा नहीं है, हरियाणा के मुख्यमंत्री को प्यारा नहीं है लेकिन इनके मंत्रियों, विधायकों, अधिकारियों को बहुत प्यारा सा लगता है तभी सब कुछ जारी है । सरकारें भ्रष्टाचार के खात्मे का लाख दावा करें लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और है । हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल बार बार कहते हैं न खाऊंगा न खाने दूंगा, ये संबोधन उनका जुमला बन गया है लेकिन लगता है कि मुख्यमंत्री ये खुद के लिए और हरियाणा की जनता के लिए कहते हैं इनके मंत्रियों विधायकों और अधिकारियों पर ये जुमला लागू नहीं है तभी प्रदेश में अवैध खनन, अवैध अतिक्रमण, हफ्ता वसूली सब जारी है । 

हरियाणा अब तक  को मिली जानकारी के मुताब सोनीपत के कुछ माफियाओं ने यमुना का रास्ता ही बदल दिया है और एनजीटी के आदेश को ठेंगा दिखाते हुए यमुना में अवैध खनन जारी है । इन रेत माफियाओं ने इतना अवैध खनन किया किया कि यमुना के बहाव का रुख ही बदल दिया । इन माफियाओं ने यमुना का रुख इसलिए बदला ताकि बारिश के सीजन में यमुना से अधिक रेत निकाल सकें । इस मामले को खनन विभाग ने लंबे समय तक क्यू दबाये रखा आप सब समझ सकते हैं कि जेबें भर दी गईं होंगी मुह में नोटों की गाड़ियां ठूंस दी गई होंगी । इस मामले का भंडाफोड़ उस समय हुआ जब सिंचाई विभाग को इसकी जानकारी मिली । विभाग ने तुरंत मुरथल थाने जा दो ठेकेदारों पर मुकदमा दर्ज करवाया । 

अब जो जानकारी मिली है उसके अनुसार माइनिंग विभाग पूरे मामले में संलिप्त था सबको चढ़ावा चढ़ा काला कारोबार जारी था  । इस मामले में आनंद ऐंड कंपनी व् जैनराम कंपनी के खिलाफ मामला दर्ज करवाया गया है । खनन विभाग के अधिकारियों पर भी गाज फिर सकती है क्यू कि विभाग ने ठेकेदारों को खुली छूट दे दी थी । संभव है खनन माफिया बच जाएँ जैसे उन्हें चढ़ावा चढ़ाया गया था वैसे वो किसी और को चढ़ावा चढ़ा दें । क्यू  कि सब कुछ संभव है ।